Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजइलाज के बहाने हिंदुओं का धर्मान्तरण, असम से ईसाई मिशनरी Ranjan Chutia गिरफ्तार: देता...

इलाज के बहाने हिंदुओं का धर्मान्तरण, असम से ईसाई मिशनरी Ranjan Chutia गिरफ्तार: देता था पैसों का भी लालच

इलाज और पैसे के लालच के अलावा कुख्यात ईसाई मिशनरी रंजन सूतिया (Ranjan Chutia) धर्म परिवर्तन के लिए श्रीमंत शंकरदेव की धार्मिक और सांस्कृतिक रचनाओं का दुरुपयोग करते हुए...

असम में हिमंत बिस्व सरमा सरकार के धर्मान्तरण के मामले में कड़े रुख के बाद भी चोरी-छिपे धर्मान्तरण कराने की गतिविधियाँ चलाई जा रही हैं। इस बीच राज्य पुलिस ने गुरुवार (29 जुलाई 2021) को कुख्यात ईसाई मिशनरी रंजन सूतिया (Ranjan Chutia) को असम के डिब्रूगढ़ जिले में जबरन धर्म परिवर्तन की गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, डिब्रूगढ़ पुलिस ने ईसाई धर्म प्रचारक रंजन सूतिया को मोरन स्थित उसके चिकित्सा केंद्र से गिरफ्तार किया। धर्म परिवर्तन के लिए श्रीमंत शंकर देव की धार्मिक और सांस्कृतिक कृतियों का दुरुपयोग करने का आरोप रंजन पर है। इस मामले में हिंदू युवा छात्र परिषद ने मोरन थाने में कुख्यात ईसाई धर्म प्रचारक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायतकर्ता का आरोप है कि रंजन सूतिया ने धर्म परिवर्तन के लिए श्रीमंत शंकरदेव की धार्मिक और सांस्कृतिक रचनाओं का दुरुपयोग करते हुए बोरगीत, नाम, घुशा (असमिया धार्मिक भक्ति गीत) को फिर से अपने तरीके से बनाया था। ईसाई मिशनरी ने इन वैष्णव भक्ति गीतों में ईसा मसीह का नाम जोड़ने के लिए गानों को पूरी तरह से बदल दिया था।

रंजन सूतिया समेत दूसरे मिशनरी मिलकर कथित तौर पर ‘वर्ल्ड हीलिंग प्रेयर सेंटर’ नाम से एक प्रार्थना घर चला रहे हैं। यहाँ पर ईसा मसीह की शक्ति से रोगियों को ठीक करने के बहाने उनका ब्रेनवाश किया जाता था। इसके जरिए इन मिशनरियों ने हजारों हिंदुओं का ब्रेनवाश कर उन्हें ईसाई धर्म में परिवर्तित कर दिया।

स्थानीय संगठनों का आरोप है कि रंजन सूतिया ने स्वास्थ्य और आर्थिक मदद के नाम पर हजारों लोगों का धर्मान्तरण करवाया है। हिंदू युवा छात्र परिषद के महासचिव बाबुल बोरा ने राज्य सरकार से मिशनरियों की जघन्य धर्मान्तरण कराने की गतिविधियों को रोकने के लिए इस मामले में हस्तक्षेप करने की माँग की है।

इस बीच, श्रीमंत शंकरदेव की जन्मस्थली बटाद्रव सत्र में मिशनरियों को शंकरदेव की रचनाओं का उपयोग करके निर्दोष लोगों का धर्म परिवर्तन कराने के मामले में कड़ी चेतावनी दी गई है। बटाद्रव सत्र के सत्राधिकारी देवानंद देब गोस्वामी ने ईसाई मिशनरियों के इस कुकृत्य की कड़ी आलोचना करते हुए राज्य सरकार से तत्काल कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

बहारहाल, डिब्रूगढ़ पुलिस ने रंजन सूतिया को गिरफ्तार कर लिया है और उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 153 (A) और 195 (A) के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपित कोरोना पॉजिटिव भी पाया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,642FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe