Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजब्लूम्सबरी पर दिल्ली दंगों वाली किताब का मैनुस्क्रिप्ट लीक करने का आरोप, वामपंथियों के...

ब्लूम्सबरी पर दिल्ली दंगों वाली किताब का मैनुस्क्रिप्ट लीक करने का आरोप, वामपंथियों के दबाव में रद्द कर दिया था प्रकाशन

दिलचस्प बात यह है कि लेखकों, प्रकाशन हाउस और संपादक के अलावा इस रूप में मैनुस्क्रिप्ट किसी और के पास उपलब्ध नहीं होगी। यह स्पष्ट है कि लेखकों द्वारा इस मैनुस्क्रिप्ट को वायरल नहीं किया जाएगा, क्योंकि इससे पुस्तक की बिक्री को नुकसान पहुँचेगा जो अब गरुड़ प्रकाशन द्वारा प्रकाशित किया जा रहा है।

ब्लूम्सबरी इंडिया ने हाल ही में दिल्ली दंगों पर मोनिका अरोड़ा, सोनाली चितालकर और प्रेरणा मल्होत्रा ​की किताब ‘दिल्ली रायट्स 2020: द अनटोल्ड स्टोरी’ का प्रकाशन रद्द करने का फैसला लिया था। अब उस पर इस किताब की मैनुस्क्रिप्ट (पांडुलिपि) लीक करने के आरोप लग रहे हैं।

इस किताब का प्रकाशन ब्लूम्सबरी ने वामपंथियों और इस्लामी कट्टरपंथियों के दबाव में रद्द किया था। हालॉंकि उसने एक बयान में हवाला दिया था कि लेखकों ने उसे किताब की वर्चुअल प्री पब्लिकेशन लॉन्च के आयोजन के बारे में नहीं बताया था।

लेकिन अब इस किताब की मैनुस्क्रिप्ट व्हाट्सएप पर वायरल हो रही है। कई नेटिज़न्स ने सवाल उठाया कि कैसे पूरी पुस्तक को अवैध रूप से जारी किया गया है। उनका कहना है कि इस तरह से पुस्तक को सोशल मीडिया पर सर्कुलेट नहीं किया जा सकता।

बताया जा रहा है कि यह वही कॉपी है जो ब्लूम्सबरी के पास थी। मैनुस्क्रिप्ट का दूसरे पन्ने पर स्पष्ट रूप से लिखा है कि यह एक कॉपी है। इसे ब्लूम्सबरी द्वारा प्रकाशित किया जा रहा है।

दिलचस्प बात यह है कि लेखकों, प्रकाशन हाउस और संपादक के अलावा इस रूप में मैनुस्क्रिप्ट किसी और के पास उपलब्ध नहीं होगी। यह स्पष्ट है कि लेखकों द्वारा इस मैनुस्क्रिप्ट को वायरल नहीं किया जाएगा, क्योंकि इससे पुस्तक की बिक्री को नुकसान पहुँचेगा जो अब गरुड़ प्रकाशन द्वारा प्रकाशित किया जा रहा है।

ऐसे में सवाल उठता है कि क्या पब्लिशिंग हाउस द्वारा मैनुस्क्रिप्ट की कॉपी को लीक किया गया है? ध्यान देने वाली बात यह भी है कि व्हाट्सएप पर मैनुस्क्रिप्ट के वायरल होने से पहले वामपंथी पोर्टल TheQuint.com द्वारा इसे सबसे पहले एक्सेस किया गया था।

अपनी घटिया मानसिकता के साथ क्विंट ने दिल्ली दंगों ओर आधारित किताब का फैक्ट चेक करने की कोशिश की है। अपनी रिपोर्ट में क्विंट ने स्पष्ट रूप से उल्लेख किया है कि पुस्तक की मैनुस्क्रिप्ट उनके द्वारा एक्सेस की गई है। सवाल उठता है कि जो मैनुस्क्रिप्ट सिर्फ लेखकों और प्रकाशक के पास है, उस तक TheQuint पहुँचने में कैसे कामयाब रहा?

किताब के प्रकाशन का जिम्मा गरुड़ प्रकाशन को दिए जाने के बाद इस पुस्तक को TheQuint द्वारा एक्सेस किया गया था। इसको लेकर लेखकों ने पब्लिशिंग हाउस को कानूनी नोटिस दिया है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि दिल्ली दंगा 2020: द अनटोल्ड स्टोरी की बुकिंग प्लेटफॉर्म गरुड़ प्रकाशन की तरफ से खोली जा चुकी है। अबतक 15,000 से अधिक लोगों ने इसे प्री-ऑर्डर भी कर दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गणेश मंदिर तोड़ने पर भारत सख्त, सालभर में 7 मंदिर बन चुके हैं इस्लामी कट्टरपंथियों का निशाना

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में मंदिर तोड़े जाने के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया है।

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,145FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe