Saturday, June 25, 2022
Homeदेश-समाजडेयरी की आड़ में गोकशी कर रहा था सपा नेता अब्दुल मन्नान, छापा पड़ते...

डेयरी की आड़ में गोकशी कर रहा था सपा नेता अब्दुल मन्नान, छापा पड़ते ही भागा; 6 साथी पकड़े गए

बिजनौर पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि अब्दुल मन्नान के बाग़ में गोकशी की सूचना मिली थी, जिसके बाद 3 थानों की पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी की कार्रवाई की थी। कार्रवाई के दौरान 12 जीवित पशु (4 गाय, 3 भैंस, 4 कटरे, एक बछड़ा) बरामद किया गया है।

उत्तर प्रदेश के बिजनौर में गोकशी की घटना सामने आई है। इसे बिजनौर के किरतपुर नगरपालिका के चेयरमैन अब्दुल मन्नान के घर अंजाम दिया जा रहा था। पुलिस इस मामले में अभी तक 6 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं मुख्य आरोपित अब्दुल मन्नान समेत 4 अन्य लोग घटनास्थल से भागने में सफल हुए। पुलिस ने मौके से भारी मात्रा में माँस और अवैध तमंचे भी बरामद किए हैं।

पुलिस को सूचना मिली थी कि बिजनौर के किरतपुर थाना क्षेत्र में नगरपालिका चेयरमैन अब्दुल मन्नान की बाग़ के भीतर डेयरी की आड़ में गोकशी हो रही है। इसके बाद 3 थानों की पुलिस (किरतपुर, नागल और नजीबाबाद) ने वहाँ पर छापा मारा। घटनास्थल से मोहम्मद हारून, मोहम्मद आमिर, तारिक, ताजिर और तालिब को गिरफ्तार किया गया है। 

इसके अलावा किरतपुर स्थित पठानपुरा निवासी मोहम्मद शानू को गिरफ्तार किया गया है। वहीं अब्दुल मन्नान, अतीक कुरैशी, फरीद और बाशिद भागने में कामयाब रहे। पुलिस इनकी खोज कर रही है। 

बिजनौर पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि अब्दुल मन्नान के बाग़ में गोकशी की सूचना मिली थी, जिसके बाद 3 थानों की पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी की कार्रवाई की थी। कार्रवाई के दौरान 12 जीवित पशु (4 गाय, 3 भैंस, 4 कटरे, एक बछड़ा) बरामद किया गया है। इतना ही नहीं 6 सींग, गोवंश की हड्डियाँ, दो रस्सी, दो छूरे, 12 बोर का 1 तमंचा और दो कारतूस भी बरामद किए गए हैं। 

वहीं इस घटनाक्रम पर किरतपुर थाना प्रभारी ने भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह सब कुछ नगरपालिका चेयरमैन अब्दुल मन्नान की देखरेख में हो रहा था। वह खुद इसमें शामिल है और कई लोग इस काम में उसकी मदद करते हैं। पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों से सवाल-जवाब जारी है, उन पर गैंग्सटर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी और जल्द ही उनकी हिस्ट्रीशीट भी खोली जाएगी।    

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

झूठे साक्ष्य गढ़े, निर्दोष को फँसाने की कोशिश: तीस्ता सीतलवाड़ के साथ-साथ RB श्रीकुमार और संजीव भट्ट पर भी FIR, गुजरात दंगा मामला

संजीव भट्ट फ़िलहाल पालनपुर जेल में कैद। राज्य सरकार का पक्ष रखते हुए दर्ज FIR में शुक्रवार (24 जून, 2022) को आए सुप्रीम कोर्ट का हवाला दिया गया।

तीस्ता सीतलवाड़ को ATS ने घर से उठाया, देखें वीडियो: SC ने कहा था- इनके खिलाफ होनी चाहिए जाँच

तीस्ता की गिरफ्तारी के बाद गुजरात एटीएस की टीम उन्हें संता क्रूज पुलिस थाने लेकर गई है। वहाँ से उन्हें अहमदाबाद ले जाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,266FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe