Saturday, May 25, 2024
Homeदेश-समाज'17 मर्डर कर चुका हूँ, तीन तुम्हारे करने है': रविंद्र पर वसीम ने साथियों...

’17 मर्डर कर चुका हूँ, तीन तुम्हारे करने है’: रविंद्र पर वसीम ने साथियों के साथ किया हमला, लगे अल्लाह-हू-अकबर नारे, गाजियाबाद पुलिस ने 5 आरोपितों को किया गिरफ्तार

"जाते समय वसीम ने कहा कि 17 मर्डर कर चुका हूँ और तीन तुम्हारे करने है। इतना सुनते ही पूरी कॉलोनी इकट्ठी हो गई और वो लोग अपने घर में डर की वजह से छुप गए। वहीं हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए।"

गाजियाबाद के मधुबन बापूधाम थानाक्षेत्र में मंगलवार (3 मई, 2022) की रात को आपसी विवाद में अल्लाह-हू-अकबर नारे के साथ, मारपीट और पत्थरबाजी का मामला सामने आया है। मामले में की गई शिकायत में एक पक्ष रविंद्र ने आरोप लगाया है कि वसीम और उसके साथियों ने अल्लाह-हू-अकबर का नारा लगते हुए उस पर और उसके परिवार पर न सिर्फ हमला किया बल्कि जान से मारने की धमकी भी दी। रविंद्र ने वसीम और 10 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई है। मामला गाजियाबाद के संजय नगर सेक्टर-23 का बताया जा रहा है।

मामले में रविंद्र की ओर से की गई शिकायत

बापूधाम थाने में दर्ज FIR में लिखाया गया है कि मंगलवार रात करीब 9.45 बजे वसीम जो रफीक का पुत्र और रहीसपुर का निवासी बताया जा रहा है। मामले में दर्ज FIR में रविंद्र ने बताया, “वसीम 10-12 लोगों के साथ अल्लाह-हू-अकबर का नारा लगाते हुए आया और मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए पत्थर और सरिया से हमला किया। जिसमें मेरे भाई मनोज, मेरी पत्नी पूजा, और परिवार के कई सदस्यों को गंभीर चोटें आई हैं। जाते समय वसीम ने कहा कि 17 मर्डर कर चुका हूँ और तीन तुम्हारे करने है। इतना सुनते ही पूरी कॉलोनी इकट्ठी हो गई और वो लोग अपने घर में डर की वजह से छुप गए। वहीं हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए।”

हालाँकि, मामला बढ़ने पर मौकाए वारदात पर पुलिस तुरंत ही पहुँच गई और पुलिस दोनों पक्षों को लेकर जब थाने आई तो कहा जा रहा है कि रविंद्र की ओर से बालाजी मंदिर हिंडन विहार के महंत मछेंद्रपुरी महाराज भी वहाँ पहुँच गए। पुलिस ने उन्हें समझाते हुए वहाँ से जाने के लिए कहा। पुलिस ने कहा कि हम इस मामले में आवश्यक कार्रवाई कर रहे हैं, किसी अन्य व्यक्ति को हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है।

वहीं इस दौरान का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें महंत मछेंद्रपुरी महाराज यह बयान देते नजर आ रहे हैं कि यदि वैसे तो योगी की सरकार है कार्रवाई तो होगी ही फिर भी यदि पुलिस कार्रवाई नहीं करेगी तो वह मस्जिद में घुसकर उस आरोपित मौलवी को मारेंगे।

बता दें कि पुलिस ने इस मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ FIR दर्ज करते हुए पाँच लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं कहा जा रहा है कि महंत के खिलाफ भी धार्मिक भावनाएँ भड़काने का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में महंत के खिलाफ IPC की धारा-295 ए के तहत FIR दर्ज किया गया है

वहीं मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि यह पूरा विवाद पैसों की लेन-देन को लेकर शुरू हुआ था। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रविंद्र ने वसीम से कुछ रुपए उधार लिए थे। वसीम काफी दिनों से अपने रुपए वापस माँग रहा था। जिसे लेकर मंगलवार रात को दोनों पक्षों में विवाद हुआ और फिर मारपीट होने लगी।

गौरतलब है कि मामला दो सम्प्रदायों से जुड़ा होने के कारण से रात में ही पुलिस बल मौके पर पहुँच गया था। पुलिस दोनों पक्षों को चौकी पर ले आई और समझाकर इलाके का माहौल शांत कराया। वहीं वसीम ने भी रविंद्र पक्ष पर एफआईआर दर्ज कराई है।

रिपोर्ट के अनुसार, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने भी इस बात की पुष्टि की है कि दोनों पक्षों की रिपोर्ट दर्ज करके पाँच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने दूसरे पक्ष के वसीम, अंसार, फुरकान और नीरज को गिरफ्तार किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुजरा करने दो विपक्ष को… मैं खड़ा हूँ एसी-एसटी और ओबीसी के आरक्षण के साथ’ : PM मोदी की बिहार-यूपी में हुंकार, बोले- नहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वो एससी/एसटी ओबीसी के आरक्षण के साथ हर हाल में खड़े हैं। वो वंचितों का अधिकार नहीं छिनने देंगे।

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -