Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाजकोरोना का कहर: महाराष्ट्र के चार शहरों को किया गया बंद, दिल्ली में कनॉट...

कोरोना का कहर: महाराष्ट्र के चार शहरों को किया गया बंद, दिल्ली में कनॉट प्लेस, इंडिया गेट से लेकर सभी मॉल हुए बंद

चौंकाने वाली बात यह कि भारत में सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र राज्य से सामने आए हैं। यही कारण है कि उद्धव सरकार ने पुणे, पिम्परी-चिंचवाड़, मुंबई और नागपुर को पूरी तरह से बंद करने का फैसला किया है। इस दौरान जरूरी सेवाएँ पहले की तरह जारी रहेंगे, जबकि बाकी चीजें बंद रहेंगी।

कोरोना का कहर जारी है, लाख कोशिशों के बाद भी वायरस का असर चीन के अलावा कहीं भी कम होता नहीं दिखाई दे रहा। एक तरफ जहाँ चीन में दो दिनों में कोई भी नया मामला सामने नहीं आया है, तो वहीं भारत सहित अन्य देशों में हर रोज मौतों और इससे संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती ही चली जा रही है। इसकी रोकथाम के लिए विश्वभर में तमाम तरह के प्रयोग भी किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में अगर भारत की बात करें तो महाराष्ट्र ने अपने चार शहरों को लॉकडाउन कर दिया है। वहीं दिल्ली में केजरीवाल सरकरा ने कनॉट प्लेस, इंडिया गेट और दिल्ली के सभी मॉल को तत्काल प्रभाव से बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। इतना ही नहीं देश के कई हिस्सो में धारा 144 लगा दी गई है।

वहीं कोरोना वायरस का असर विश्व के 180 से अधिक देशों में फैल चुका है। अगर भारत की बात करें तो कोरोना वायरस से भारत में अब तक 5 मौतें हो चुकी हैं और इससे संक्रमित लोगों की संख्या 200 के पार पहुँच गई है। चौंकाने वाली बात यह कि भारत में सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र राज्य से सामने आए हैं। यही कारण है कि उद्धव सरकार ने पुणे, पिम्परी-चिंचवाड़, मुंबई और नागपुर को पूरी तरह से बंद करने का फैसला किया है। इस दौरान जरूरी सेवाएँ पहले की तरह जारी रहेंगे, जबकि बाकी चीजें बंद रहेंगी। उद्धव ठाकरे ने कहा है कि अगर लोगों ने यात्रा करना बंद नहीं किया तो मुंबई की लाइफ लाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन को भी बंद किया जा सकता है।

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस को लेकर मौजूदा हालात को देखते हुए सभी मॉल (किराना, फ़ार्मेसी और सब्जी की दुकानों को छोड़कर) को बंद करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही दिल्ली के दिल की घड़कन कहा जाने वाले कनॉट प्लेस और इंडिया गेट को भी सरकार ने आम लोगों के लिए बंद कर दिया है। वहीं रविवार यानि 22 मार्च को दिल्ली में मेट्रो सेवा भी पूरी तरह से बंद रहेगी। कोयम्बटूर जिला कलेक्टर, रासामणि ने जानकारी दी है कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए कोयंबटूर में तमिलनाडु-केरल सीमा को बंद किया जाएगा। उधर श्रीनगर में भी कोरोना का पहला मामला सामने आ गया है।

कोरोना से निपटने के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया (DGCI) ने अंतर्राष्ट्रीय और भारतीय कंपनियों सहित 18 कंपनियों को देश में कोरोना वायरस डायग्नोस्टिक टेस्ट के लिए लाइसेंस दिया है। आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस की वजह से पांचवीं मौत हुई है। इटली के रहने वाले शख्स ने राजस्थान के सवाई मानसिंह अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में दम तोड़ा। कुछ दिन पहले उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कहा है कि अब तक देश में कोरोना वायरस के 206 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों से 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू लगाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण इस समय पूरा विश्व संकट के गंभीर दौर से गुजर रहा है। इस संकट ने पूरी मानव जाति को संकट में डाल दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -