Wednesday, November 30, 2022
Homeदेश-समाजअब होली तक गरीबों को मिलेगा मुफ्त 35 किलो खाद्यान्न, साथ में दाल, नमक,...

अब होली तक गरीबों को मिलेगा मुफ्त 35 किलो खाद्यान्न, साथ में दाल, नमक, तेल व चीनी भी देंगे: CM योगी का ऐलान

इसका लाभ 15 करोड़ लोग हर महीने ले सकेंगे। सीएम ने कहा कि अंत्योदय कार्ड धारक को राशन में 35 किलो चावल, गेहूँ के साथ-साथ दाल, तेल और नमक भी मिलेगा। अंत्योदय कार्ड धारक को हर महीने चीनी भी मिलेगी। 

अयोध्या में भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ऐलान किया। उन्होंने गरीबों के मुफ्त अनाज की योजना नवंबर से बढ़ाकर होली तक कर दी है। अब गरीबों को 1 किलो खाद्य तेल, 1 किलो दाल और 1 किलो नमक भी मुफ्त में दिया जाएगा।

पहले से सरकार गरीबों के लिए मुफ्त अनाज योजना चला रही है, जिसमें प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज दिया जाता है। इसका लाभ 15 करोड़ लोग हर महीने ले सकेंगे। सीएम ने कहा कि अंत्योदय कार्ड धारक को राशन में 35 किलो चावल, गेहूँ के साथ-साथ दाल, तेल और नमक भी मिलेगा। अंत्योदय कार्ड धारक को हर महीने चीनी भी मिलेगी। 

बता दें कि कोरोना काल के दौरान शुरू हुए राशन वितरण में 122 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्‍न बाँटा गया। यूपी सरकार की ओर से 2339556.740 मीट्रिक टन व पीएमजीकेएवाई में 9853889.085 मीट्रिक टन राशन बाँटा जा चुका है। प्रदेश में करीब 33705755 राशन कार्ड धारक हैं। प्रदेश सरकार ने 80 हजार कोटेदारों के माध्‍यम से राशन हर गरीब व बेसहारा लोगों तक राशन पहुँचाने का काम किया है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत चार चरणों में राशन वितरण किया गया। 

इसमें प्रथम चरण में अप्रैल से जून 2020 में 140603565 लाभार्थियों को 2085003 मीट्रिक टन खाद्यान्‍न वितरित किया गया। इसी तरह दूसरे चरण में जुलाई से नवंबर 2020 में 3536373.863  मीट्रिक टन गेहूँ व चावल का वितरित किया गया। तीसरे चरण मई व जून 2021 में 14 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 1413984.816 मीट्रिक टन खाद्यान्‍न वितरित किया गया। सरकार की ओर से जुलाई से अक्तूबर में अब तक 96 प्रतिशत लाभार्थियों तक फ्री राशन पहुँचाने का काम किया। चार महीने में सरकार की ओर से 2818527.091 मीट्रिक टन खाद्यान्‍न लोगों तक पहुँचाया।

31 साल पहले रामभक्तों और कार सेवकों पर चलाई गई थी गोलियाँ

दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने पिछली सरकारों पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 31 साल पहले अयोध्या में रामभक्तों और कार सेवकों पर गोलियाँ चलाई गई थीं। जय श्रीराम का जाप करना और राम मंदिर के समर्थन में आवाज उठाना आपराध माना जाता था। उन्होंने कहा कि अगली बार जब कार सेवा होगी, तो भगवान राम और भगवान कृष्ण के भक्तों पर गोलियों की नहीं बल्कि फूलों की बारिश की जाएगी। राम मंदिर निर्माण को लेकर सीएम योगी ने कहा कि 2023 तक पूरा कर मंदिर का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोता हुआ आम का पेड़, आरती के समय मंदिर में देवता को प्रणाम करने वाला ताड़ का वृक्ष… वेदों से प्रेरित था जगदीश चंद्र...

छुईमुई का पौधा हमारे छूते ही प्रतिक्रिया देता है। जगदीश चंद्र बोस ने दिखाया कि अन्य पेड़-पौधों में भी ऐसा होता है, लेकिन नंगी आँखों से नहीं दिखता।

‘मौलाना साद को सौंपी जाए निजामुद्दीन मरकज की चाबियाँ’: दिल्ली HC के आदेश पर पुलिस को आपत्ति नहीं, तबलीगी जमात ने फैलाया था कोरोना

दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की चाबी मौलाना साद को सौंपने की हिदायत दी। पुलिस ने दावा किया है कि वह फरार है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,143FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe