Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजकॉन्ग्रेस समर्थक दे रहे रुबिका लियाकत को गैंगरेप की धमकियाँ, तस्वीरों पर भद्दी टिप्पणी...

कॉन्ग्रेस समर्थक दे रहे रुबिका लियाकत को गैंगरेप की धमकियाँ, तस्वीरों पर भद्दी टिप्पणी की बौछार

अपने ट्वीट में निधि तलवार नाम की यूज़र ने लिखा है कि रुबिका लियाकत का गैंगरेप भी हो जाए तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि उसने मोदी हित को तरजीह दी है।

सोशल मीडिया पर यदि कथित बुद्धिजीवियों के अनुसार कोई ना चले तो उसे किस प्रकार घृणा का सामना करना पड़ सकता है, इसका उदाहरण हम पिछले कुछ सालों में देखते आए हैं। इस घृणा का सबसे ताजा शिकार बनी हैं ABP न्यूज़ चैनल की जर्नलिस्ट रुबिका लियाकत।

ट्विटर पर कुछ लोगों द्वारा रुबिका को सिर्फ इस वजह से अश्लील और बेहद भद्दी गालियाँ दी जा रही हैं क्योंकि वो उनकी विचारधारा से सहमत नहीं नजर आती हैं। टीवी जर्नलिस्ट रुबिका की एक तस्वीर को उनके विरोधियों द्वारा शेयर किया जा रहा है, जिसमें वो ‘आज तक’ के एंकर निशांत चतुर्वेदी के साथ हैं। रुबिका को इस तस्वीर द्वारा ट्रोल और अपमानित करने का प्रयास कर रहे अज़ीज़ मेवाती का कहना है कि रुबिका को उन्हें इस्लाम सिखाने की जरूरत नहीं है।

इस तस्वीर को भद्दी गालियों के साथ शेयर होता देखकर रुबिका लियाकत ने कॉन्ग्रेस समर्थकों को जवाब देते हुए ट्वीट में लिखा है, “सही तो ये होगा कि तुम्हारी माँ-बहन के सामने आकर तुम्हें इस्लाम का सही अर्थ समझाऊँ। ये हिंदुस्तान है तालीबान नहीं मेवाती। नफ़रत में इतने अंधे हो गए हैं आपके समर्थक @INCIndia कि मेरे भाई के साथ मेरी तस्वीर बेहूदगी के साथ शेयर कर रहे हैं।”

इसके बाद निशांत चतुर्वेदी ने भी अपने ट्विटर हैंडल से यह तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है कि रुबिका उनकी बहन हैं और यह तस्वीर रक्षाबंधन के दिन ली गई थी।

रुबिका को इस्लाम की शिक्षा देने वालों से भी ऊपर कुछ ऐसे नाम हैं जिनके ट्विटर हैंडल से पता चलता है कि राहुल गाँधी उनके प्रधानमंत्री हैं। महिला सशक्तिकरण को एक जुमला बनाने वाली इस पार्टी के समर्थक रुबिका लियाकत को गैंगरेप की धमकी देते हुए देखे जा सकते हैं। अपने ट्वीट में निधि तलवार नाम की इस यूज़र ने लिखा है कि रुबिका लियाकत का गैंगरेप भी हो जाए तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि उसने मोदी हित को तरजीह दी है। साथी ही यह भी लिखा है कि 23 मई के जश्न को उन्होंने अपने इन विचारों के साथ फीका कर दिया है।


निधि तलवार नाम की इस यूज़र ने कुछ अन्य ट्वीट में अपने विचार रखते हुए लिखा है कि भाजपा से हिन्दू वोट हथियाने का तरीका यही है कि अपर कास्ट और लोअर कास्ट के बीच दरार पैदा की जाए।

विरोध के बाद अजीज मेवाती और निधि ने यह ट्वीट डिलीट कर दिया, लेकिन बाकी कई लोग इस तस्वीर को शेयर कर रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रुद्राक्ष पहनने और चंदन लगाने की सज़ा: सरकार पोषित स्कूल में ईसाई शिक्षक ने छात्रों को पीटा, माता-पिता ने CM स्टालिन से लगाई गुहार

शिक्षक जॉयसन ने पवित्र चंदन (विभूति) और रुद्राक्ष पहनने पर लड़कों को यह कहते हुए फटकार लगाई कि केवल उपद्रवी और मिसफिट लोग ही इसे पहनते हैं।

बंगाल के ISKCON वालों ने मंदिर के अंदर रमजान में करवाया था इफ्तार, बांग्लादेश के ISKCON मंदिर में मुस्लिम भीड़ कर रही हत्या-रेप

बांग्लादेश में आज कट्टरपंथी इस्कॉन मंदिर को अपना निशाना बना रहे हैं। वहीं दूसरी ओर बंगाल में आज से 5 साल पहले मुस्लिम बंधुओं को मंदिर प्रशासन ने इफ्तारी करवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,973FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe