Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजहिन्दू लड़की से बलात्कार किया, फिर अपने दोस्तों को सौंप दिया: फरार 'लव जिहाद'...

हिन्दू लड़की से बलात्कार किया, फिर अपने दोस्तों को सौंप दिया: फरार ‘लव जिहाद’ आरोपित के घर पर चला बुलडोजर, वायरल कर दिया था पीड़िता का अश्लील वीडियो

सामूहिक दुष्कर्म समेत कई मामलों में वांछित आरोपित आरजू मल्लिक का घर बोकारो में बीएसएल की जमीन पर अवैध तरीके से बना हुआ था।

झारखंड के बोकारो स्थित आजादनगर क्षेत्र के सिवंडीह में ‘लव जिहाद’ और सामूहिक दुष्कर्म समेत कई मामलों में फरार आरोपित आरजू मल्लिक पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उसके घर को तोड़ दिया गया है। आरजू मल्लिक पर अपना असली मजहब और नाम छिपा कर हिन्दू महिला से जबरन शादी करने और अश्लील वीडियो रिकॉर्ड कर ब्लैकमेल करने का आरोप है। इस मामले में पीड़िता ने आरजू मल्लिक समेत उसके 4 साथियों खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद से आरोपित फरार है।

सामूहिक दुष्कर्म समेत कई मामलों में वांछित आरोपित आरजू मल्लिक का घर बोकारो में बीएसएल की जमीन पर अवैध तरीके से बना हुआ था। इस घर को तोड़ने के लिए बीएसएल मैनेजमेंट व एसडीओ कोर्ट ने बोकारो पुलिस की अनुशंसा पर माराफरी पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था।

आरजू मल्लिक के घर को तोड़ने गई टीम के साथ एक मजिस्ट्रेट को भी पूरी कार्रवाई पर ध्यान रखने के लिए कहा गया था। इसके बाद प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आरजू मल्लिक के घर को तोड़ दिया है। बता दें कि न्यायालय के आदेश के बाद फरार आरोपित आरजू मल्लिक के घर की पहले ही कुर्की-जब्ती हो चुकी थी।

क्या है मामला

रिपोर्ट्स के अनुसार, आरजू ने साल 2021 में झारखंड के बोकारो में खुद को हिन्दू बताते हुए एक हिन्दू लड़की से दोस्ती की। इसके बाद, उसे जबरन स्वामी सहजानंद महाविद्यालय के गेट के पास से उठाकर कोऑपरेटिव कॉलोनी के एक मकान में ले गया था। जहाँ, पहले से ही पंडित बुलाया गया था और फिर उसने लड़की से जबरन शादी कर ली। इसके बाद उसने लड़की के साथ बलात्कार कर लड़की को अपने दोस्तों को सौंप दिया था। आरजू के दोस्तों ने भी लड़की के साथ बलात्कार किया था।

आरजू ने लड़की के साथ हुई इस पूरी घटना का अश्लील वीडियो भी बनाया था। इस वीडियो को उसने अपने दोस्तों को बाँट दिया। आरजू मल्लिक इस वीडियो के सहारे लड़की को लगातार ब्लैकमेल करता रहा। इस दौरान आरजू ने लड़की को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया। जिससे तंग आकर लड़की ने बोकारो के चास थाने में आरोपित आरजू समेत कुल 5 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। एफआईआर दर्ज होने के बाद से आरजू फरार बताया जा रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-270 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -