Tuesday, September 21, 2021
Homeदेश-समाजराष्ट्रगान के दौरान 'अल्लाहु अकबर' का विरोध करने पर रफीकुल और अशफुल ने ...

राष्ट्रगान के दौरान ‘अल्लाहु अकबर’ का विरोध करने पर रफीकुल और अशफुल ने 9वीं के छात्र अरुप को पीटा

पश्चिम बंगाल की घटना। दोषी छात्रों पर स्कूल ने नहीं की कार्रवाई। पुलिस ने नहीं दर्ज किया मामला। मामले के निपटारे के लिए पीड़ित की मॉं से सादे कागज पर कराए हस्ताक्षर।

पश्चिम बंगाल में 9वीं कक्षा के एक छात्र को स्कूल के सीनियर छात्रों ने बुरी तरह पीटा। स्कूल में राष्ट्रगान के दौरान ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाए जाने पर एतराज जताने के बाद छात्र की पिटाई की गई। घटना गुरुवार (जुलाई 18, 2019) की है। पीड़ित छात्र अरुप हलधर का उपचार चल रहा है।

ख़बरों के मुताबिक घटना 24 परगना जिले के कैनिंग तालड़ी मोहनचंद हाई स्कूल की है। रफीकुल गाज़ी और अशफुल गाज़ी इस मामले के मुख्य आरोपित हैं। दोनों ने 12वीं के दो अन्य छात्रों के साथ मिलकर अरुप की पिटाई की।

बंगाली डेली दैनिक जुगसांखा की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार की सुबह अन्य दिनों की तरह ही छात्र राष्ट्रगान जन गण मन गा रहे थे। तभी वहाँ पर कक्षा 12 के कुछ मुस्लिम छात्रों ने अचानक से अल्लाहु अकबर का नारा लगाना शुरू कर दिया।

दैनिक जुगसांखा में छपी खबर का स्क्रीनशॉट

मुस्लिम छात्रों द्वारा मज़हबी नारा लगाने पर अन्य छात्र तो चुप रहे, मगर अरुप ने इसका विरोध किया। इसके बाद मुस्लिम छात्रों ने अरुप की बुरी तरह पीटा। गंभीर रूप से घायल अरुप को स्कूल के शिक्षकों ने कैनिंग अस्पताल में भर्ती कराया।

अरुप के परिवार वालों का कहना है कि दोषी छात्रों पर स्कूल ने कोई कार्रवाई नहीं की। इतना ही नहीं पुलिस ने मामला दर्ज करने से मना कर दिया। पुलिस पर मामले के निपटारे के लिए सादे कागज पर अरुप की माँ के हस्ताक्षर लेने के भी आरोप हैं।

गौरतलब है कि, इससे पहले 11 जुलाई 2019 को पश्चिम बंगाल के हावड़ा स्थित श्री रामकृष्ण शिक्षालय नामक स्कूल में पहली कक्षा में पढ़ने वाले छात्र आर्यन सिंह की शिक्षक ने क्लास में ‘जय श्री राम’ बोलने पर बेरहमी से पिटाई कर दी थी। पिटाई से छात्र इतना ज्यादा डरा हुआ था कि वो स्कूल जाने से मना कर रहा था। आर्यन ने बताया था कि उसके एक दोस्त आकाश साव ने उससे जय श्री राम बोलने के लिए बोला तो उसने बोल दिया। उसी समय क्लास रूम के पास से गुजर रहे एक शिक्षक ने कक्षा में आकर उसकी पिटाई कर दी और जय श्री राम का नारा लगाने से मना किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe