Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजआसिफ (नकली नाम- सुरेश) ने युवती को नशे की गोलियाँ खिला कर किया गैंग...

आसिफ (नकली नाम- सुरेश) ने युवती को नशे की गोलियाँ खिला कर किया गैंग रेप, 66 वीडियो बना किया ब्लैकमेल

आसिफ के साथ एक महिला भी इस ब्लैकमेलिंग और पूरे प्रकरण में शामिल रही। उस महिला ने बार-बार पीड़ित युवती को कॉल कर के धमकाया। एक बार जब पीड़िता बस स्टैंड पर बस का इंतजार कर रही थी, तब...

राजस्थान में ग़लत धर्म बता कर एक युवती से बलात्कार करने का मामला सामने आया है। पीड़िता बीकॉम फर्स्ट इयर की छात्रा है। पीड़िता का आरोप है कि आरोपित उसे जबरदस्ती एक होटल में ले कर गया और वहाँ उसके साथ गैंग रेप किया गया। आरोपित आसिफ खिरोड़-झुंझनूं का निवासी है। उसने युवती को अपनी पहचान सुरेश के रूप में बताई थी। आरोप है कि उसने पीड़िता को नशे की गोलियाँ खिला कर अपने दोस्तों के साथ मिल कर उसका गैंगरेप किया। इसके बाद पीड़ित युवती को जान से मारने की धमकी भी दी गई

युवती के गैंग रेप के दौरान कुल 66 वीडियो क्लिप्स आरोपित युवक ने अपने दोस्तों के साथ बनाए। इन वीडियो क्लिप्स के जरिए पीड़िता को लगातार ब्लैकमेल किया जाता रहा। पीड़िता को वीडियो क्लिप्स सार्वजनिक करने की धमकी देकर उससे कई बार रुपए तक ऐंठे गए। बात नहीं मानने पर युवती को जान से मार डालने की धमकी भी दी गई। उद्योग नगर पुलिस ने इस मामले की शिकायत दर्ज कर के जाँच शुरू कर दिया है।

युवती ने बताया कि वह रोज़ पढ़ाई करने के लिए बस से आती-जाती थी। इसी दौरान बस में ही एक युवक से उसकी मुलाक़ात हुई। जब बातचीत की शुरुआत हुई तो उस युवक ने अपना नाम सुरेश कुमार बताया। वह पीड़िता को उसका दोस्त बनने के लिए कहता था। जब युवती ने इनकार कर दिया तो उसने किसी बहाने से स्थानीय पेट्रोल पंप के पास बुलाया, जहाँ पहले से ही एक सफ़ेद रंग की बोलेरो खड़ी थी। इसमें पहले से ही एक महिला व एक अन्य व्यक्ति बैठे थे। यहीं से पीड़िता को होटल ले जाया गया।

होटल पहुँचने के बाद युवती को जबरन नशे की गोलियाँ खिलाकर एक कमरे में ले गया, जहाँ आसिफ ने अपने दोस्तों के साथ मिल कर उसका सामूहिक बलात्कार किया। इस दौरान उन्होंने पूरी घटना की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की। इन्हीं रिकॉर्डिंग के दम पर उन्होंने पीड़िता से ब्लैकमेलिंग के जरिए 25 हज़ार रुपए भी वसूल लिए। पुलिस ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर आसिफ के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर लिया गया है।

‘दैनिक भास्कर’ के झुंझनूं संस्करण में छपी ख़बर

आसिफ के साथ एक महिला भी इस ब्लैकमेलिंग और पूरे प्रकरण में शामिल रही। उस महिला ने बार-बार पीड़ित युवती को कॉल कर के धमकाया। एक बार जब पीड़िता बस स्टैंड पर बस का इंतजार कर रही थी, तब उक्त महिला ने आकर आसपास के लोगों से कहा कि ये लड़की कॉलेज नहीं जाती है, बल्कि होटलों में जाती है। आसिफ की साथी महिला पीड़िता को कॉल कर के धमकी देती थी कि अगर उसने रुपए नहीं दिए तो वह घर आकर वसूल लेगी। आसिफ पीड़िता को गर्व से बताता था कि उसने पहले भी इस तरह के कई काम किए हैं और उसे अब तक कोई फँसा नहीं सका है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इंडिया जीता… लेकिन सब गोल पंजाबी खिलाड़ियों ने किया: CM अमरिंदर सिंह के ट्वीट में भारत-पंजाब अलग-अलग क्यों?

पंजाब मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”इस बात को जानकर खुश हूँ कि सभी 3 गोल पंजाब के खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने किए।”

शिव-पार्वती के होंठ वाला कवि, रोमिला थापर की बहू: MP की सरकारी समितियों में अब तक कॉन्ग्रेस के लोग, वामपंथी

मुख्यमंत्री बनते ही कमलनाथ ने मध्य प्रदेश की सरकारी समितियों को भंग कर उनमें कॉन्ग्रेस के विश्वस्तों को बिठाया था। अब भी वो लोग जमे हुए हैं। भाजपा को सत्ता में आए सवा साल हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,611FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe