Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजPM मोदी और उनके साथियों को जेल भिजवाने का कर रहा था ऐलान, अब...

PM मोदी और उनके साथियों को जेल भिजवाने का कर रहा था ऐलान, अब खुद पहुँच गया सलाखों के पीछे: कॉन्ग्रेस का वॉररूम कोऑर्डिनेटर है रीतम सिंह

अपने खिलाफ हुई FIR की जानकारी मिलते ही रीतम ने अपना ट्वीट डिलीट कर लिया था। हालाँकि तब तक पुलिस अपनी कार्रवाई अमल में ला चुकी थी। रीतम के ट्वीट का स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

भारत के गृह मंत्री अमित शाह का डीपफेक वीडियो शेयर करने के आरोप में असम पुलिस ने एक कॉन्ग्रेस नेता को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार कॉन्ग्रेसी का नाम रीतम सिंह है। रीतम असम में कॉन्ग्रेस के वॉररूम का कॉर्डिनेटर है। इस कार्रवाई की पुष्टि असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने सोमवार (29 अप्रैल, 2024) को की है। अमित शाह का फर्जी वीडियो शेयर करने के दौरान रीतम भाजपा नेताओं को जेल भिजवाने की धमकियाँ भी दे रहा था।

रीतम सिंह ने अपने ‘X’ (पूर्व में ट्विटर) हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया था। इस वीडियो में दिखाया गया कि अमित शाह SC, ST और OBC का आरक्षण खत्म करने का ऐलान कर रहे हैं। हालाँकि, यह डीपफेक वीडियो है जिसको भ्रामक रूप दे कर कई रीतम सिंह द्वारा शेयर किया गया था। इस हरकत के खिलाफ गुवाहाटी के पान बाजार थाने में दीपक कुमार दास ने शिकायत दर्ज करवाई। इस शिकायत पर पुलिस ने रीतम के खिलाफ IPC की धारा 153A, 171G, 505(1)(b) के साथ आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत FIR दर्ज कर लिया था।

इसी ट्वीट पर हुई रीतम के खिलाफ FIR

अपने खिलाफ हुई FIR की जानकारी मिलते ही रीतम ने अपना ट्वीट डिलीट कर लिया था। हालाँकि, तब तक पुलिस अपनी कार्रवाई अमल में ला चुकी थी। रीतम के ट्वीट का स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सोमवार (29 अप्रैल, 2024) को पुलिस ने रीतम को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को रीतम अपने गुवाहाटी के पास स्थित घर पर ही मिल गया। रीतम का फोन और लैपटॉप भी जब्त कर के जाँच की जा रही है। रीतम असम कॉन्ग्रेस के लिए चुनाव प्रचार में वॉररूम कॉर्डिनेटर के तौर पर काम कर रहा था।

दे रहा था मोदी को जेल भेजने की धमकी

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता रीतम सिंह पिछले कुछ समय से सोशल मीडिया पर लगातार ब्राह्मणों सहित अन्य कई जातियों पर आपत्तिजनक टिप्पणियाँ कर रहे थे। हाल ही में उन्होंने एक आपत्तिजनक ट्वीट किया था। इस ट्वीट में रीतम ने आने वाले 2 महीनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके साथियों के जेल में होने का ऐलान किया था। तब उन्होंने लिखा था, “सबका हिसाब लिया जाएगा। सबसे बदला लिया जाएगा।” रीतन ने तब सभी दक्षिणपंथियों की लिस्ट तैयार होने का भी दावा किया था।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता रीतम सिंह आए दिन असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा को भी चैलेन्ज दिया करते थे। उन्होंने सरमा की पत्नी पर भी कई बार टिप्पणियाँ की थी। रीतम के ट्वीट अक्सर ब्राह्मणों को टारगेट करते थे। फ़िलहाल उनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस जरूरी कार्रवाई और जाँच में जुटी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -