Sunday, May 29, 2022
Homeदेश-समाजगुजरात के स्कूलों में गूँजेंगे 'यदा यदा हि धर्मस्य' श्लोक... क्लास 6 से 12...

गुजरात के स्कूलों में गूँजेंगे ‘यदा यदा हि धर्मस्य’ श्लोक… क्लास 6 से 12 के पाठ्यक्रम में शामिल हुई श्रीमदभागवत गीता

गुजरात में इसी साल नवम्बर या दिसम्बर तक विधानसभा चुनाव होने की संभावना है। यहाँ कुल 182 विधानसभा सीटें हैं। यहाँ बहुमत का आँकड़ा 92 है। राज्य में भाजपा के नेतृत्व का लम्बे समय से शासन है।

गुजरात (Gujrat) के स्कूलों में अब श्रीमदभागवत गीता के श्लोक गूँजेंगे। गुजरात सरकार की नई शिक्षा नीति में क्लास 6 से क्लास 12 तक ‘गीता’ को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाए जाने की मंजूरी मिल गई है। यह आदेश गुजरात के सभी स्कूलों में लागू होगा। गुजरात के शिक्षा मंत्री जीतू वाघानी ने 17 मार्च (गुरुवार) को इसकी घोषणा की।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार ने ये आदेश बच्चों को श्रीमदभागवत गीता के मूल्यों और सिद्धांतों से परिचित करवाने के लिए दिया है। इसी के साथ स्कूलों में गीता पर श्लोक गान और आपसी बातचीत के कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएँगे।

शिक्षा मंत्री जीतू वाघानी ने इसकी घोषणा करते हुए कहा, “क्लास 6 से 8 तक की कक्षाओं में श्रीमदभागवत गीता कहानी और श्लोकों रूप में होगी। वहीं क्लास 9 से 12 तक ये कहानी और श्लोकों के रूप में पहली भाषा पुस्तक में होगी। साल 2022-23 में भारत की संस्कृति और ज्ञान प्रणाली से परिचित करवाने के लिए प्रथम चरण में गीता के मूल्यों और सिद्धांतों को क्लास 6 से 12 तक पढ़ाया जाएगा। यह कदम छात्रों के हितों को ध्यान में रख कर उठाया जा रहा है। बच्चों को गीता के श्लोक ऑडियो और वीडियो रूपों के साथ प्रिंटेड रूप में भी दिए जाएँगे।”

गौरतलब है कि गुजरात में इसी साल नवम्बर या दिसम्बर तक विधानसभा चुनाव होने की संभावना है। यहाँ कुल 182 विधानसभा सीटें हैं। यहाँ बहुमत का आँकड़ा 92 है। राज्य में भाजपा के नेतृत्व का लम्बे समय से शासन है। इस सरकार का कार्यकाल 18 फरवरी 2023 को समाप्त हो रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को ₹20 लाख इनाम का ऐलान, बताया ‘गुस्ताख़-ए-रसूल’: मुस्लिमों को उकसा रहा AltNews वाला जुबैर

तहरीक-ए-लब्बैक (TLP) वही समूह है जिसने कुछ दिनों सियालकोट में पहले श्रीलंकाई नागरिक की हत्या कर दी थी। अब नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर रखा इनाम।

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe