Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजबिहार: होमगार्ड को उठक-बैठक कराने वाले कृषि अधिकारी को प्रमोशन, हेडक्वार्टर में बुलाए गए

बिहार: होमगार्ड को उठक-बैठक कराने वाले कृषि अधिकारी को प्रमोशन, हेडक्वार्टर में बुलाए गए

कृषि विभाग ने 25 अप्रैल को मनोज कुमार के तबादले का आदेश जारी किया। कृषि विभाग का कहना है कि उप निदेशक (ट्रेनिंग) के पद पर तैनात किया गया है। यह पद जिला कृषि पदाधिकारी के समकक्ष ही होता है।

पिछले सप्ताह बिहार में होमगार्ड जवान को उठक-बैठक की सजा देने वाले अधिकारी पर राज्य सरकार मेहरबान दिख रही है। अररिया के जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार पर कार्रवाई करने की जगह प्रमोशन कर उनका तबादला कर दिया गया है। उन्हें कृषि विभाग में उप निदेशक बनाया गया है।

इस मामले में मनोज कुमार का साथ देने वाले एएसआई गोविंद सिंह को सस्पेंड कर दिया गया था। इसके बाद से ही मनोज कुमार पर भी कार्रवाई की मॉंग की जा रही थी।

कृषि विभाग ने 25 अप्रैल को मनोज कुमार के तबादले का आदेश जारी किया। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सरकार ने उन्हें प्रमोशन देने की बात को खारिज किया है। कृषि विभाग का कहना है कि उप निदेशक (ट्रेनिंग) के पद पर तैनात किया गया है। यह पद जिला कृषि पदाधिकारी के समकक्ष ही होता है।

मनोज कुमार को दिया गया प्रमोशन!

आज तक ने बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार के हवाले से बताया है कि मनोज कुमार के खिलाफ विभागीय जॉंच जल रही है। उनके खिलाफ अररिया में एफआईआर दर्ज करवाई गई है। जॉंच प्रभावित न हो, इसी वजह से उन्हें मुख्यालय बुला लिया गया है।

गौरतलब है कि मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अररिया के जिलाधिकारी से रिपोर्ट माँगी थी। इसके साथ ही बिहार के डीजीपी ने घटना पर नाराजगी जताई और होमगार्ड जवान से फोन पर बात कर संवेदना जताई थी।

पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने होमगार्ड को अपमानित करने के आरोप में अतिरिक्त पुलिस उपनिरीक्षक गोविंद सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था। बिहार मानवाधिकार आयोग ने पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए अररिया के जिलाधिकारी और एसपी को नोटिस जारी करते हुए 6 मई तक विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा था।

गौरतलब है कि बीते सोमवार को अररिया के बैरगाछी चौक इलाके में तैनात होमगार्ड जवान गणेश तात्मा ने लॉकडाउन के दौरान मनोज कुमार की गाड़ी को चेकिंग के लिए रोक लिया था। इससे मनोज कुमार आगबबूला हो गए। उन्होंने होमगार्ड को 50 बार उठक-बैठक करने की सजा दी थी।

इतना ही नहीं मनोज कुमार ने कहा था कि मैं अभी जल्दी में हूँ अन्यथा तुमको जेल भिजवा देता। वहीं पास में खड़े एएसआई गोविंद सिंह ने भी कृषि अधिकारी का साथ देते हुए होमगार्ड से माँफी माँगने को कहा था। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ था और लोगों ने बिहार सरकार से कार्रवाई की माँग की थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के बचाव में कूदा India Today, ‘सोर्स’ के नाम पर नया ‘भ्रमजाल’

SKM के नेता प्रदर्शन स्थल पर हुए दलित युवक की हत्या से खुद को अलग कर रहे हैं। इस बीच इंडिया टुडे ग्रुप अब उनके बचाव में सामने आया है। .

कुंडली बॉर्डर पर लखबीर की हत्या के मामले में निहंग सरबजीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे ‘जो बोले सो निहाल’ के नारे

निहंग सिख सरबजीत की गिरफ्तारी की वीडियो सामने आई है। इसमें आसपास मौजूद लोग तेज तेज 'जो बोले सो निहाल' के नारे बुलंद कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,835FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe