Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजहैदराबाद: पूजा के दौरान भजन बजाने पर ईसाई पड़ोसी ने महिला पर किया हमला,...

हैदराबाद: पूजा के दौरान भजन बजाने पर ईसाई पड़ोसी ने महिला पर किया हमला, सिर में गहरी चोट

“बाकी दिनों की तरह जब मैं आज सुबह अपने घर पर पूजा कर रही थी, तो घंटी की आवाज सुनकर येशु ने अपने पिता और माँ के साथ मुझे और मेरी 55 वर्षीय माँ को बेरहमी से पीटा। मुझे अपने सिर पर नौ टाँके लगवाने पड़े। उन्होंने जान-बूझकर झगड़ा किया और फिर बाद में मुझे पीटना शुरू कर दिया। उन्होंने बंदूक और फावड़े से मुझ पर हमला किया।”

हैदराबाद में अपने घर के अंदर बने मंदिर में पूजा करने एवं भजन बजाने पर एक 29 वर्षीय महिला के ऊपर ईसाई पड़ोसी ने हमला कर दिया। घटना शुक्रवार (अक्टूबर 9, 2020) की है।

हैदराबाद के अतापुर इलाके में पूजा के दौरान भजन बजाने को लेकर दो पड़ोसियों के बीच झड़प हो गई। 29 वर्षीय महिला कविता और उसकी माँ पर उनके ईसाई पड़ोसी येशु ने हमला कर दिया। पड़ोसियों ने कविता और उनकी माँ को लोहे की छड़ से मारा। कविता के सिर में गहरी चोट लगी है।

पुलिस के अनुसार, हैदराबाद के राजेंद्र नगर की रहने वाली कविता, प्रतिदिन अपने घर के अंदर बने तुलजा भवानी मंदिर में पूजा करती थी। इसी दौरान भजन बजाने पर उनका पड़ोसी के साथ झड़प हो गया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि इलाके के अन्य लोगों को भी कविता के लाउडस्पीकर पर भजन बजाने से परेशानी थी।

ऑपइंडिया से बात करते हुए हैदराबाद पुलिस ने कहा कि इलाके के लोगों ने इसके बारे में पुलिस को सूचित किया। गश्त कर रही पुलिस की एक टीम ने कविता के घर का दौरा किया और महिला से लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं करने को कहा।

शिकायत के बाद लाउडस्पीकर के मुद्दे पर महिला और उनके पड़ोसी येशु के बीच बहस छिड़ गई। येशु अपने परिवार के साथ कविता के घर में घुस गया और लोहे की छड़ से हमला कर दिया।

यह पूर्व नियोजित हमला है, पड़ोसी नहीं चाहते थे कि हम पूजा करें

इस बीच, पीड़ित कविता ने कहा कि उनके पड़ोसी को इससे लंबे समय से समस्या थी। पड़ोसी ने घर के अंदर बने मंदिर में उनके पूजा करने पर आपत्ति जताई थी। कविता ने आरोप लगाते हुए कहा, “यह हमारे खिलाफ पूर्व नियोजित हमला था। हमारे ईसाई पड़ोसी एक साल से अधिक समय से हमारे खिलाफ साजिश रच रहे थे।”

पीड़िता ने कहा कि येशु ने अपने पिता और माँ के साथ मिलकर न केवल उनकी, बल्कि उनकी 55 वर्षीय माँ की भी पिटाई की। उन्होंने कहा कि पूजा करने और भजन बजाने के लिए पड़ोसी हर दिन उन्हें गंदी-गंदी गालियाँ देते थे।

कविता ने बताया कि येशु और उसका परिवार उनके घर में बने तुलजा भवानी मंदिर में पूजा-पाठ करने, विशेष कर घंटी बजाने पर आपत्ति जताते हुए झगड़ा कर रहे थे। वो लोग इस झगड़े को सामान्य रूप से ले रहे थे।

कविता ने आगे कहा, “बाकी दिनों की तरह जब मैं आज सुबह अपने घर पर पूजा कर रही थी, तो घंटी की आवाज सुनकर येशु ने अपने पिता और माँ के साथ मुझे और मेरी 55 वर्षीय माँ को बेरहमी से पीटा। मुझे अपने सिर पर नौ टाँके लगवाने पड़े। उन्होंने जान-बूझकर झगड़ा किया और फिर बाद में मुझे पीटना शुरू कर दिया। उन्होंने बंदूक और फावड़े से मुझ पर हमला किया।”

हमलों की पुष्टि करते हुए, पुलिस ने कहा कि उन्होंने महिला पर हमला करने के लिए पड़ोसी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उन्होंने आगे कहा कि वे मामले में दोषी को गिरफ्तार करेंगे। बता दें कि येशु के खिलाफ राजेंद्रनगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,363FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe