Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजबजरंग दल के नाबालिग कार्यकर्ता की हत्या, असम के करीमगंज में तनाव: धारदार हथियारों...

बजरंग दल के नाबालिग कार्यकर्ता की हत्या, असम के करीमगंज में तनाव: धारदार हथियारों से हमला कर ले ले ली जान, आक्रोशित लोग बोले – दोषियों को गिरफ़्तार करो

शम्भू लोवैरपुआ का ही रहने वाला था। इस हत्या के बाद से करीमगंज के लोवैरपुआ में लोगों का गुस्सा भड़क उठा। गुस्साए लोगों ने थाने का घेराव किया।

असम के करीमगंज जिले में नाबालिग ‘बजरंग दल’ कार्यकर्ता की हत्या के बाद से तनाव है। जिले के लोवैरपुआ इलाके में सोमवार (9 जनवरी, 2023) से धारा-144 लागू कर दी गई है। इसके बाद भी हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामले में एक शख़्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक, 16 साल का शम्भू कोइरी रविवार (8 जनवरी, 2023) को ‘बजरंग दल’ के एक ट्रेनिंग कैंप से लौट रहा था। उसी वक्त उस पर धारदार हथियारों से हमला कर उसकी जान ले ली गई।

शम्भू लोवैरपुआ का ही रहने वाला था। इस हत्या के बाद से करीमगंज के लोवैरपुआ में लोगों का गुस्सा भड़क उठा। गुस्साए लोगों ने थाने का घेराव किया। लोगों ने शम्भू के हत्यारों को गिरफ्तारी की माँग करते हुए प्रदर्शन किया। हत्या के एक दिन बाद यानी सोमवार (09 जनवरी, 2023) को लोवैरपुआ बाजार इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई। लोकल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हत्या के संबंध में अमीनुल हक नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार शम्भू कोइरी रविवार शाम को बजरंग दल के प्रशिक्षण शिविर से लौट रहे थे। इसी दौरान लोवैरपुआ इलाके में अज्ञात हमलावरों ने उसपर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। बुरी तरह जख्मी कोइरी को स्थानीय लोगों ने नजदीकी अस्पताल पहुँचाया जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और अपराधियों की गिरफ्तारी की माँग को लेकर जिले के बाजारीछेरा पुलिस थाने का घेराव किया गया। लोगों का आक्रोश देखते हुए इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है।

धारा 144 लगाए जाने के बाद भी हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक इसे लेकर एक आधिकारिक आदेश और जारी किया गया है। जिसके अनुसार करीमगंज जिले में किसी भी बैनर, पर्चे, पोस्टर के वितरण पर रोक लगा दी गई है। रोक अगले आदेश तक लागू रहेंगे। पुलिस ने लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -