Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजकश्मीर कमाने गया हरियाणा का संदीप, मालिक अनायत ने जबरन बना दिया मुस्लिम: हजरतबल...

कश्मीर कमाने गया हरियाणा का संदीप, मालिक अनायत ने जबरन बना दिया मुस्लिम: हजरतबल दरगाह में धर्मांतरण, कलमा पढ़ने को किया मजबूर

...इसके बाद कमाल फारूकी कलमा पढ़ता है और संदीप इसे दोहराता है। दरगाह पर इस घटना के दौरान हजारों मुस्लिमों की भीड़ जुटी थी।

जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में एक हिन्दू युवक को इस्लाम मजहब अपनाने के लिए मजबूर किया गया और साथ ही उससे कलमा भी पढ़वाया गया। घटना शुक्रवार (5 अप्रैल, 2024) की है। हरियाणा का रहने वाला संदीप नामक पीड़ित कश्मीरी परिवार के यहाँ काम करता है। उसने आरोप लगाया है कि दरगाह हज़रतबल पर जुमत-उल-विदा नामक की दुआ के दौरान शहादा देने (ये दोहराना कि अल्लाह के अलावा कोई और ईश्वर नहीं है) और कलमा पढ़ने के लिए मजबूर किया गया।

इस्लामी धर्मांतरण का वीडियो भी सामने आया है। इसमें देखा जा सकता है कि हज़रतबल दरगाह का इमाम और खतीब कमाल फारूकी संदीप से पूछते दिख रहे हैं कि क्या वो स्वेच्छा से इस्लाम कबूल कर रहा है या फिर उसे मजबूर किया जा रहा है? इस पर हिन्दू युवक कहता है कि वो अपनी इच्छा से इस्लाम अपना रहा है। इसके बाद कमाल फारूकी कलमा पढ़ता है और संदीप इसे दोहराता है। दरगाह पर इस घटना के दौरान हजारों मुस्लिमों की भीड़ जुटी थी।

इसके बाद इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। अगले ही दिन पुलिस ने इस घटना की जाँच शुरू की और पाया कि संदीप कुमार को नौहट्टा के रहने वाले अनायत मुन्तज़िर द्वारा मानसिक रूप से भ्रमित किया गया था। नौहट्टा मुन्तजिर वही व्यक्ति है, जिसके घर में संदीप काम कर रहा था। वही संदीप को लेकर दरगाह पर गया था। नागिन पुलिस थाने में इस संबंध में FIR दर्ज की गई है। इसमें IPC की धारा-188 (सरकारी निर्देशों का उल्लंघन), 298 (धार्मिक उन्माद भड़काने के लिए कुछ कहना), 153 (दंगे भड़काने की साजिश) और 153A (धर्म-नस्ल के आधार पर घृणा फलाना) लगाई गई है।

पुलिस ने FIR में लिखा है कि इस घटना को लेकर जम्मू कश्मीर के बाहर से भी प्रतिक्रियाएँ आई हैं। एक सब-इंस्पेक्टर स्तर के अधिकारी को इस मामले की जाँच की जिम्मेदारी दी गई है। उससे कहा गया है कि जाँच पूरी होने के बाद वो पुलिस अधीक्षक (SP) को रिपोर्ट भेजे। अनायत मुन्तज़िर को भी इसमें आरोपित बनाया गया है। पुलिस ने कहा है कि ये घटना सांप्रदायिक शांति और सहिष्णुता को लेकर सवाल उठाती है। लोगों के बीच इस वीडियो को लेकर तनाव फैला है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -