Tuesday, May 21, 2024
Homeदेश-समाजIAS ऑफिसर रणबीर शर्मा ने मोबाइल तोड़ा, थप्पड़ मारा... अब माँगी माफी: घूस लेते...

IAS ऑफिसर रणबीर शर्मा ने मोबाइल तोड़ा, थप्पड़ मारा… अब माँगी माफी: घूस लेते इसी ऑफिसर को ACB ने पकड़ा था

युवक को थप्पड़ मारते, मोबाइल पटक कर तोड़ते और पुलिस वालों से पिटवाते नजर आ रहे कलेक्टर का नाम है रणबीर शर्मा। जब यह वीडियो वायरल हो गया तो अब माफी माँग ली है। सोशल मीडिया पर लोग हालाँकि सस्पेंड करने की माँग कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में लागू लॉकडाउन के दौरान कलेक्टर ने एक युवक को थप्पड़ मारा, फोन तोड़ दिया और पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कलेक्टर ने अपने व्यवहार के लिए माफी माँगी है।

सूरजपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि युवक की पहचान अमन मित्तल (23) के रूप में हुई है। उसके खिलाफ लॉकडाउन के कथित उल्लंघन के लिए मामला दर्ज किया गया है। वीडियो में कलेक्टर एक युवक को थप्पड़ मारते और पुलिस वालों से पिटवाते नजर आ रहे हैं। कलेक्टर ने वीडियो रिकॉर्डिंग के संदेह में युवक का मोबाइल भी पटक कर तोड़ दिया। इसके वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोग उनके खिलाफ एफआईआर से लेकर उन्हें सस्पेंड तक करने की माँग कर रहे हैं।

घटना शनिवार (मई 22, 2021) दोपहर की है, जब कलेक्टर लॉकडाउन का पालन कराने खुद गश्त पर निकले थे। इसी दौरान उनकी मुलाकात एक युवक से हुई। कलेक्टर ने उससे कुछ पूछा और फिर जाने दिया। वे खुद भी अपनी कार की ओर बढ़ने लगे। तभी उन्हें कुछ अंदेशा हुआ और घूम कर तेजी से युवक के पास पहुँचे। उसका मोबाइल माँगा और उसे सड़क पर पटक दिया। फिर युवक को एक जोरदार थप्पड़ लगाया।

वीडियो में एक युवक हाथ में एक पर्ची पकड़ा हुआ है और वह कलेक्टर को दिखाने की कोशिश कर रहा है। तभी वह मोबाइल पर उन्हें कुछ दिखाता है। यह देखते ही कलेक्टर रणबीर शर्मा उसका फोन ज़ोर से जमीन पर दे मारते हैं और युवक को एक तमाचा जड़ देते हैं। इससे पहले कि युवक कुछ बोल पाता कलेक्टर जवानों को उसे मारने का आदेश देते हैं और जवान एक के बाद एक लड़के पर लाठियाँ बरसाने लगते हैं। इसके बाद कलेक्टर यह कहते हुए गाड़ी में जाकर बैठ गए कि इसके खिलाफ एफआईआर कराओ।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक युवक अपने पिता और माता के लिए दवाई लेने मेडिकल स्टोर के लिए निकला था। इसी दौरान भैयाथान चौक के पास जिला कलेक्टर रणवीर शर्मा ने उसे रुकवा लिया। युवक ने बताया कि वह दवाई लेने जा रहा है। इसकी पुष्टि करने के लिए उसने दवाई की पर्ची भी दिखाई लेकिन कलेक्टर ने उसकी नहीं सुनी और चाँटा मार दिया।

वीडियो के वायरल होने के बाद कलेक्टर रणबीर शर्मा ने अपने बयान में कहा, “उसने कहा कि वह टीकाकरण के लिए बाहर गया था, लेकिन उनके पास कोई उचित दस्तावेज नहीं था। बाद में उसने कहा कि वह अपनी दादी से मिलने जा रहा है। जब उसने दुर्व्यवहार किया तो मैंने गुस्से में उसे थप्पड़ मार दिया। वह 23-24 साल का था, 13 साल का नहीं। मुझे खेद है और अपने व्यवहार के लिए क्षमा चाहता हूँ।”

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कलेक्टर शर्मा पर साल 2015 में रिश्वतखोरी का आरोप भी लग चुका है। उन्हें एक पटवारी से 10 हजार रुपए रिश्वत लेने के आरोप में एंटी करप्शन ब्यूरो ने गिरफ्तार किया था। शर्मा उस समय भानुप्रतापपुर में सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट थे। उस समय शर्मा का ट्रांसफर भी किया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -