Monday, April 15, 2024
Homeदेश-समाजबिहार: कोरोना से सैफ अली की मौत के बाद संपर्क में आए 62 लोगों...

बिहार: कोरोना से सैफ अली की मौत के बाद संपर्क में आए 62 लोगों पर मंडरा रहा संक्रमण का खतरा, परिवार के साथ डॉ. भी जद में

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अब तक 62 ऐसे लोगों को वेरीफाई करके एक सूची तैयार की है, जो किसी न किसी तरह से मृतक सैफ के संपर्क में आए थे। इसके बाद उन लोगों में हड़कंप मच गया है, जो सैफ के संपर्क में आए। साथ ही अब सभी को आइसोलेट करने की तैयारी की जा रही है और कुछ को किया भी जा चुका है।

कोरोना वायरस का कहर आज पूरे विश्व में जारी है। अगर बात करें भारत की तो यहाँ जिसने भी इस बीमारी को हल्के में लिया या फिर जिस किसी ने भी इसे लेकर लापरवाही बरती आज उन्हीं के ऊपर यह बीमारी आफत बन कर बरस रही है। दुख की बात है कि कुछ लोगों की जरा सी लापरवाही आज देश के हजारों लोगों के लिए मुसीबत बन कर सामने खड़ी है। कुछ ऐसी ही एक खबर सामने आई है बिहार राज्य के जिला मुंगेर से। जहाँ बीते दिनों कोरोना वायरस के चलते हुई 38 वर्षीय युवक की मौत के बाद मृतक के संपर्क में आए सैकड़ों लोगों की जान आफत में आ गई है। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम उन लोगों को वेरीफाई करने में जुटी हुई है, जो किसी न किसी तरह से मृतक के संपर्क में आए या फिर कि उसके नजदीक भी आए।

दरअसल, कतर से बिहार लौटे 38 वर्षीय सैफ अली को कोरोना के लक्षण पाए गए थे। इसके बाद बीते दिनों उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अब तक 62 ऐसे लोगों को वेरीफाई करके एक सूची तैयार की है, जो किसी न किसी तरह से मृतक सैफ के संपर्क में आए थे। इसके बाद उन लोगों में हड़कंप मच गया है, जो सैफ के संपर्क में आए। साथ ही अब सभी को आइसोलेट करने की तैयारी की जा रही है और कुछ को किया भी जा चुका है। अब लोगों को आशंका है कि इस एक लापरवाही के कारण गाँव के लोगों को भयानक अंजाम भुगतने पड़ सकते हैं।

वहीं सैफ के संपर्क में आने वाली लिस्ट में सबसे अधिक सैफ के परिवार के लोग शामिल है, चाहे फिर वह माँ-बाप, पत्नी-बच्चे हों या फिर वह भाई-बहन हो। इसके बाद आस-पड़ोस के लोग और फिर लिस्ट में कुछ रिश्तेदारों के नाम भी शामिल हैं। वहीं सैफ को गंभीर हाताल में जिन-जिन अस्पतालों में भर्ती किया गया उनसे भी कई नामों को स्वास्थ्य विभाग ने अपनी लिस्ट में शामिल किया है, जिसमें डॉक्टर और नर्स भी शामिल हैं।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा मृतक सैफ से मिलने वालों की तैयार की गई सूची

दरअसल, कतर से बिहार के मुंगेर लौटे सैफ अली को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। उक्त मरीज पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान में किडनी का इलाज करा रहा था। इसके बाद सैफ की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव ने उसके कोरोना इन्फेक्टेड होने की पुष्टि की थी साथ ही युवक की मौत की भी जानकारी दी थी। इसके बाद से ही गाँव के लोगों को जो सैफ के संपर्क में आए थे कोरोना पॉजीटिव पाए जाने का खतरा सता रहा है। आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस प्रकोप के चलते अब तक 10 मौतें हो चुकी हैं साथ ही इससे संक्रमित लोगों की संख्या 471 हो गई है। वहीं मोदी की अपील पर लगाए गए जनता कर्फ्यू से भले दिल्ली नोएडा जैसे शहरों की हवा साफ हो गई है, लेकिन कोरोना का प्रकोप अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। यही कारण है कि अब तक देश के कई राज्य अपने यहाँ लॉकडाउन घोषत कर चुके हैं।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई सूची
स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई सूची
Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

संदेशखाली में उमड़ा भगवा सैलाब, ‘जय भवानी-जय शिवाजी’ के नारों से गूँजा 4 किमी लंबा जुलूस: लोग बोले- बंगाल में कमल खिलना तय

बंगाल में पोइला बैशाख के मौके पर संदेशखाली में भगवा की लहर देखी गई। सैंकड़ों भाजपा समर्थक सड़कों पर सुवेंदु अधिकारी संग आए और 4 किमी तक जुलूस निकाला गया।

पालघर में संतों को ‘भीड़’ ने पीट-पीटकर मार डाला, सोते रहे उद्धव ठाकरे: शिवसैनिक ने ही किया खुलासा, कहा- राहुल गाँधी के कहने पर...

शिव सेना नेता ने कहा है कि उद्धव ठाकरे ने पालघर में हिन्दू साधुओं की भीड़ हत्या के मामले में सीबीआई जाँच राहुल गाँधी के दबाव में नहीं करवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe