अरमान अंसारी ने किया 19 साल की लड़की से रेप, ठहरा गर्भ लेकिन शादी से इनकार… फिर जला कर मार डाला

पीड़ित लड़की को पहले नरकटियागंज के सब डिविजनल अस्पताल लाया गया। बाद में उसे बेतिया के सरकारी मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया। इसके बाद पटना पीएमसीएच रेफर किया गया। लेकिन अस्पताल तक जाते-जाते...

हैदराबाद और उन्नाव के बाद अब बिहार के बेतिया में 19 साल की एक लड़की को जिंदा जलाकर मार दिया गया। आरोपित की पहचान 25 साल के अरमान अंसारी के रूप में हुई। बताया जा रहा है कि अरमान ने घर में घुसकर युवती पर मिट्टी का तेल छिड़का और दिल दहला देने वाली इस वारदात को अंजाम दिया। जिसके बाद लड़की को अधजली हालत में पटना ले जाया जाने लगा, लेकिन अस्पताल पहुँचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया।

पुलिस के अनुसार आरोपित अरमान की गिरफ्तारी हो चुकी है। मृत पीड़िता की माँ ने बताया है कि अरमान उनकी बेटी का लंबे समय से यौन शोषण कर रहा था। जिसके कारण युवती के पेट में एक महीने का गर्भ भी था।

मीडिया रिपोर्ट्स में दोनों के बीच लव अफेयर की बातें भी सामने आ रही हैं। लेकिन पुलिस पूरे मामले की जाँच कर रही है। एसपी का कहना है कि पीड़िता ने अरमान पर शादी का झाँसा देकर यौन शोषण करने का आरोप लगाया था। पीड़िता द्वारा अरमान पर शादी का दबाव बनाया जा रहा था पर वह इनकार कर रहा था, जिसको लेकर युवती ने यह कदम उठाया था। लेकिन इसके उलट पीड़िता के यौन शोषण, बलात्कार और जला कर मार डालने की खबर भी है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में पीड़िता की माँ ने बताया कि वे एक मजदूर हैं और 5 महीने पहले अपने पति को खो चुकी हैं। उनके बेटे काम की तलाश में दरभंगा और नेपाल जा चुके हैं। ऐसे में एक महीने पहले जब वह अपनी बेटी के साथ खेत में धान काट रही थीं, तभी वहाँ अरमान ने उसे गन्ने के खेत में खींच लिया और उसके साथ बलात्कार किया।

पीड़िता की माँ के मुताबिक जब उनकी बेटी ने ये बात उन्हें बताई तो उन्हें कुछ नहीं सूझा, वह खुद को बेबस समझने लगीं। इस घटना के बाद लड़की की माँ बस चाहती थीं कि अरमान उनकी बेटी से शादी कर ले। लेकिन अरमान लगातार इस बात से इंकार करता रहा। सोमवार की शाम उसी गाँव में रहने वाले युवती के जीजा जो आरोपित का चचेरा भाई भी है, उसने अरमान से शादी के लिए कहा। साथ ही उसे समझाया गया कि पीड़िता के बड़े भाई मंगलवार की सुबह पंचायत में मामला सुलझाने के लिए आएँगे।

जब मंगलवार को युवती के बड़े भाई गाँव पहुँचे तो अचानक उन्हें लड़की की चीख सुनाई दी। पास जाकर देखा तो अरमान उनकी बेटी को जला चुका था। हालाँकि, बेटी को आग की लपटों में देख परिजनों ने आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन उसे बचाने में वो नाकामयाब रहे।

युवती को पहले नरकटियागंज के सब डिविजनल अस्पताल लाया गया। बाद में उसे बेतिया के सरकारी मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया। जहाँ पर उसे ड्रिप चढ़ाने के साथ ऑक्सिजन दी गई। लेकिन डॉक्टरों ने कहा कि 70 प्रतिशत जलने के बाद उसकी हालत नाजुक है। इसके बाद शाम को पीड़िता को पटना पीएमसीएच रेफर किया गया। लेकिन अस्पताल तक जाते-जाते उसने एंबुलेंस में दम तोड़ दिया।

14 साल की लड़की का अपहरण: जबरन धर्म परिवर्तन कर बनाया मुसलमान… फिर किडनैपर अब्दुल से ही निकाह

‘मेरा बेटा तो अस्पताल में था’: उन्नाव रेप-हत्याकांड में बेटे को बचाने के लिए बाप का फर्जीवाड़ा, डॉक्टर ने खोली पोल

गैंगरेप के बाद हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया: जाहिद, नसीम, ताहिर समेत 6 के खिलाफ FIR

भोला जहाँ 8-70 साल की 200 हिंदू महिलाओं का रेप हुआ, अमित शाह को क्यूँ याद आई वह बर्बरता

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शाहीन बाग़, शरजील इमाम
वे जितने ज्यादा जोर से 'इंकलाब ज़िंदाबाद' बोलेंगे, वामपंथी मीडिया उतना ही ज्यादा द्रवित होगा। कोई रवीश कुमार टीवी स्टूडियो में बैठ कर कहेगा- "क्या तिरंगा हाथ में लेकर राष्ट्रगान गाने वाले और संविधान का पाठ करने वाले देश के टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य हो सकते हैं? नहीं न।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,507फैंसलाइक करें
36,393फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: