Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजकोरोना से देश में पहली मौत, सऊदी से लौटे थे 76 साल के मोहम्मद...

कोरोना से देश में पहली मौत, सऊदी से लौटे थे 76 साल के मोहम्मद हुसैन: कनाडा के PM की पत्नी भी संक्रमित

कोरोना ने विश्वभर में कम से कम 4,600 लोगों की जान ली है और करीब 1,25,293 लोग इससे संक्रमित हैं। वायरस के केंद्र चीन में 3,100 से ज्यादा मौतें हुई हैं। इटली में 1,000 से ज्यादा लोग इसके कारण जान गँवा चुके हैं।

कर्नाटक में एक 76 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हो गई है। कोरोना वायरस से देश में यह पहली मौत है। गुरुवार (मार्च 12, 2020) को जाँच रिपोर्ट आने के बाद इसकी पुष्टि हुई है। वहीं भारत में कोरोना वायरस के 14 नए मामले सामने आने के बाद इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 74 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि नए मामलों में से से 9 मामले महाराष्ट्र से जबकि एक-एक मामला दिल्ली, लद्दाख, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश में सामने आया है। वहीं एक विदेशी नागरिक भी इससे संक्रमित पाया गया है।

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु ने गुरुवार को ट्वीट किया कि कलबुर्गी का जो व्यक्ति कोविड-19 का संदिग्ध मरीज था, उसके इस वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हो गई है। मोहम्मद हुसैन सिद्दिकी हाल ही में सऊदी अरब से लौटे थे। मंगलवार को उनकी मौत हुई थी। गुरुवार को उनके कोरोना वायरस से भी संक्रमित होने की पुष्टि हुई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया है कि उन्हें हाई ब्लडप्रेशर और अस्थमा जैसी अन्य शिकायतें भी थी। अब हेल्थ डिपार्टमेंट इस बात का पता लगा रहा है कि यह बुजुर्ग कितने लोगों के संपर्क में आया था। तेलंगाना सरकार को भी इसकी जानकारी दे दी गई है कि सिद्दीकी कोरोना से संक्रमित थे, क्योंकि अधिकारियों को इस बात का पता चला है कि इलाज के लिए वे तेलंगाना के भी एक अस्पताल में गए थे।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दिल्ली में स्कूल-कॉलेज से लेकर सिनेमा हॉल तक सब कुछ 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है। सरकार ने सरकारी, निजी कार्यालयों, शॉपिंग मॉलों सहित सभी सार्वजनिक स्थानों को संक्रमण मुक्त बनाना अनिवार्य कर दिया गया है। उत्तराखंड के भी सभी स्कूलों को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। कई खेल कार्यक्रम रद्द या स्थगित कर दिए गए हैं। 

वहीं इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कोरोना से नहीं घबराने की अपील की है। गुरुवार को उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, “घबराहट को ना, सावधानी को हाँ कहिए। आने वाले दिनों में कोई केंद्रीय मंत्री विदेश यात्रा नहीं करेगा। मैं देशवासियों से भी गैर-जरूरी यात्राएँ नहीं करने की अपील करता हूँ। सभी मंत्रालयों और राज्यों ने सभी की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए अनेक कदम उठाए हैं।”

इससे पहले केंद्र सरकार ने बुधवार (मार्च 11, 2020) को कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के उपायों के तहत 15 अप्रैल तक सभी वीजा रद करने की घोषणा की। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, विदेशी राजनियकों, आधिकारिक, संयुक्त राष्ट्र, अंतर्राष्ट्रीय संगठन और रोजगार परियोजनाओं को छोड़कर अन्य सभी वीजा 15 अप्रैल तक निलंबित रहेंगे।

कोरोना वायरस की चुनौती से निपटने के लिए हर स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। सरकारी स्तर पर जहाँ संदिग्धों की पहचान कर उन्हें आइसोलेशन में रखा जा रहा है वहीं बाहर से आने वाले लोगों पर भी कड़ी निगरानी रखी जा रही है। इसके लिए कई राज्यों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की पूरी टीम लगाई गई है। इसके लिए कोरेनटाइन बेड आरक्षित किए गए हैं।

जानकारी के मुताबिक कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पत्नी को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। कनाडाई मीडिया के हवाले से ये खबर सामने आई है। खबर है कि दोनों को आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। बता दें कि कुछ दिनों पहले राजनीतिक कंजर्वेटिव्स के एक सम्मेलन में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो के संचार प्रमुख से डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात हुई थी। बाद में पाया गया कि वह कोरोना संक्रमित थे। इस सम्मेलन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उपराष्ट्रपति माइक पेंस भी शामिल हुए थे। ट्रंप ने उस संक्रमित अधिकारी से हाथ भी मिलाया था। जिसके बाद हड़कंप मच गया।

कोरोना ने विश्वभर में कम से कम 4,600 लोगों की जान ले ली है और करीब 1,25,293 लोग इससे संक्रमित हैं। वायरस के केंद्र चीन में 3,100 से ज्यादा मौतें हुई हैं। इसके अलावा ईरान 429 लोगों की मौत हुई है। इटली में 1,000 से ज्यादा लोग इस जानलेवा वायरस के कारण जान गँवा चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,090FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe