Monday, November 28, 2022
Homeदेश-समाजVideo Viral: सरपंच असलम ने हिन्दू विधवा को गोमांस खिलाया, जबरन इस्लाम क़बूल करा...

Video Viral: सरपंच असलम ने हिन्दू विधवा को गोमांस खिलाया, जबरन इस्लाम क़बूल करा अकबर से कराई शादी

"दोनों को छोड़ने के बदले में 25-25 हज़ार रुपए का जुर्माना लगाया गया। जान बचाने के लिए दोनों ने अपने-अपने खेत बंधक लगा कर कुल पचास हज़ार रुपए सरपंच को दिए।"

बिहार के अररिया ज़िले के बौंसी थाना क्षेत्र के फरकिया पंचायत में एक विधवा महिला का जबरन धर्म परिवर्तन और विवाह कराने का मामला सामने आया है। सोशल मीडिया पर इस घटना का एक वीडियो बड़ी तेज़ी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक आदमी और एक विधवा महिला को रस्सी से बांध रखा है और सरपंच उन्हें भरी पंचायत में छड़ी से पीट रहा है।

दरअसल, इस वीडियो के वायरल होने से मामले ने तूल पकड़ लिया है। ख़बर के अनुसार, विधवा महिला का जबरन धर्म परिवर्तन भी कराया गया। सरपंच की अगुआई में एक दर्जन से अधिक ग्रामीणों ने घटना को अंजाम दिया। वीडियो वायरल होने के बाद पीड़ित महिला के पिता के आवेदन पर सरपंच समेत 16 लोगों के ख़िलाफ़ बौंसी थाने में FIR दर्ज कराई गई है।

ग्रामीणों ने दोनों के बीच अवैध संबंध होने का आरोप लगाया और उनके साथ मारपीट की। इसके बाद घटना की सूचना स्थानीय सरपंच मोहम्मद असलम को दी गई। सरपंच अपने दल-बल के साथ घटना-स्थल पर पहुँचा, जहाँ कुल 16 नामज़द व्यक्तियों ने पीड़िता व अकबर के साथ बेरहमी से मारपीट की।

मारपीट के बाद सरपंच के समक्ष सभी आरोपितों ने मिल कर पंचायती की। पंचायती में दोनों को छोड़ने के बदले में 25-25 हज़ार रुपए का जुर्माना लगाया गया। पीड़ित के पिता ने कहा कि जान बचाने के लिए दोनों ने अपने-अपने खेत बंधक लगा कर कुल पचास हज़ार रुपए सरपंच को दिए। आरोप यह भी लगाया गया कि जुर्माना देने के बाद भी दोनों का जबरन विवाह कराने से पहले धर्म परिवर्तन करने के लिए गाय का मांस खिलाया।

इसके बाद सरपंच की मौजूदगी में सभी आरोपितों ने मारपीट कर विधवा महिला का अकबर के साथ जबरन शादी करा दी। इस घटना के बाद से दोनों (अकबर और पीड़िता) लापता हैं, काफ़ी खोजबीन के बाद भी दोनों का कुछ पता नहीं चल सका है। महिला के पिता ने आरोपितों के ख़िलाफ़ उचित कार्रवाई करने की भी माँग की है।

एसएचओ साजीद आलम (बौंसी थाना) ने बताया कि पीड़िता के पिता की शिक़ायत के आधार पर FIR दर्ज की गई है। फ़िलहाल, मामले की जाँच चल रही है। जल्द ही पीड़िता को बरामद कर लिया जाएगा। वहीं, सरपंच ने अपनी ग़लती स्वीकार कर ली है। लेकिन, जुर्माने की रकम वसूले जाने की बात का असलम ने पूरी तरह से खंडन किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चीन के कई शहरों में फैला प्रदर्शन, सड़कों पर उतरे छात्र: शी जिनपिंग के खिलाफ नारेबाजी, पत्रकार को पुलिस ने पीटा

चीन में शी जिनपिंग के खिलाफ होता विरोध प्रदर्शन देश के कई शहरों में फैल गया है। लोग उस इलाके तक आ गए हैं जहाँ सबसे ज्यादा एबेंसी हैं।

‘बच्चों की हत्यारी सरकार’: हिजाब विरोधी प्रदर्शन के बीच ईरान ने अपने सर्वोच्च नेता की भांजी को ही गिरफ्तार किया, UN को भी सुनाई...

ईरान में चल रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शन के बीच पुलिस ने सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई की भांजी फरीद मोरादखानी को गिरफ्तार किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,794FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe