Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजकब्रिस्तान के पास कुलदीप को घेर कर पीटा, 'न लोड पड़े हथियारों की' गाने...

कब्रिस्तान के पास कुलदीप को घेर कर पीटा, ‘न लोड पड़े हथियारों की’ गाने के साथ Video वायरल – इकबाल, शोएब समेत 5 पर केस

मामला हरदा जिला मुख्यालय से दो किमी दूर उड़ा गाँव के पास का है। वहाँ शोएब, आकिब, आरिफ, इकबाल और सैफ ने कुलदीप योगी को रोक कर बेरहमी से पीटा। बाद में उसकी वीडियो वायरल की।

मध्य प्रदेश के हरदा में बने एक कब्रिस्तान के पास से 5 युवकों का वीडियो वायरल हुआ है। इस वीडियो में देख सकते हैं कि पाँचों युवक कैसे एक अन्य युवक को बेरहमी से पीट रहे हैं। आरोपितों ने वीडियो को खुद ही सोशल मीडिया पर बैकग्राउंड में गाना एड करके अपलोड किया।

वीडियो वायरल होने के बाद से मामले ने तूल पकड़ा हुआ है। जानकारी होने पर पुलिस भी क्षेत्र में पहुँच गई है। पाँचों के विरुद्ध मामला दर्ज हुआ है। इनमें 2 गिरफ्तार हो गए हैं, बाकियों से पूछताछ हो रही है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, पूरा मामला हरदा जिला मुख्यालय से दो किमी दूर उड़ा गाँव के पास का है। वहाँ सोमवार (अगस्त 30, 2021) की दोपहर कुलदीप योगी नाम के युवक को शोएब, आकिब, आरिफ, इकबाल और सैफ ने रोका और उसे लात-घूँसों से पीटने लगे।

एसपी मनीष अग्रवाल ने बताया कि इस मामले में दो रिपोर्ट दर्ज की गई हैं। एक मामला पीड़ित ने ही दर्ज करवाया है जबकि दूसरा केस अभिषेक राठौर ने करवाया है। राठौर ने गाँव में दहशत फैलाने का आरोप लगाते हुए एफआईआर करवाई है।

वीडियो में देख-सुन सकते हैं कि सारे युवक कैसे पीड़ित को मार रहे हैं और पीछे गाना चल रहा है ‘न लोड पड़े हथियारों की’। इस वीडियो को आरोपितों ने ही वायरल किया। अब युवक के परिवार वाले और उसके समाज के लोग यह सब देख गुस्से में हैं। मामले की जानकारी होने पर पुलिस रात में ही गाँव पहुँची और इकबाल, शोएब,आरिफ, आकिब और सैफ के खिलाफ मारपीट, दहशत फैलाने सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया।

पीड़ित ने बताया कि उसे कब्रिस्तान में बुला कर मारपीट की गई और इस दौरान गंदी-गंदी गालियाँ भी दी गईं। पीड़ित के मुताबिक, उसे हाथ, पैर, गालों में चोटें आई हैं। इसके अलावा उसे धमकी दी गई है कि यदि वह दोबारा उनसे (आरोपितों से) उलझा तो उसे जान से मार दिया जाएगा। इस केस को पुलिस ने 294, 323,506 और 34 के तहत दर्ज किया है। बाकी तीनों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe