Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजओलंपियन सुशील कुमार पर ₹1 लाख का इनाम, पहलवान की हत्या में तलाश रही...

ओलंपियन सुशील कुमार पर ₹1 लाख का इनाम, पहलवान की हत्या में तलाश रही दिल्ली पुलिस

सुशील कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर आज सुनवाई होनी है। बताया जा रहा है कि वे सरेंडर भी कर सकते हैं।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 23 साल के पहलवान सागर राणा की हत्या के मामले में ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार की तलाश जारी है। दिल्ली पुलिस ने उन पर 1 लाख रुपए का इनाम घोषित किया है। पुलिस ने उनके पीए अजय कुमार की जानकारी देने वाले को भी 50 हजार रुपए देने का ऐलान किया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक सागर की हत्या के बाद से फरार चल रहे पहलवान सुशील कुमार ने दिल्ली की अदालत में अग्रिम जमानत की याचिका दायर की। मामले पर सुनवाई आज (मई 18, 2021) होगी। दिल्ली की रोहिणी कोर्ट इस केस में सुशील कुमार और उनके साथियों के ख़िलाफ़ गैर जमानती वारंट जारी कर चुकी है।

कुछ रिपोर्ट्स ये भी बता रही हैं कि सुशील कुमार जल्द दिल्ली एनसीआर की किसी कोर्ट में आत्मसमर्पण करेंगे। उनकी तरफ से मॉडल टाउन थाने के पुलिसकर्मियों को व्हाट्सएप कॉल के जरिए यह सूचना दी गई है।

स्टेडियम में मारपीट के बाद हुई जूनियर चैंपियन की मौत

उल्लेखनीय है कि छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई 2021 को जूनियर चैंपियनशिप विजेता सागर कुमार और उनके दो दोस्तों के साथ दूसरे पहलवानों ने मारपीट की थी। बाद में सागर की मौत हो गई। उनके साथियों ने बताया कि घटना के समय सुशील कुमार वहीं मौजूद थे।

इसके बाद मॉडल टाउन में इस बाबत एफआईआर की गई। रोहिणी के विशेषज्ञों ने सबूत भी जुटाए। लेकिन, जब दिल्ली पुलिस सुशील कुमार के घर पहुँची तो वे वहाँ से गायब थे। उसके बाद से ही उनकी तलाश जारी है। उनके ख़िलाफ़ पिछले हफ्ते लुकआउट नोटिस भी जारी हुआ था।

इससे पहले इस मामले में 24 साल के प्रिंस दलाल को गिरफ्तार किया गया था। वह हरियाणा के झज्जर का रहने वाला है। छत्रसाल स्टेडियम में हुई झड़प के दौरान फायरिंग भी हुई थी। दलाल को डबल बैरेल लोडेड बंदूक के साथ दबोचा गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -