Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजमुहर्रम से पहले हनुमान मंदिर के पास गोवंश, काट कर फेंका गया बछड़े को:...

मुहर्रम से पहले हनुमान मंदिर के पास गोवंश, काट कर फेंका गया बछड़े को: एक्शन में UP पुलिस, साजिश की आशंका

UP पुलिस को आशंका है कि यह घटना मोहर्रम से पहले माहौल को बिगाड़ने की साजिश हो सकती है। आस-पास के CCTV फुटेज खँगाले जा रहे हैं। रात में कई जगहों पर दबिश भी दी गई।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में मोहर्रम से पहले गोवंश के अवशेष मिलने से इलाके में तनाव का माहौल हो गया है। बछड़े के बताए जा रहे ये अवशेष एक मंदिर के पास बरामद हुए हैं। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई। नाराज भीड़ ने जमकर नारेबाजी की। वहीं पुलिस ने मौके पर पहुँच कर हालात को सँभाला है। जल्द ही आरोपितों को खोज कर उन पर कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा भी दिया गया। घटना शुक्रवार (28 जुलाई 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला सोनभद्र जिले के थानाक्षेत्र रॉबर्ट्सगंज का है। यहाँ मौजूद सब्जी मंडी के पास एक प्राचीन हनुमान मंदिर है। शुक्रवार को इस मंदिर के पास कटे हुए गोवंश के टुकड़े पाए गए। थोड़ी ही देर में यह खबर आस-पास फैल गई तो लोग मौके पर जमा होने लगे। मामले की जानकारी होने पर हिन्दू संगठन के सदस्य भी वहाँ पहुँचे। उन्होंने जमकर नारेबाजी की, जिससे हालत तनावपूर्ण हो गए। मौके पर एडिशनल एसपी के नेतृत्व में पुलिस बल पहुँचा और लोगों को समझाने के प्रयास में जुट गया।

सोनभद्र के एडिशनल SP के मुताबिक हनुमान मंदिर के पीछे खाली जगह में गोवंश के अवशेष मिले थे, जिन्हें हटवा दिया गया है। इस मामले में प्रार्थना पत्र लेकर FIR दर्ज करवाई जा रही है।

पुलिस का कहना है कि जिसने भी ऐसा कृत्य किया है, उसके खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी। पुलिस को आशंका है कि यह घटना मोहर्रम से पहले माहौल को बिगाड़ने की साजिश हो सकती है। हालाँकि पुलिस का कहना है कि जनता सब जानती और समझती है, इसलिए फ़िलहाल स्थिति सामान्य है।

फिलहाल मंदिर की साफ़-सफाई करवा दी गई है। पुलिस की कई टीमें इस मामले की जाँच में जुट गई हैं। आस-पास के CCTV फुटेज खँगाले जा रहे हैं। रात में कई जगहों पर दबिश का भी दावा किया गया है। हालाँकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -