राष्ट्रगान के दौरान ‘अल्लाहु अकबर’ का विरोध करने पर रफीकुल और अशफुल ने 9वीं के छात्र अरुप को पीटा

पश्चिम बंगाल की घटना। दोषी छात्रों पर स्कूल ने नहीं की कार्रवाई। पुलिस ने नहीं दर्ज किया मामला। मामले के निपटारे के लिए पीड़ित की मॉं से सादे कागज पर कराए हस्ताक्षर।

पश्चिम बंगाल में 9वीं कक्षा के एक छात्र को स्कूल के सीनियर छात्रों ने बुरी तरह पीटा। स्कूल में राष्ट्रगान के दौरान ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाए जाने पर एतराज जताने के बाद छात्र की पिटाई की गई। घटना गुरुवार (जुलाई 18, 2019) की है। पीड़ित छात्र अरुप हलधर का उपचार चल रहा है।

ख़बरों के मुताबिक घटना 24 परगना जिले के कैनिंग तालड़ी मोहनचंद हाई स्कूल की है। रफीकुल गाज़ी और अशफुल गाज़ी इस मामले के मुख्य आरोपित हैं। दोनों ने 12वीं के दो अन्य छात्रों के साथ मिलकर अरुप की पिटाई की।

बंगाली डेली दैनिक जुगसांखा की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार की सुबह अन्य दिनों की तरह ही छात्र राष्ट्रगान जन गण मन गा रहे थे। तभी वहाँ पर कक्षा 12 के कुछ मुस्लिम छात्रों ने अचानक से अल्लाहु अकबर का नारा लगाना शुरू कर दिया।

दैनिक जुगसांखा में छपी खबर का स्क्रीनशॉट
- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मुस्लिम छात्रों द्वारा मज़हबी नारा लगाने पर अन्य छात्र तो चुप रहे, मगर अरुप ने इसका विरोध किया। इसके बाद मुस्लिम छात्रों ने अरुप की बुरी तरह पीटा। गंभीर रूप से घायल अरुप को स्कूल के शिक्षकों ने कैनिंग अस्पताल में भर्ती कराया।

अरुप के परिवार वालों का कहना है कि दोषी छात्रों पर स्कूल ने कोई कार्रवाई नहीं की। इतना ही नहीं पुलिस ने मामला दर्ज करने से मना कर दिया। पुलिस पर मामले के निपटारे के लिए सादे कागज पर अरुप की माँ के हस्ताक्षर लेने के भी आरोप हैं।

गौरतलब है कि, इससे पहले 11 जुलाई 2019 को पश्चिम बंगाल के हावड़ा स्थित श्री रामकृष्ण शिक्षालय नामक स्कूल में पहली कक्षा में पढ़ने वाले छात्र आर्यन सिंह की शिक्षक ने क्लास में ‘जय श्री राम’ बोलने पर बेरहमी से पिटाई कर दी थी। पिटाई से छात्र इतना ज्यादा डरा हुआ था कि वो स्कूल जाने से मना कर रहा था। आर्यन ने बताया था कि उसके एक दोस्त आकाश साव ने उससे जय श्री राम बोलने के लिए बोला तो उसने बोल दिया। उसी समय क्लास रूम के पास से गुजर रहे एक शिक्षक ने कक्षा में आकर उसकी पिटाई कर दी और जय श्री राम का नारा लगाने से मना किया।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

राफ़ेल
सुप्रीम कोर्ट ने राफ़ेल विमान सौदे को लेकर उछल-कूद मचा रहे विपक्ष और स्वघोषित डिफेंस-एक्सपर्ट लोगों को करारा झटका दिया है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच ने राफेल मामले में दायर की गईं सभी पुनर्विचार याचिकाओं को ख़ारिज कर दिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,640फैंसलाइक करें
22,443फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: