Saturday, November 27, 2021
Homeदेश-समाजमोदिस्सर, अख्तर और सफायत ने मिलकर किया किशोरी से गैंगरेप, पीड़िता किशोरी ने खाया...

मोदिस्सर, अख्तर और सफायत ने मिलकर किया किशोरी से गैंगरेप, पीड़िता किशोरी ने खाया ज़हर

आरोपित किशोरी के गाँव का रहने वाला मोदिस्सर अंसारी ही है, जिसने बहला फुसलाकर बच्ची का अपहरण किया और अंजान जगह ले जाकर बंधक बना लिया। इसके बाद अंसारी ने अपने 2 दोस्तों अख्तर और सफायत अली के साथ मिलकर बच्ची के साथ.......

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से एक बार फिर गैंगरेप की घटना सामने आई है। यह मामला है गगहा इलाके का, जहाँ दूसके समुदाय के तीन युवकों ने किशोरी का अपहरण करके उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर जबरन शादी करने की कोशिश की। हालाँकि, पीड़िता किसी प्रकार उन बदमाशों की चंगुल से निकल आई, लेकिन इस घटना से वह इतनी आहत हुई कि उसने घर लौटकर ज़हर खा लिया।

लड़की की हालत देख उसके घरवालों ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया और आंशिक सुधार होने पर पुलिस को घटना की तहरीर दी। सूचना मिलते ही पुलिस सामूहिक दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मामले को दर्ज करके तीनों आरोपितों की तलाश कर रही है।

हिंदुस्तान की खबर का स्क्रीनशॉट

जानकारी के अनुसार आरोपित किशोरी के गाँव का रहने वाला मोदिस्सर अंसारी ही है, जिसने 1 जुलाई को बहला फुसलाकर बच्ची का अपहरण किया और अंजान जगह ले जाकर बंधक बना लिया। इसके बाद अंसारी ने अपने 2 दोस्तों अख्तर और सफायत अली के साथ मिलकर बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर उससे जबरन शादी की कोशिश की। लेकिन देर रात पीड़िता किसी तरह बदमाशों के चंगुल से छूटकर घर लौट आई और सबको आपबीती बताई।

सुबह होते-होते इस घटना की सूचना पूरे गाँव फैल गई, जिससे आहत होकर लड़की ने जहर खा लिया। घरवालों ने उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया, लेकिन डॉक्टरों ने भी वहाँ से उसे मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।

कल यानी गुरुवार को बच्ची की हालत में सुधार होने पर पिता ने थाने में मामले की तहरीर दी, और तीनों आरोपितों के ख़िलाफ़ आईपीसी धारा 363, 366, 376 व 3/4 पॉक्सों एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बढ़ता आरक्षण हो, समान नागरिक संहिता या… कुछ और: संविधान दिवस बनेगा विमर्शों का कारण, पिछले 7 सालों में PM मोदी ने दी है...

विमर्शों का कोई अंतिम या लिखित निष्कर्ष निकले यह आवश्यक नहीं पर विमर्श हो यह आवश्यक है क्योंकि वर्तमान काल भारतीय संवैधानिक लोकतंत्र की यात्रा के मूल्यांकन का काल है।

कश्मीर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के कमांडर हाजी आरिफ को मार गिराया, 2018 के बैट हमले में इस पूर्व पाक सैनिक की थी अहम...

जम्मू-कश्मीर में एलओसी के निकट सुरक्षाबलों ने आतंकियों के मददगार हाजी आरिफ को मार गिराया। पहले पाकिस्तानी सेना में था यह आतंकी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
139,817FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe