Monday, November 29, 2021
Homeदेश-समाजसिंगापुर से एयरलिफ्ट कर IAF ला रहा 4 ऑक्सीजन टैंकर, अमेरिका से आएँगे 10...

सिंगापुर से एयरलिफ्ट कर IAF ला रहा 4 ऑक्सीजन टैंकर, अमेरिका से आएँगे 10 हजार ऑक्सीजन कन्सट्रेटर

देश में ऑक्सीजन की कमी है और हालात बिगड़ रहे हैं। ऐसे में लोगों की मदद के लिए भारतीय वायुसेना भी सामने आई है। वायुसेना के विमान ऑक्सीजन टैंकर्स, मेडिकल पर्सनल आदि को एक जगह से दूसरी जगह ले जा रहे हैं, जिससे कम समय में जरूरी मदद पहुँचाई जा सके।

कोरोना संक्रमण के कहर से देश को बचाने के लिए IAF अब मोर्च पर है। इसी क्रम में सिंगापुर से IAF का मालवाहक विमान ऑक्सीजन के 4 टैंकर एयर लिफ्ट करके लाने वाला है। जानकारी के मुताबिक हिंडन एयर बेस से कल रात 2 बजे वायु सेना के सी-17 विमान ने सिंगापुर के लिए उड़ान भरी और आज सुबह 7.45 बजे सिंगापुर पहुँच गए। संभवत: ये टैंकर आज शाम तक भारत हों।

वायुसेना ने बताया है कि क्रायोजेनिक (कम तापमान बनाए रखने में सक्षम) ऑक्सीजन टैंकर के चार कंटेनर लेकर विमान वापस आएगा। सिंगापुर से आए टैंकर सी-17 विमान पन्नागढ़ के अर्जन सिंह एयर बेस पर लैंड होंगे। इसके बाद भारतीय वायुसेना का एक विमान टैंकर लाने के लिए संयुक्त अरब अमीरात भी रवाना किया जाएगा। जर्मनी से भी 23 मोबाइल ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट एयरलिफ्ट करने का सरकार का प्लान है।

गौरतलब है कि देश में ऑक्सीजन की कमी है और हालात बिगड़ रहे हैं। ऐसे में लोगों की मदद के लिए भारतीय वायुसेना भी सामने आई है। वायुसेना के विमान ऑक्सीजन टैंकर्स, मेडिकल पर्सनल आदि को एक जगह से दूसरी जगह ले जा रहे हैं, जिससे कम समय में जरूरी मदद पहुँचाई जा सके।

इसके अलावा ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने 50 हजार मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन को इम्पोर्ट करने का फैसला लिया है। साथ ही, विदेश मंत्रालय से यह भी पूछा है कि और किन-किन रूट्स से दूसरे देशों से ऑक्सीजन को इम्पोर्ट किया जा सकता है। 

बता दें कि महामारी से पैदा हुए हालातों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर फैसले ले रहे हैं। वहीं केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी शनिवार को देश में कोरोना की स्थिति को लेकर एक रिव्यू मीटिंग की। इसमें कोरोना से लड़ने को लेकर चर्चा की गई। 

इसके अलावा सरकारी सूत्रों ने यह भी बताया है कि एक आदेश के तहत 10 हजार ऑक्सीजन कन्सट्रेटर लगाए जाएँगे। ये ऑक्सीजन कन्सट्रेटर अगले हफ्ते से अमेरिका से लाए जाएँगे।

सरकार ने ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा करने के लिए कई प्राइवेट कंपनियों से भी बात की है। सूत्रों के अनुसार, सैन फ्रॉन्सिसको से दिल्ली की अगली फ्लाइट भारी मात्रा में ऑक्सीजन कन्सट्रेटर लेकर भारत आएगी।

उल्लेखनीय है कि IAF लगातार ऑक्सीजन जगह-जगह पहुँचाने का काम कर रही है। इसी क्रम में  IAF के सी-17 विमान ने हिंडन एयर बेस से पुणे एयर बेस के लिए आज सुबह 8 बजे उड़ान भरी और वहाँ 10 बजे पहुँचकर ऑक्सीजन के दो खाली कंटेनर ट्रक लोड किए। इसके बाद विमान गुजरात के जामनगर एयर बेस पहुँचा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe