Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजप्यार के नाम पर दलित लड़के को करवाया इस्लाम कबूल, फिर खतना… बॉम्बे HC...

प्यार के नाम पर दलित लड़के को करवाया इस्लाम कबूल, फिर खतना… बॉम्बे HC ने कहा ‘ये लव जिहाद नहीं’: आरोपित मुस्लिम महिला को जमानत

हिंदू लड़के को जबरन इस्लाम कबूल करवाया गया, उसके खतना की कोशिश हुई... लेकिन मामला जब हाई कोर्ट पहुँचा तो जज ने सुनवाई के दौरान कहा लड़का और लड़की अलग धर्म से हैं किसी रिश्ते को लव जिहाद नहीं कहा जा सकता। इसके साथ ही कोर्ट ने आरोपित मुस्लिम महिला और उसके परिवार को अग्रिम जमानत दे दी।

बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा है कि सिर्फ इसलिए कि लड़का और लड़की अलग धर्म से हैं किसी रिश्ते को लव जिहाद नहीं कहा जा सकता। इसके साथ ही कोर्ट ने आरोपित मुस्लिम महिला और उसके परिवार को अग्रिम जमानत दे दी। इस मामले में पीड़ित हिंदू व्यक्ति का आरोप था कि उसे लव जिहाद में फँसाकर धर्मांतरण के लिए मजबूर किया गया। यही नहीं, जबरन खतना कराने का भी आरोप लगाया था।

गत 26 फरवरी 2023 को हुई सुनवाई में जस्टिस विभा कंकनवाड़ी और अभय वाघवासे की खंडपीठ ने लव जिहाद के तर्क को खारिज करते हुए कहा है कि पीड़ित ने एफआईआर में कहा था कि उसके और आरोपित महिला के बीच संबंध था। साथ ही कई मौकों के बाद भी दोनों ने संबंध समाप्त नहीं किए। ऐसे में सिर्फ इसलिए कि लड़का और लड़की अलग-अलग धर्मों से हैं। यह लव जिहाद का मामला नहीं हो सकता। बल्कि यह एक-दूसरे के लिए पूरी तरह से प्रेम का मामला हो सकता है।

कोर्ट ने यह भी कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि इस मामले को लव-जिहाद का रंग देने की कोशिश की गई है। जब प्यार को स्वीकार कर लिया जाता है तो किसी को सिर्फ दूसरे के धर्म में परिवर्तित करने के लिए फँसाए जाने की संभावना कम होती है।

क्या था मामला…

पीड़ित ने आरोप लगाते हुए कहा था कि वह साल 2018 से मुस्लिम महिला के साथ संबंध में था। वह अनुसूचित जाति समुदाय का है। लेकिन उसने इस बारे में महिला को नहीं बताया था। कुछ समय तक रिश्ते में रहने के बाद महिला उस पर इस्लाम कबूल कर शादी करने का दवाब बनाने लगी। इसके बाद पीड़ित ने महिला के माता-पिता को अपनी जाति के बारे में बता दिया। इस पर महिला के परिवार वालों ने उसकी जाति को लेकर कोई आपत्ति नहीं की।

हालाँकि इसके बाद पीड़ित व्यक्ति ने दिसंबर 2022 में महिला और उसके परिवार वालों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। पीड़ित का आरोप था कि महिला और उसके परिवार ने उसे धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया। साथ ही, जबरन उसका खतना करा दिया गया था। इसके अलावा जाति को लेकर भी उसके साथ दुर्व्यवहार किया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोई कर रहा था ड्राइवरी, कोई इंजीनियर बनकर कमाने गया था… कुवैत के अग्रिकांड में 40+ भारतीयों की गई जान, PM मोदी ने विदेश...

कुवैत के फोरेंसिक विभाग के महानिदेशक ने भी कहा है कि मरने वाले में अधिकांश केरल, तमिलनाडु और उत्तर भारतीय राज्य के लोग हैं। इनकी उम्र 20 से 50 साल थी।

जम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला… डोडा में सुरक्षा बलों पर फिर चली गोलियाँ: 1 जवान घायल, पूरे इलाके की घेराबंदी

जम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला हुआ है। वहीं डोडा जिले में 2 दिन में दूसरी बार आतंकियों द्वारा फायरिंग करके सुरक्षाबलों को निशाना बनाया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -