Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजकंडक्टर बस दौड़ाता रहा, ड्राइवर आरिफ तेज़ म्यूजिक बजा कर करता रहा रेप: हाइवे...

कंडक्टर बस दौड़ाता रहा, ड्राइवर आरिफ तेज़ म्यूजिक बजा कर करता रहा रेप: हाइवे पर चलती बस में युवती से बलात्कार, चीख-पुकार सुन सवारियों ने पकड़ा

पीड़ित लड़की ने पुलिस को बताया है कि इस प्राइवेट बस में वो 9 दिसंबर को कानपुर से चढ़ी थी। कानपुर से बस रवाना होने के करीब आधे घंटे बाद ड्राइवर ने अपनी चाल में फँसाने के लिए उससे कहा कि आपकी सीट के पास शराबी लड़के बैठे हैं।

उत्तर प्रदेश के कानपुर से राजस्थान के जयपुर के लिए बस में सवार हुई 19 साल की लड़की को बस ड्राइवर आरिफ ने चलती बस में अपनी हवस का शिकार बना डाला। लड़की को आरिफ ने ये कहते हुए अपने केबिन में सोने के लिए कहा कि उसकी केबिन के आसपास शराबी लड़के हैं। लेकिन, रात में उसने बस की स्टेयरिंग कंडक्टर को थमा दी और म्यूजिक सिस्टम में तेज आवाज में गाने बजा दिए। इसके बाद वो केबिन में घुस गया और लड़की के साथ रेप को अंजाम दिया। इस बीच, लड़की की चीख-पुकार सुनकर सवारियों ने बस को रुकवा लिया और ड्राइवर को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई की।

‘दैनिक भास्कर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में सवारियों ने जैसे ही बस को रुकवाया, कंडक्टर बस से उतर कर फरार हो गया। जब सवारियों ने केबिन को जबरन खुलवाया, तब जाकर लड़की के साथ हैवानियत का पता चला। इसके बाद पीड़ित लड़की ने कानोता थाने में बस ड्राइवर आरिफ के खिलाफ FIR दर्ज कराई है, जिसकी जाँच की कमान बस्सी के एसीपी फूलचंद संभाल रहे हैं।

पीड़ित लड़की ने पुलिस को बताया है कि इस प्राइवेट बस में वो 9 दिसंबर को कानपुर से चढ़ी थी। कानपुर से बस रवाना होने के करीब आधे घंटे बाद ड्राइवर ने अपनी चाल में फँसाने के लिए उससे कहा कि आपकी सीट के पास शराबी लड़के बैठे हैं, ऐसे में वो अपनी सीट की जगह ड्राइवर के ऊपर की केबिन में बैठ जाए। इस केबिन में चार लड़के और एक लड़की पहले से थे। रात करीब 11 बजे ड्राइवर के ऊपर वाली सीट पर लेटी लड़की उतर कर नीचे आ गई। इसके बाद उसने बस में चल रहे म्यूजिक सिस्टम में तेज आवाज में गाना बजा दिया और बस की स्टेयरिंग कंडक्टर को सौंप दी।

पीड़िता ने बताया कि वो उस समय सो रही थी, जब ड्राइवर आरिफ ऊपर की केबिन में आया और केबिन को बंद कर लिया। उसने लड़की के साथ रेप की कोशिश शुरू कर दी। उसने काफी शोर मचाया और उसके चंगुल से निकलने की कोशिश की, लेकिन आरिफ उस पर भारी पड़ा। इस दौरान सवारियों ने लड़की की आवाज सुनकर बस को कानोता में पेट्रोल पंप के पास जबरदस्ती रुकवाया और उसे बचाया। इसके बाद सवारियों ने आरोपित आरिफ की जमकर पिटाई की और पुलिस को सौंप दिया।

पीड़िता ने कानोता थाने में ड्राइवर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, जिसके बाद पुलिस ने गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर उसका मेडिकल कराया है। इस मामले की जाँच बस्सी के ACP फूलचंद कर रहे हैं।

इस वारदात की जानकारी सामने आने के बाद लोगों में काफी गुस्सा दिख रहा है। सोशल मीडिया पर लोगों ने आरोपित के एनकाउंटर की माँग की है। ‘डॉ लाडला’ नाम के ‘X’ हैंडल ने लिखा, “जयपुर के हाइवे पर चलती बस में युवती से रेप, बस ड्राइवर आरिफ खान ने रेप किया। तेज आवाज में म्यूजिक चलाकर कंडक्टर बस दौड़ाता रहा। भजनलाल शर्मा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद इन रेपिस्ट जिहादियों के एनकाउंटर की खबर आनी चाहिए।”

बता दें कि कुछ समय पहले ही निर्भया कांड जैसे मामले में जयपुर में एक महिला को अगवा कर उसके साथ हैवानियत की वारदात सामने आई थी। वो मामला 17 नवंबर का था, जिसमें पीड़ित के परिजनों ने पुलिस से उसके अगवा होने की शिकायत की थी, तो पुलिस ने मामले को अनसुना करके 24 घंटे बाद आने के लिए कहा था। बाद में महिला बेहोशी की हालत में सड़क पर मिली थी। पीड़ित ने बताया था कि बस के ड्राइवर ने उसे मारने की नियत से चलती बस से फेंक दिया था। उस मामले में पुलिस ने आरोपित ड्राइवर राजेंद्र को गिरफ्तार कर लिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -