Friday, April 19, 2024
Homeदेश-समाजअर्पिता मुखर्जी के एक और घर से बड़ी मात्रा में मिला कैश, गिनने के...

अर्पिता मुखर्जी के एक और घर से बड़ी मात्रा में मिला कैश, गिनने के लिए ED ने मँगाई 4 मशीनें: काउंटिंग में लग सकती है पूरी रात

अर्पिता मुखर्जी के जिस घर से नया कैश मिला है, वो कोलकाता में स्थित है। कैश गिनने के लिए 4 मशीनें मँगाई गई हैं। कोलकाता स्थित SBI के क्षेत्रीय मुख्यालय से ये मशीनें लाई गई हैं।

पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्था चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के आवास से एक बार फिर ED को बड़ी मात्रा में कैश मिला है। ED के अधिकारियों ने इस कैश को गिनने के लिए मशीन मँगवा ली है। इस प्रक्रिया में रात भर का समय भी लग सकता है। बुधवार (27 जुलाई, 2022) को दोपहर से ही अर्पिता मुखर्जी के इस अपार्टमेंट में तलाशी ली जा रही थी। बता दें कि उनके यहाँ से पहले ही 21 करोड़ रुपए और 76 लाख रुपए के गहने बरामद किए जा चुके हैं।

उधर एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अर्पिता मुखर्जी ने ED की पूछताछ में बताया है कि मंत्री पार्था चटर्जी उनके घर का इस्तेमाल ‘मिनी बैंक’ के रूप में करते थे। अर्पिता मुखर्जी के वकील अदालत में ED के दावों को नकारने की योजना बना रहे हैं और इसके लिए वो दलील देंगे कि ED की कार्रवाइयों में सज़ा की दर कम रही है। अर्पिता मुखर्जी के घर से तस्वीरें और सूचनाएँ भी लीक होने से ED नाराज है। एक अन्य महिला ने भी बताया है कि पार्था चटर्जी उसके घर में कितने रुपए रखवाते थे, ये उसे भी नहीं बताया जाता था।

अर्पिता मुखर्जी के जिस घर से नया कैश मिला है, वो कोलकाता में स्थित है। कैश गिनने के लिए 4 मशीनें मँगाई गई हैं। कोलकाता स्थित SBI के क्षेत्रीय मुख्यालय से ये मशीनें लाई गई हैं। बताया जा रहा है कि ये रकम पिछली बार की बरामदगी से ज्यादा हो सकती है। कैश के अलावा सोने के गहने, सोने के बिस्किट और संपत्ति के दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। कई संपत्ति गलत पते पर रजिस्टर्ड होने की बात भी पता चली है। नॉर्थ 24 परगना स्थित अर्पिता के पैतृक आवास में भी छापेमारी हुई।

अर्पिता मुखर्जी के बारे में बता दें कि वो 2008-14 के बीच बंगाल-उड़िया फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय थीं और एक मॉडल भी रही हैं। उत्तरी कोलकाता के बेलघोरिया के एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मी अर्पिता काफी विलासमय जीवन जी रही थीं। पिता की मौत के बाद उनकी शादी झाड़ग्राम के एक कारोबारी से हुई थी, लेकिन उनके कोलकाता लौटने के बाद इस शादी का क्या हुआ, इस बारे में किसी को कुछ नहीं पता। अर्पिता मुखर्जी का अपना प्रोडक्शन हाउस भी है। पिता सरकारी नौकरी में थे, ऐसे में उनकी मौत के बाद भी अर्पिता ने सरकार नौकरी ठुकरा दी थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लोकसभा चुनाव 2024: पहले चरण में 60+ प्रतिशत मतदान, हिंसा के बीच सबसे अधिक 77.57% बंगाल में वोटिंग, 1625 प्रत्याशियों की किस्मत EVM में...

पहले चरण के मतदान में राज्यों के हिसाब से 102 सीटों पर शाम 7 बजे तक कुल 60.03% मतदान हुआ। इसमें उत्तर प्रदेश में 57.61 प्रतिशत, उत्तराखंड में 53.64 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

कौन थी वो राष्ट्रभक्त तिकड़ी, जो अंग्रेज कलक्टर ‘पंडित जैक्सन’ का वध कर फाँसी पर झूल गई: नासिक का वो केस, जिसने सावरकर भाइयों...

अनंत लक्ष्मण कन्हेरे, कृष्णाजी गोपाल कर्वे और विनायक नारायण देशपांडे को आज ही की तारीख यानी 19 अप्रैल 1910 को फाँसी पर लटका दिया गया था। इन तीनों ही क्रांतिकारियों की उम्र उस समय 18 से 20 वर्ष के बीच थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe