Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाज48.31% पर पहुँचा भारत का रिकवरी रेट, कोरोना से लड़ाई में कई बड़े देशों...

48.31% पर पहुँचा भारत का रिकवरी रेट, कोरोना से लड़ाई में कई बड़े देशों के मुकाबले बेहतर

वर्तमान में देश में कोरोना वायरस की सबसे ज्यादा मार महाराष्ट्र पर पड़ रही है। अकेले महाराष्ट्र की बात करें तो यहाँ पर अभी रिकवरी रेट 43% है। यदि पूरे देश के आँकड़ों में महाराष्ट्र के आँकड़ों को हटा दिया जाए तो भारत का कुल रिकवरी रेट 51% हो जाता है।

भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दो लाख के पार हो गई है। इस बीच एक राहत की बात यह है कि संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट भी बेहतर हुआ है। यह अब बढ़कर 48.31% हो चुका है। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में देशभर में कुल 1,01497 केस कोरोना वायरस से संक्रमित हैं जबकि 1,00302 लोग ठीक किए जा चुके हैं।

भारत के मुकाबले यदि अमेरिका की रिकवरी दर देखें तो यह 34.33% है जबकि रूस में 45.33% और पड़ोसी देश पाकिस्तान में यह दर 35.94% है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार (जून 02, 2020) को कहा कि देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट लगातार बेहतर हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि गत सोमवार 3708 लोग रिकवर हुए हैं। सबसे ताजा आँकड़ों के अनुसार अब तक रिकवर होने वाले लोगों की कुल संख्या 1,00302 हो गई है।

मंगलवार शाम की प्रेस वार्ता में लव अग्रवाल ने कहा – “हमारी रिकवरी रेट 15 अप्रैल को 11.42% था, 3 मई को यह बढ़कर 26.59% हो गया। 18 मई को वही बढ़कर 38.39% हो गया और आज यह 48.07% है।”

गौरतलब है कि वर्तमान में देश में कोरोना वायरस की सबसे ज्यादा मार महाराष्ट्र पर पड़ रही है। अकेले महाराष्ट्र की बात करें तो यहाँ पर अभी रिकवरी रेट 43% है। यदि पूरे देश के आँकड़ों में महाराष्ट्र के आँकड़ों को हटा दिया जाए तो भारत का कुल रिकवरी रेट 51% हो जाता है।

कई बड़े देशों के मुकाबले भारत काफी बेहतर स्थिति में है। इसके साथ ही यह भी ध्यान देने की बात है कि भारत ने कोरोना वायरस संक्रमण को कम्युनिटी संक्रमण की स्टेज तक नहीं पहुँचने दिया। यह भी एक बड़ी वजह है कि भारत एक बड़े स्तर पर कोरोना वायरस की महामारी पर लगाम लगाने में सक्षम रहा है। इसमें भी महाराष्ट्र, दिल्ली और राजस्थान जैसे राज्यों में बड़े स्तर पर संक्रमण देश में कुल कोरोना वायरस संक्रमितों के प्रतिशत में वृद्धि का कारण भी बना।

यह तथ्य इस वजह से भी रखना जरूरी है क्योंकि शिवसेना पार्टी नेता प्रियंका चौधरी निरंतर सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र में कोरोना को लेकर भ्रामक तथ्य शेयर कर रही हैं। आज ही उन्होंने एक ट्वीट में दावा किया है कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की रिकवरी दर 43% है और पूरे देश भर में यह दर 42.8% है, जो कि हमेशा की ही तरह तथ्यों के उलट और एकदम झूठ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe