Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजजिस थाली में खाना उसमें ही छेद: फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय अनस ने फर्जी...

जिस थाली में खाना उसमें ही छेद: फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय अनस ने फर्जी अकाउंट से मँगवाए कीमती सामान, फिर गिट्टी भर वापस कर दिया

अनस ने बताया है कि 24 अलग-अलग नंबरों से उसने फ्लिपकार्ट के अकाउंट बनाए थे। इन अकाउंट से खुद ही कई कीमती चीजों का ऑर्डर किया। डिलीवरी के दौरान असली सामान निकाल कर डिब्बे में डुप्लीकेट माल डाले और फिर ब्रांच में जमा करवा दिया।

ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट (Flipkart) को उसके ही एक कर्मचारी द्वारा चूना लगाने का मामला सामने आया है। मामला उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले का है। फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय को अनस को गिरफ्तार कर पुलिस ने इस फर्जीवाड़े का सोमवार (23 जनवरी 2023) को खुलासा किया।

मोहम्मद अनस पर आरोप है कि वह फर्जी अकाउंट के जरिए फ्लिपकार्ट से कीमती समान के ऑर्डर करता। फिर डिलीवरी बॉय बनकर वह सामान ले जाता। उसके बाद पैकेट में नकली माल डालकर ब्रांच में यह कहकर जमा कर देता कि कस्टमर ने वापस कर दिया है। अनस मिर्जापुर का ही रहने वाला है। उसके पास से मोबाइल, घड़ियाँ और मोबाइल के चार्जर बरामद हुए हैं।

यह मामला कोतवाली कटरा क्षेत्र का है। मिर्जापुर पुलिस के मुताबिक 21 जनवरी 2023 (शनिवार) को फ्लिपकार्ट के ब्रान्च मैनेजर अनुपम गुप्ता ने इस संबंध में थाने में तहरीर दी थी। इसके मुताबिक डिलीवरी बॉय 38 वर्षीय अनस ब्रान्च से लाखों रुपए के सामान सप्लाई करने लेकर निकला था। इसमें से कुछ सामान वह लेकर ब्रांच लौट गया। बताया कि ग्राहकों ने सामान वापस कर दिए हैं। जब वापस किए गए सामानों को ब्रांच में चेक किया गया तो वो सभी डुप्लीकेट कंपनी के निकले।

पुलिस ने इस मामले में IPC की धारा 419,420,421,467,407 और 381 के तहत केस दर्ज किया और मामले की जाँच शुरू कर दी। जाँच के दौरान पुलिस ने अनस को इसके पीछे जिम्मेदार पाया। उसे 23 जनवरी को कटरा क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। पुलिस के मुताबिक अनस ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उसने बताया है कि 24 अलग-अलग नंबरों से उसने फ्लिपकार्ट के अलग-अलग अकाउंट बनाए थे। इन अकाउंट से उसने खुद ही कई कीमती चीजों का ऑर्डर किया था।

अनस ने बताया कि घटना के दिन हर रोज की तरह वह सामान सप्लाई करने निकला। इस दौरान उसने फर्जी एकाउंट से ऑर्डर किए गए असली सामान निकाल लिए और डिब्बे में डुप्लीकेट सामान भर दिए। एक डिब्बे में तो उसने गिट्टी तक डाल दी थी। बाद में उसने ये सभी सामान वापसी का बता कर ब्रान्च में जमा करवा दिया। पुलिस ने अनस के पास से सैमसंग गैलेक्सी का 1 A73 मोबाइल फोन, एप्पल और सैमसंग की 1-1 घड़ी, 3 चार्जर केबल और एप्पल के 3 एयर पॉड बरामद किए हैं। सामान की बरामदगी के बाद पुलिस ने केस में IPC 411 भी जोड़ा है। आरोपित को चालान कर कोर्ट में पेश कर दिया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -