Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाज'नहीं थी कोई पुरानी रंजिश': हत्यारे साजिद-जावेद की अम्मी ने बेटे के एनकाउंटर को...

‘नहीं थी कोई पुरानी रंजिश’: हत्यारे साजिद-जावेद की अम्मी ने बेटे के एनकाउंटर को ठहराया जायज, पुलिस ने पूछताछ के लिए अब्बा-चाचा को लिया हिरासत में

SSP आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि कानून-व्यवस्था सामान्य है, शहर में कोई समस्या नहीं है और सोशल मीडिया पर भी निगरानी की जा रही है।

उत्तर प्रदेश के बदायूँ में साजिद नामक नाई ने उस्तरे का इस्तेमाल कर के 2 बच्चों की निर्मम तरीके से हत्या कर दी। आरोप है कि इसके बाद वो उनका खून भी पी रहा था। हालाँकि, हत्या वाले दिन मंगलवार (19 मार्च, 2024) की रात को ही यूपी पुलिस ने साजिद को एनकाउंटर में मार गिराया। अब पुलिस ने साजिद के अब्बा और चाचा को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस पता लगा रही है कि हत्या में साजिद के परिवार वालों का कोई हाथ था या नहीं।

बाबा कॉलोनी में हुए इस हत्याकांड के संबंध में मृतक बच्चों के पिता ने FIR दर्ज करवाई है। साजिद के साथ उसके भाई जावेद को भी आरोपित बनाया गया है। शिकायत में कहा गया है कि साजिद और जावेद दोनों ने घर में घुस कर बच्चों को काट डाला। दोनों बच्चों का शव पोस्टमॉर्टम के बाद उनके परिवार को सौंप दिया गया है, वहाँ से शव कछला ले जाए गए, जिसके बाद उनका अंतिम संस्कार हुआ। भीड़ को देखते हुए पीड़ित परिवार के घर के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

हालाँकि, साजिद का शव अभी भी मॉर्चरी में ही रखा हुआ है क्योंकि उधर से कोई दावा करने सामने नहीं आया है। SSP आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि कानून-व्यवस्था सामान्य है, शहर में कोई समस्या नहीं है और सोशल मीडिया पर भी निगरानी की जा रही है। पीड़ित परिवार के घर के सामने ही साजिद हजामत वाला सेटअप लगाता था और उसका पीड़ितों के घर में भी आना-जाना था। शाम के साढ़े 7 बजे वो घर में घुसा था, जब बच्चे छत पर खेल रहे थे। हत्याकांड के बाद पुलिस ने घेराबंदी की तो उसने गोलीबारी की, जवाबी फायरिंग में मारा गया।

वहीं हत्यारे साजिद की अम्मी नाजरीन ने इस घटना को दुःख जताते हुए अपने बेटे के एनकाउंटर को सही ठहराया है। उन्होंने पुरानी रंजिश या क्लेश की बात को भी नकार दिया। दूसरे फरार बेटे जावेद के बारे में नाजरीन का कहना है कि उन्हें कोई जानकारी नहीं है। अम्मी ने कहा कि साजिद ने जो किया, उसका अंजाम उसने भुगता। मृतक बच्चों की माँ का रो-रो कर बुरा हाल है। उनका कहना है कि जावेद का भी एनकाउंटर किया जाए। पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में लगी हुई हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -