Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजजिससे ट्यूशन पढ़ता था कुशाग्र, उसके ही बॉयफ्रेंड ने किया 10वीं के छात्र का...

जिससे ट्यूशन पढ़ता था कुशाग्र, उसके ही बॉयफ्रेंड ने किया 10वीं के छात्र का कत्ल: कानपुर में कारोबारी को ‘अल्लाह हू अकबर’ वाला लेटर भेज माँगे थे ₹30 लाख

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रचिता वत्स और प्रभात शुक्ला का पिछले चार-पाँच सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी बीच रचिता वत्स कुशाग्र को ट्यूशन पढ़ाने लगी। प्रभात शुक्ला को संदेह था कि उसकी मंगेतर रचिता वत्स का अपने नाबालिग छात्र कुशाग्र के साथ अवैध संबंध हैं। इसके बाद प्रभात ने हत्या की साजिश रची।

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में कक्षा 10 के एक छात्र की हत्या उसकी ही पूर्व ट्यूटर ने कर दी है। मृतक का नाम कुशाग्र कनोडिया है। इस मामले में पुलिस ने छात्र की पूर्व ट्यूटर रचिता वत्स और उसके मंगेतर/बॉयफ्रेंड प्रभात शुक्ला और अंकित नाम के एक अन्य युवक को गिरफ्तार किया है। सोमवार (30 अक्टूबर 2023) को छात्र लापता हो गया था। इसके बाद 30 लाख रुपए की फिरौती माँगी गई थी। मंगलवार (31 अक्टूबर 2023) को छात्र का शव फजलगंज इलाके में मुख्य आरोपित प्रभात शुक्ला के पिता के घर से बरामद हुई है। फिरौती की चिट्ठी भी प्रभात ने ही लिखी थी।

पुलिस की पूछताछ में तीनों ने बताया कि फिरौती वाली चिट्ठी पर ‘अल्लाह हु अकबर’ उन्होंने लोगों को गुमराह करने के लिए लिखा था। प्रभात शुक्ला ही मृतक को बुलाकर अपने साथ ले गया था। पुलिस के हाथ लगे CCTV फुटेज से पता चला कि शुक्ला सोमवार को लगभग 4:30 बजे कनोडिया को लेकर एक स्टोरनुमा कमरे में जाता है और आधे घंटे बाद अकेले निकलता है। लेटर भेजने के लिए प्रयोग हुई स्कूटी को सीज कर दिया गया है। हालाँकि, तीनों आरोपितों से पूछताछ करते हुए पुलिस हत्या के असल कारणों की पड़ताल कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला कानपुर के रायपुरवा थाना क्षेत्र का है। यहाँ साड़ी का कारोबार करने वाले मनीष कनोडिया का मकान है। उनके 2 बेटों में से एक 15 साल का कुशाग्र कक्षा 10 का छात्र था। वह हर दिन की तरह सोमवार को भी कोचिंग करने गया था। जब काफी देर तक कुशाग्र लौटकर नहीं आया, तब उसके परिजनों ने खोजबीन शुरू कर दी। कुशाग्र का फोन भी स्विच ऑफ बता रहा था। जान-पहचान के साथ नाते-रिश्तेदारी में खोजने के बाद जब कुशाग्र का कुछ पता नहीं चला तब परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस केस दर्ज करके कुशाग्र की तलाश कर ही रही थी कि पीड़ित परिजनों को एक धमकी भरा पत्र मिला। पत्र के बीच में अल्लाह हु अकबर लिखा हुआ था। इसके अलावा, इसमें धमकी देते हुए कहा गया था कि ‘मैं नहीं चाहता कि आपका त्यौहार बर्बाद हो। आप मेरे हाथ पे पैसे रखो और लड़का 1 घंटे बाद आपके पास होगा।’ पत्र में लड़के की गाड़ी और मोबाइल फोन, दोनों ही पीड़ित परिवार के घर के बगल बने होटल सिटी क्लब के पास रखा बताया गया। न घबराने की नसीहत के साथ इस पत्र में ‘अल्लाह पर भरोसा’ रखने के लिए कहा गया था।

यह पत्र पीड़ित परिवार में एक युवक ने पहुँचाया था। सिक्योरिटी गार्ड के मुताबिक, चिट्ठी पहुँचाने वाला स्कूटी से आया था। संदिग्ध ने अपने चेहरे को ढँक कर के रखा हुआ था। इस स्कूटी के नंबर पर कालिख पुती हुई थी। पुलिस स्कूटी के आधार पर जाँच करते हुए महिला टीचर रचिता वत्स के घर पर पहुँच गई। वह 1 साल पहले तक मृतक को ट्यूशन पढ़ाया करती थी। हिरासत में लेकर महिला से पूछताछ के बाद कुशाग्र की लाश फज़लगंज स्थित प्रभात के पिता के मकान मेंर मिली।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रचिता वत्स और प्रभात शुक्ला का पिछले पाँच-छह सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी बीच रचिता वत्स कुशाग्र को ट्यूशन पढ़ाने लगी। प्रभात शुक्ला को संदेह था कि उसकी मंगेतर रचिता वत्स का अपने नाबालिग छात्र कुशाग्र के साथ अवैध संबंध हैं। इसके बाद प्रभात ने कुशाग्र को घर बुलवाकर उसकी हत्या कर दी और मामले को अपहरण का रंग देने कि लिए फिरौती का नाटक किया। आरोपित प्रभात के पिता सुनील कुमार शुक्ला होमगार्ड हैं और फजलगंज थाने में तैनात हैं। शव उन्हीं के घर से बरामद हुआ है। हालाँकि, अवैध संबंधों के कारण हत्या के सवाल पर पुलिस ने कहा कि इस संबंध में जाँच जारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

3 आतंकियों को घर में रखा, खाना-पानी दिया, Wi-Fi से पाकिस्तान करवाई बात: शौकत अली हुआ गिरफ्तार, हमलों के बाद OGW नेटवर्क पर डोडा...

शौकत अली पर आरोप है कि उसने सेना के जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों को कुछ दिन अपने घर में रखा था और वाई-फाई भी दिया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -