Wednesday, May 25, 2022
Homeदेश-समाजबरेली के 2 आसिफ, 2 नाबालिग हिंदू शिकार: एक ने दलित लड़की को किया...

बरेली के 2 आसिफ, 2 नाबालिग हिंदू शिकार: एक ने दलित लड़की को किया अगवा, दूसरे ने आकाश बन किया रेप; फिर धर्मान्तरण का डालने लगा दबाव

आसिफ पर थाना फरीदपुर में रेप, धर्म परिवर्तन और पॉक्सो जैसी गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले से लव जिहाद के दो मामले सामने आए हैं। दोनों में आरोपित युवक का नाम आसिफ है। एक आसिफ पर दलित नाबालिग लड़की को अगवा करने और उसके परिवार को धमकी देने का आरोप है। दूसरे आसिफ पर एक नाबालिग लड़की को आकाश बनकर अपने जाल में फँसाने, उसके साथ रेप करने और धर्मांतरण का दबाव डालने का आरोप है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फरीदपुर थाना क्षेत्र का आसिफ लगभग 1 साल से नाबालिग का पीछा कर रहा था। उसने अपना नाम आकाश बताया था। नाबालिग से दोस्ती के बाद एक दिन आसिफ उसे अपने साथ दिल्ली ले गया। वहाँ उसने चाय में नशा देकर रेप किया। बाद में शादी का झाँसा भी दिया। इसी बीच एक दिन नाबालिग आसिफ के घर गई तो उसके मुस्लिम होने का पता चला।

नाबालिग पीड़िता के मुताबिक जब उसने आसिफ के घर वालों को सारी बात बताई तब उसे डाँट कर भगा दिया गया। बाद में उसने पुलिस में शिकायत की। शिकायत में खुद पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाना भी बताया है। पुलिस ने आरोपित आसिफ़ पर थाना फरीदपुर में रेप, धर्म परिवर्तन और पॉक्सो जैसी गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

दलित नाबालिग के परिवार को मिल रही है धमकियाँ

बरेली जिले के ही कैंट थानाक्षेत्र के एक अन्य मामले में एक दलित परिवार ने अपनी नाबालिग बेटी के अपहरण की शिकायत दर्ज करवाई है। पीड़ित परिवार ने इस मामले में आसिफ नाम के युवक और उसकी माँ खातून और बबली को नामजद किया है। आरोपितों पर फोन के जरिए धमकी देने का आरोप है। पीड़ित परिवार ने आसिफ के अब्बा खलील को एक दबंग और आपराधिक मानसिकता वाला आदमी बताया है। शिकायत 19 मार्च को की गई है।

पुलिस में शिकायत पीड़िता की माँ ने दी है। शिकायत के मुताबिक, “मेरी 16 वर्षीया बेटी को कैंट थानाक्षेत्र का ही आसिफ़ अपनी माँ के सहयोग से 25 फरवरी 2022 को कहीं साजिश रच कर ले गया है। जब हमने इसकी शिकायत आसिफ़ के परिवार वालों से की तब उन्होंने मुझे गालियाँ दी। साथ ही उन्होंने मेरी बेटी के आसिफ़ के कब्ज़े में होने की बात कबूली। शिकायत करने पर हमें और मेरी बेटी को जान से मारने की धमकी भी दी गई। इसी डर से हम काफी दिन चुप रहे। इस बीच हमें फोन पर 3 नंबरों से धमकियाँ भी आईं।” पीड़ित परिवार ने धमकी देने वाले नंबरों को भी पुलिस शिकायत में लिखा है।

पुलिस में दी गई शिकायत

ऑपइंडिया ने पीड़ित परिवार से बात की। उन्होंने बताया, “मेरी बेटी को पुलिस ने इसी 22 मार्च (मंगलवार) को बरामद कर लिया है। इस केस में FIR भी दर्ज हो गई है। अभी तक कोई भी आरोपित पकड़ा नहीं गया है। हम आरोपितों की गिरफ्तारी चाहते हैं। वो खुलेआम घूम रहे हैं।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिम छात्रों के झूठे आरोपों पर अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी ने किया निलंबित’: हिन्दू छात्र का आरोप – मिली धर्म ने समझौता न करने की...

तिवारी और उनके दोस्तों को कॉलेज में सार्वजनिक रूप से संघी, भाजपा के प्रवक्ता और भाजपा आईटी सेल का सदस्य कहा जाता था।

आतंकी यासीन मलिक को उम्रकैद: टेरर फंडिग में सजा के बाद बजे ढोल, श्रीनगर में कट्टरपंथियों ने की पत्थरबाजी

कश्मीर में कश्मीरी हिंदुओं के नरसंहार के आरोपित यासीन मलिक को टेरर फंडिंग केस में 25 मई को सजा मुकर्रर हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,731FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe