Saturday, April 20, 2024
Homeदेश-समाजगैंगरेप के बाद हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया: जाहिद, नसीम, ताहिर समेत...

गैंगरेप के बाद हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया: जाहिद, नसीम, ताहिर समेत 6 के खिलाफ FIR

इस घिनौनी वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपितों ने विवाहिता की हत्या कर दी। इसके बाद वे लाश को रोशियाका गाँव के जंगल में ले गए और गले में कपड़ा बाँधकर लाश को पेड़ से लटका दिया।

राजस्थान के भरतपुर जिले के कांमा थाना क्षेत्र में सोमवार (दिसंबर 9, 2019) को एक पेड़ से एक विवाहिता का शव लटका पाया गया। पेड़ से शव का लटका होना मतलब आत्महत्या का मामला… लेकिन इस मामले में पेंच है। जिस विवाहिता का शव पेड़ से लटका मिला, उनके पिताजी की ओर से मंगलवार (दिसंबर 10, 2019) को 6 आरोपितों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक बलात्कार और हत्या का मामला दर्ज कराया गया है।

थानाध्यक्ष धर्मेश दायमा ने बताया कि 26 वर्षीय विवाहिता का शव सोमवार को रोशियाका गाँव के जंगल में नीम के पेड़ से लटका पाया गया था। ग्रामीणों की सूचना पर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल पहुँचाया गया, जहाँ मेडिकल बोर्ड से पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। धर्मेश दयमा ने बताया कि FIR के आधार पर 6 आरोपितों की पहचान – जाहिद, नसीम, ताहिर, अमर सिंह, बन्नो और बालू के रूप में की गई है। इन 6 आरोपितों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार और हत्या का मामला दर्ज किया गया। फिलहाल किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। लेकिन पुलिस द्वारा आरोपितों की तलाशी की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि 26 वर्षीय मृतक पीड़िता के पिता ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 8 दिसम्बर की रात करीब 11 बजे उनकी विवाहिता पुत्री शौच के लिए घर से बाहर गई थीं। पीड़िता के पिता का आरोप है कि जाहिद, नसीर और ताहिर ने हथियार के बल पर उनका अपहरण कर लिया। फिर इसके बाद आरोपितों ने मूसेपुर गाँव के जंगल में अपने अन्य साथियों अमर सिंह, बन्नू और बालू जाटव के साथ मिलकर उनका सामूहिक बलात्कार किया और उनके गहने भी छीन लिए।

इस घिनौनी वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपितों ने उनकी हत्या कर दी। इसके बाद वे लाश को रोशियाका गाँव के जंगल में ले गए और गले में कपड़ा बाँधकर लाश को पेड़ से लटका दिया। थानाध्यक्ष धर्मेश दायमा ने बताया कि मृत पीड़िता के पति ट्रक चालक हैं और घटना के समय वह मौजूद नहीं थे। वो गुवाहाटी गए हुए हैं। उनका कहना है कि पुलिस ने मामला दर्ज करके आरोपितों की तलाशी शुरू कर दी है।

राजस्थान में अपराध का सिलसिला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। हर आए दिन दुष्कर्म और हत्या की खबरें सामने आती रहती हैं। राज्य में अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं और लड़कियों को परेशान कर रहे हैं। अभी कुछ दिनों पहले ही राजस्थान के जोधपुर में एक छात्रा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से जान बचाने की गुहार लगाई थी। सीएम की जनसुवाई में पहुॅंची छात्रा अपनी पीड़ा बताते हुए रो पड़ी। उसने गुहार लगाई थी- “मुख्यमंत्री जी मुझे बचा लो…दरिंदे मुझे जिंदा जला देंगे।”

मुख्यमंत्री को पीड़ित छात्रा ने बताया था कि कुछ लड़के उन्हें करीब 2 महीने से लगातार परेशान कर रहे हैं। आरोपितों ने खुद के नंबर वाले व्हाट्सअप पर उनकी (पीड़ित लड़की की) फोटो की डीपी लगा रखी है। साथ में स्टेटस में लिख रखा है, “मेरी नहीं तो किसी और की भी नहीं होगी।” आरोपित ने पीड़िता को जिंदा जलाने की धमकी भी दी थी।

नाबालिग से दूसरी बार गैंगरेप: आरोपित अल्ताफ, सरफराज, इरशाद, सौयब पलवल से फरार

गैंगरेप पीड़िता की अर्ध-नग्न लाश: टूटी उंगलियाँ, आँखें बाहर निकली हुईं – शाबोद्दीन, शेख बाबू, मकदूम ने कबूला जुर्म

5 लड़कियों का गैंगरेप करने वाले पादरी अल्फांसो समेत 6 को उम्रकैद… लेकिन NGO मामले में बरी

अरबाज ने प्रेमजाल में फँसाया, फिर 3 दोस्तों के साथ किया गैंगरेप: कैमूर में लोगों ने जला डाला आरोपित का घर

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘PM मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, संविधान में बदलाव का कोई इरादा नहीं’: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- ‘सेक्युलर’ शब्द हटाने...

अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने जीएसटी लागू की, 370 खत्म की, राममंदिर का उद्घाटन हुआ, ट्रिपल तलाक खत्म हुआ, वन रैंक वन पेंशन लागू की।

लोकसभा चुनाव 2024: पहले चरण में 60+ प्रतिशत मतदान, हिंसा के बीच सबसे अधिक 77.57% बंगाल में वोटिंग, 1625 प्रत्याशियों की किस्मत EVM में...

पहले चरण के मतदान में राज्यों के हिसाब से 102 सीटों पर शाम 7 बजे तक कुल 60.03% मतदान हुआ। इसमें उत्तर प्रदेश में 57.61 प्रतिशत, उत्तराखंड में 53.64 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe