Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजमेरे बेटे पर पानी छिड़का था, ₹4 लाख का दिया प्रलोभन: रो​हित जायसवाल की...

मेरे बेटे पर पानी छिड़का था, ₹4 लाख का दिया प्रलोभन: रो​हित जायसवाल की मॉं

रोहित जायसवाल की मॉं ने गंभीर आरोप लगाए हैं और कहा है कि उनके बेटे का पोस्टमार्टम तक ठीक से नहीं किया गया।

अपडेट: बिहार के डीजीपी की जॉंच के बाद हम सूचनाओं को अपडेट कर रहे हैं। पीड़ित पिता इस दौरान कई बार अपने बयान से मुकरे हैं। लिहाजा उनकी ओर से किए गए सांप्रदायिक दावों को हम हटा रहे हैं। हमारा मकसद किसी संप्रदाय की भावनाओं का आहत करना नहीं था। केवल पीड़ित पक्ष की बातें सामने रखना था। इस क्रम में किसी की भावनाओं को ठेस पहुॅंची हो तो हमे खेद है।

गोपालगंज के रोहित जायसवाल की कथित हत्या को लेकर अलग-अलग मीडिया संस्थानों द्वारा अलग-अलग बातें कही जा रही है। अब रोहित की माँ का बयान आया है। उन्होंने अपने बेटे के ऊपर पानी छिड़के जाने की बात कही है। साथ ही कहा है कि उनके परिवार की गाँव में किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी।

रोहित की माँ ने ये बातें ‘द बिहार मेल’ से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि रोहित को बुलाकर ले जाने वाले लड़कों ने ही इस बात को कबूल किया है कि उन सबने रोहित को मारकर गाँव से 3-4 किलोमीटर दूर एक नदी में फेंक दिया है। उन लड़कों को गाँव के ही लोगों ने पकड़ा और उनके सामने ही आरोपितों ने हत्या की बात स्वीकार की।

रोहित जायसवाल की मॉं ने गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने दावा किया है कि उनके बेटे का पोस्टमार्टम तक ठीक से नहीं किया गया। उन्होंने आगे बताया कि थानाध्यक्ष अश्विनी तिवारी ने आरोप वापस लेने के एवज में रोहित के पिता राजेश जायसवाल को 4 लाख रुपए दिलाने का प्रलोभन दिया था।

उन्होंने बताया कि थानाध्यक्ष बार-बार ‘कम्परमाइज करने’ की बातें कर रहे थे और कह रहे थे कि तुम कितनी भी कोशिश कर लो, कुछ नहीं कर पाओगे। रोहित की माँ ने आरोप लगाया कि उनके बेटे की लाश की जाँच किए बिना डूब कर मरने की बात कह दी गई और कोई छानबीन नहीं की गई। उन्होंने बताया कि उनके पति के साथ गाली-गलौज कर उन्हें भगा दिया।

रोहित जायसवाल की माँ का बयान (साभार: द बिहार मेल)

उन्होंने बताया कि इसके बाद वो भी अपने पति के साथ थानाध्यक्ष के पास शिकायत लेकर गईं लेकिन फिर भी उन्होंने गाली-गलौज किया। रोहित जायसवाल की माँ ने कहा कि उन्होंने ही अपने पति को मोबाइल का रिकॉर्डर ऑन रखने को कहा था, ताकि उनके पास थानाध्यक्ष के अत्याचार के सबूत रहे। रोहित का परिवार कटेया थाना क्षेत्र के बेलहीडीह गाँव का निवासी है।

इस मामले में पुलिस ने पहले कहा था कि 5 आरोपितों को जेल भेज कर त्वरित कार्रवाई की जा चुकी है। पिता राजेश जायसवाल ने भी कहा था कि उनलोगों की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। हमने राजेश से बातचीत की रिकॉर्डिंग भी जारी की थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,028FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe