Sunday, May 29, 2022
Homeदेश-समाजविक्षिप्त नहीं है गोरखनाथ मंदिर पर हमला करने वाला मुर्तजा अब्बासी, इलाज करने वाले...

विक्षिप्त नहीं है गोरखनाथ मंदिर पर हमला करने वाला मुर्तजा अब्बासी, इलाज करने वाले डॉक्टर ने बताया

डॉक्टरों ने अपनी जाँच में पाया है है कि आरोपित अब्बासी मुर्तजा मानसिक रूप से विक्षिप्त नहीं है। वह सुरक्षा एजेंसियों को लगातार गुमराह करने की कोशिश कर रहा है।

गोरखपुर मंदिर पर हुए हमले की जाँच के साथ नए-नए खुलासे हो रहे हैं। मंदिर के बाहर पुलिस के जवानों पर हमला करने वाले आरोपित मुर्तजा अब्बासी को लेकर डॉक्टरों ने पुष्टि की है कि वह मानसिक रूप से अस्वस्थ नहीं है।

गोरखपुर जिला अस्पताल के अधीक्षक डॉ. जेएसपी सिंह ने बताया कि गिरफ्तारी के तुरंत बाद जब आरोपित को मेडिकल जाँच के लिए लाया गया तो वह ठीक से बातें कर रहा था। वह आराम से डॉक्टरों और पुलिस के सवालों का जवाब दे रहा था और उसने कोई हिंसक व्यवहार नहीं किया, जो कि डॉक्टरों को विश्वास दिलाता है कि वह मानसिक रूप से अस्थिर नहीं है।

दरअसल, मंदिर पर हमले के बाद ही आरोपित हमलावर मुर्तजा अब्बासी के अब्बू ने कहा था कि उसका मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। कहा ये भी जा रहा है कि मुर्तजा की बीवी ने भी उसे छोड़ दिया और ऐसे में वो डिप्रेशन में चला गया था। उसके अब्बू का कहना था कि कई रातों से वो सो नहीं पाया।

बता दें कि डॉक्टरों ने अपनी जाँच में पाया है है कि आरोपित अब्बासी मुर्तजा मानसिक रूप से विक्षिप्त नहीं है। वह सुरक्षा एजेंसियों को लगातार गुमराह करने की कोशिश कर रहा है।

मामले की जाँच कर रही यूपी एटीएस की टीम अब्बासी मुर्तजा के बैकग्राउंड की जानने के लिए मुंबई पहुँच गई है। वहीं एक दूसरी टीम आईआईटी बॉम्बे भी जाँच के लिए जाने की बात कही जा रही है। अहमद मुर्तजा अब्बासी ने साल 2010 में बी. टेक में दाखिला लिया था और साल 2015 में उसे ग्रेजुएशन की डिग्री मिली थी।

अभी तक की जाँच में सामने आया है कि अब्बासी मुर्तजा अकेला गोरखपुर नहीं पहुँचा था। उसके साथ दो और लोग भी मौजूद थे। जो मुर्तुजा को हमले के बाद छोड़कर फरार हो गए। यूपी पुलिस दोनों साथियों की तलाश कर रही है।

इससे पहले मुर्तुजा को लेकर बड़ा खुलासा हुआ था वह जाकिर नाइक और ISIS के वीडियोज देखता था। साथ ही लोन वुल्फ अटैक की फिराक में भी था। मुर्तजा के पास से एक पेन ड्राइव मिली है जिसमें भड़काऊ वीडियो बरामद हुए हैं। मुर्तजा के लैपटॉप से सीरिया से जुड़ा वीडियो और साहित्य भी मिला है। एजेंसियाँ यह जानकारी जुटा रही हैं कि इसके पास सिर्फ वीडियो हैं या वाकई इसके तार ISIS या किसी दूसरे आतंकी संगठन से जुड़े हैं।

गौरतलब है कि हमलावर मुर्तुजा अब्बासी जबरन मंदिर में घुसने की कोशिश कर रहा था। पुलिस के मुताबिक आरोपित ने ‘अल्लाहु अकबर’ का नारा लगाकर जबरन मंदिर परिसर में घुसने की कोशिश की। वह गेट के पास एक पीएसी पोस्ट पर गया और उसने पुलिस पर हमला करने की कोशिश की। हमले में दो पीएसी कांस्टेबल घायल हुए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

‘कब्ज़ा कर के बनाई गई मस्जिद को गिरा दो’: मंदिरों को ध्वस्त कर बनाए गए मस्जिदों पर बोले थे गाँधी – मुस्लिम खुद सौंप...

गाँधी जी ने लिखा था, "अगर ‘अ’ (हिन्दू) का कब्जा अपनी जमीन पर है और कोई शख्स उसपर कोई इमारत बनाता है, चाहे वह मस्जिद ही हो, तो ‘अ’ को यह अख्तियार है कि वह उसे गिरा दे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe