Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजफोन पर तलाक, शौहर ने की दूसरी शादी, अब घर में रखने के लिए...

फोन पर तलाक, शौहर ने की दूसरी शादी, अब घर में रखने के लिए ससुर ने रखी हलाला की शर्त

पीड़िता ने बताया फोन पर तलाक देने के बाद उसके शौहर ने दूसरी शादी कर ली है और उसे दोबारा घर में रखने के लिए उसका ससुर उससे हलाला की बात कह रहा है।

एक ओर तीन तलाक को लेकर पूरी देश में बहस चल रही है। वहीं दूसरी ओर आए दिन तीन तलाक के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। मीडिया खबरों के अनुसार शुक्रवार (जुलाई 26, 2019) को छत्तीसगढ़ में राज्य महिला आयोग की सुनवाई में महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया के सामने तीन तलाक का ऐसा ही एक मामला सामने आया जिसमें पीड़िता ने अपनी आप बीती सुनाई

पीड़िता ने बताया फोन पर तलाक देने के बाद उसके शौहर ने दूसरी शादी कर ली है और उसे दोबारा घर में रखने के लिए उसका ससुर उससे हलाला की बात कह रहा है। उसके मुताबिक अपनी बात साबित करने के लिए वह आयोग के सामने प्रमाण प्रस्तुत नहीं कर सकती है, लेकिन जो वो कह रही है वह सत्य है। पुलिस ने इस संबंध में आरोपितों के ख़िलाफ़ दहेज प्रताड़ना का मामला भी दर्ज किया है।

पीड़िता द्वारा पूरा मामला सुनने के बाद बाद राज्य महिला आयोग ने पीड़िता को दोषियों के ख़िलाफ़ न्यायालय जाने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि मुँह से तीन बार तलाक कह देने से तलाक नहीं हो सकता। इसका फैसला न्यायालय करेगा।

गौरतलब है पत्रिका की खबर के अनुसार राज्य महिला आयोग की सुनवाई में 25 प्रकरण रखे गए थे। जिसमें 19 प्रकरणों में दोनों पक्षों के लोग सामने थें। इन मामलों में 8 प्रकरणों को निराकृत बताकर बंद कर दिया गया और बाकी प्रकरणों से संबंधित विभाग से जानकारी आने के बाद सुनवाई होगी। इसके अलावा 2 मामलों में एसपी से कहकर तत्काल एफआईआर करने के लिए पत्र लिखा गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में ब्रॉन्ज मेडल: 4 दशक के बाद टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम ने रचा इतिहास, जर्मनी को 5-4 से हराया

टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए जर्मनी को करारी शिकस्त देकर ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा कर लिया।

इस्लामी आक्रांताओं की पोल खुली, सेक्युलर भी बोले ‘जय श्री राम’: राम मंदिर से ऐसी बदली भारत की राजनीतिक-सामाजिक संरचना

राम मंदिर के निर्माण से भारत के राजनीतिक व सामाजिक परिदृश्य में आए बदलावों को समझिए। ये एक इमारत नहीं बन रही है, ये देश की संस्कृति का प्रतीक है। वो प्रतीक, जो बताता है कि मुग़ल एक क्रूर आक्रांता था। वो प्रतीक, जो हमें काशी-मथुरा की तरफ बढ़ने की प्रेरणा देता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,029FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe