Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाजज्ञानवापी विवादित ढाँचे में फिर सर्वे शुरू: तहखाने से होगी वीडियोग्राफी, चाबी नहीं मिलने...

ज्ञानवापी विवादित ढाँचे में फिर सर्वे शुरू: तहखाने से होगी वीडियोग्राफी, चाबी नहीं मिलने पर तोड़ा जाएगा ताला, शहर में CM योगी भी मौजूद

अंजुमन इंतेजामिया मस्जिद कमेटी के सचिव यासीन सईद ने मुस्लिमों से शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि आवाम सब्र से काम ले और शांति व्यवस्था बनाए रखें, क्योंकि विरोध करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi, Uttar Pradesh) स्थित ज्ञानवापी परिसर में बने विवादित मस्जिद (Gyanvapi Masjid) का आज शनिवार (14 मई 2022) को फिर से सर्वे और वीडियोग्राफी का काम शुरू हो गया है। पिछली बार के हालातों को देखते हुए और कोर्ट के सख्त रूख के कारण सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए हैं। सर्वे के लिए कमिश्नर अजय कुमार मिश्र (Ajay Kumar Mishra) के साथ विशेष कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह (Vishal Singh) और सहायक कोर्ट कमिश्नर अजय प्रताप सिंह (Ajay Pratap Singh) भी रहेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की संभावित दौरे की तैयारियों को देखने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) भी आज वाराणसी में हैं। इसका विशेष ध्यान रखा गया है। उधर, ज्ञानवापी विवाद मामले की याचिकाकार्ता राखी सिंह (Rakhi Singh) का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता शिवम गौर (Shivam Gaur) ने बताया, ”आज हम अंडरग्राउंड सेल में प्रवेश करेंगे और वीडियोग्राफी शुरू करेंगे।”

मस्जिद कमिटी और मुस्लिमों के विरोध को देखते हुए इस बार सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। विवादित क्षेत्र के 500 मीटर के दायरे में आने वाले सभी दुकानों को बंद करा दिया गया है। वहीं, मंदिर के दर्शनार्थियों को लेकर काशी जोन के DCP आरएस गौतम ने कहा कि लोगों को किसी भी तरह की असुविधा न हो, इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं, दर्शन अच्छे से हो और सब कुछ ठीक रहे।

ज्ञानवापी परिसर का सर्वे सुबह आठ बजे से 12 बजे तक होगा। इस संबंध में शुक्रवार (13 मई 2022) को प्रशासन ने प्रतिवादी अंजुमन इंतेजामिया मस्जिद कमेटी के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर उनसे तहखाने की चाभी माँगी। कमिटी के प्रतिनिधियों ने कहा कि वे तहखाना खोलकर सर्वे में कमीशन को मदद करेंगे। अधिकारियों ने कहा कि सर्वे के दौरान तहखाना खुला रहना चाहिए।

वहीं, प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने कहा कि यदि चाभी नहीं दी जाती है तो कोर्ट के आदेश का पालन करने के लिए ताला तोड़ा जाएगा। अंजुमन के पदाधिकारियों ने तहखाने की चाभी अपने पास होना कबूल किया। तब पदाधिकारियों ने ताला खोलकर सर्वे कराने का भरोसा दिया।

अंजुमन इंतेजामिया मस्जिद कमेटी के सचिव यासीन सईद ने मुस्लिमों से शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि कोर्ट के आदेश के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती है और कमेटी कानूनी कार्यवाही कर रही है। उन्होंने कहा कि आवाम सब्र से काम ले और शांति व्यवस्था बनाए रखें, क्योंकि विरोध करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

बता दें कि काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी परिसर में बनी मस्जिद का विवाद 1931 से जारी है। इस प्रकरण में प्रतिवादी सुप्रीम कोर्ट भी पहुँचा था और यथास्थिति बनाए रखने की अपील की थी, लेकिन कोर्ट ने इससे इनकार कर दिया। हालाँकि, मामले की सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार हो गया है।

वाराणसी में सीएम योगी

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी में हैं। आज वे पार्टी के कार्यकर्ताओं और अधिकारियों से बैठक कर कामकाज का ब्यौरा लेंगे। इसके पहले सीएम योगी ने शुक्रवार की देर रात शहर के निमार्णाधीन और पूरी हो चुकी परियोजनाओं का निरीक्षण किया। इसके साथ ही उन्होंने काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन भी की।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने जून में वाराणसी का दौरा करेंगे। वे जनवरी से अब तक पूरी हो चुकी परियोजनाओं को वाराणसी के लोगों को समर्पित करेंगे। इसके साथ ही वे कई अन्य बड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे, जिसमें रिवर फ्रंट योजना, शहर की यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए रोपवे परियेाजना आदि भी शामिल हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -