Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजबाल-बच्चेदार आदमी से गैंगरेप: दावा- पता पूछने के बहाने 4 लड़कियों ने कार में...

बाल-बच्चेदार आदमी से गैंगरेप: दावा- पता पूछने के बहाने 4 लड़कियों ने कार में खींचा, बारी-बारी बलात्कार कर फेंका

रात में लगभग 3 बजे उसके हाथों को बाँध कर उसे लेदर कॉम्प्लेक्स में फिर से छोड़ दिया गया। पीड़ित ने खुद को शादीशुदा और बाल-बच्चेदार बताया।

पंजाब के जालंधर में एक पुरुष ने 4 महिलाओं पर अपने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। पीड़ित युवक एक फैक्ट्री में काम करता है। आरोप है कि कार सवार 4 लड़कियों ने पहले उसे बेहोश किया फिर अपने साथ ले गईं। बाद में पीड़ित को नशा दे कर चारों ने उसका रेप किया। कथित तौर पर रेप के शिकार युवक ने लोकलाज का डर बता कर इस घटना की शिकायत थाने में नहीं दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला शहर के कपूरथला रोड का है। यहाँ एक फैक्ट्री कम मजदूरी करने वाले व्यक्ति ने अपनी आपबीती सुनाई है। पीड़ित का कहना है कि वह हर दिन की तरह फैक्ट्री से अपने घर के लिए निकला था। इस दौरान थोड़ी ही दूर चलने पर उसके सामने एक सफेद रंग की कार रुकी। कार में 4 लड़कियाँ बैठीं थीं, जिनकी उम्र 22-23 साल के बीच थी। इस दौरान एक लड़की ने एक पर्ची निकाली और पीड़ित से पता पूछा। जब पीड़ित पर्ची में पता देख रहा था तब उसकी आँखों में लड़कियों ने कुछ डाल दिया जिस से उसे दिखना बंद हो गया।

पीड़ित ने आगे बताया कि थोड़ी देर में ही वो बेहोश हो गया। इस दौरान लड़कियों ने उसे कार के अंदर खींच लिया। उसकी आँखों पर पट्टी बाँध दी गई और हाथों को पीछे से कस दिया गया। चारों कार में बिठा कर उसे किसी अज्ञात स्थान पर ले गईं जहाँ उसे जबरन नशा दिया गया। बताया जा रहा है कि इस दौरान लड़कियाँ भी शराब पी रहीं थीं। बाद में चारों लड़कियों ने उसके साथ बारी-बारी से रेप किया।

रात में लगभग 3 बजे उसके हाथों को बाँध कर उसे लेदर कॉम्प्लेक्स में फिर से छोड़ दिया गया। पीड़ित ने खुद को शादीशुदा और बाल-बच्चेदार बताया। उसने पुलिस में किसी भी तरह की शिकायत करने से मना कर दिया। इसकी वजह पीड़ित लोकलाज को बता रहा है। पीड़ित का कहना है कि घर लौट कर उसने अपने परिवार को सारी बात बताई थी। पीड़ित के मुताबिक, उसका परिवार भी इस बात से संतुष्ट है कि उसकी जान बच गई।

पीड़ित का कहना है कि उसका रेप करने वाली लड़कियाँ अंग्रजी में बात कर रहीं थी और वो अच्छे घरों से भी लग रही थीं। पीड़ित से बात करने के लिए वो पंजाबी में बोलती थीं। बताया जा रहा है कि खुफ़िया विभाग पीड़ित के बयान के आधार पर अपनी पड़ताल में जुट गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -