Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाज'यहाँ नवरात्रि नहीं मना सकते': गुजरात में हिंदुओं पर पथराव, आरिफ और जहीर की...

‘यहाँ नवरात्रि नहीं मना सकते’: गुजरात में हिंदुओं पर पथराव, आरिफ और जहीर की अगुवाई में कट्टरपंथी भीड़ ने किया हमला

स्थानीय लोगों ने बताया कि उनसे कहा गया कि यहाँ नवरात्रि नहीं मनाई जा सकती। खेड़ा के डीएसपी राजेश गढ़िया ने बताया कि सभी आरोपितों की पहचान की जा रही है।

गुजरात (Gujarat) के खेड़ा में नवरात्रि (Navratri celebration in Kheda) के दौरान एक गरबा समारोह में कट्टरपंथी मुस्लिमों (Muslim mob) ने हिंदुओं पर पथराव कर दिया, जिसमें 6 लोग घायल हो गए हैं। घटना खेड़ा स्थित उंधेला गाँव की है। शुरुआती जाँच में सामने आया है कि सोमवार (3 अक्टूबर 2022) रात नवरात्रि उत्सव पर आरिफ और जहीर (Arif and Zahir) नाम के दो युवकों के अगुवाई में मुस्लिम भीड़ ने हिंदू भक्तों पर पथराव किया।

स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, खेड़ा जिले के मातर तालुका के उंधेरा गाँव में नवरात्रि मना रहे लोगों पर पथराव किया गया। लगभग 6 से 7 लोग घायल हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पथराव में दो पुलिस अधिकारी भी घायल हुए हैं। पुलिस ने गाँव में सुरक्षा बढ़ा दी है। घटना के बाद से लोगों में आक्रोश है। आने-जाने वाले लोगों की तलाशी ली जा रही है। इस घटना के दौरान एक गाड़ी के शीशे भी टूट गए।

रिपोर्ट के अनुसार, नवरात्रि समारोह के दौरान आरिफ और जहीर ने हमलावर भीड़ का नेतृत्व किया और नवरात्रि उत्सव के दौरान हंगामा किया। गाँव के लोगों ने स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश की, लेकिन भीड़ पीछे नहीं हटी। स्थानीय लोगों ने बताया कि उनसे कहा गया कि यहाँ नवरात्रि नहीं मनाई जा सकती। खेड़ा के डीएसपी राजेश गढ़िया ने बताया कि सभी आरोपितों की पहचान की जा रही है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। गाँव में पुलिस तैनात कर आवश्यक इंतजाम किए गए हैं।

बीते दिनों खेड़ा जिले के नाडियाद के हथाज गाँव स्थित प्ले सेंटर स्कूल में नवरात्रि के दौरान आयोजित समारोह में बच्चों से गरबा कराने की बजाए उनसे ताजिया प्ले कराने का मामला सामने आया था। स्कूल के मुस्लिम शिक्षक ने गरबा की जगह ताजिया प्ले के लिए बच्चों पर दबाव डाला था। इसका वीडियो भी सामने आया था। इसके अलावा नवरात्रि में ऐसी भी खबरें आई हैं कि मुस्लिम पुरुषों ने फर्जी नामों से गरबा पंडाल में प्रवेश करने की कोशिश की। वहीं, कुछ इलाकों में स्थानीय मुस्लिमों ने नवरात्रि मनाने का भी विरोध किया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘दरबार हॉल’ अब कहलाएगा ‘गणतंत्र मंडप’, ‘अशोक हॉल’ बना ‘अशोक मंडप’: महामहिम द्रौपदी मुर्मू का निर्णय, राष्ट्रपति भवन ने बताया क्यों बदला गया नाम

राष्ट्रपति भवन ने बताया है कि 'दरबार' का अर्थ हुआ कोर्ट, जैसे भारतीय शासकों या अंग्रेजों के दरबार। बताया गया है कि अब जब भारत गणतंत्र बन गया है तो ये शब्द अपनी प्रासंगिकता खो चुका है।

जिसका इंजीनियर भाई एयरपोर्ट उड़ाने में मरा, वो ‘मोटू डॉक्टर’ मारना चाह रहा था हिन्दू नेताओं को: हाई कोर्ट से माँग रहा था रहम,...

कर्नाटक हाई कोर्ट ने आतंकी मोटू डॉक्टर को राहत देने से इनकार कर दिया है। उस पर हिन्दू नेताओं की हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -