Friday, August 6, 2021
Homeदेश-समाजJNU: छात्र संघ अध्यक्ष सहित 20 छात्र निलंबित, प्रवेश परीक्षा में धाँधली का है...

JNU: छात्र संघ अध्यक्ष सहित 20 छात्र निलंबित, प्रवेश परीक्षा में धाँधली का है आरोप

इन सभी लोगों पर प्रवेश परीक्षा में गड़बड़ी करने का आरोप है। पूर्व में एमफिल की डिग्री रोकने के बाद विवि कुलपति ने अध्यक्ष एन साई बालाजी समेत अन्य छात्र नेताओं को अकादमिक गतिविधियों से निलंबित कर दिया है।

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ एकबार फिर धरने पर जाने के कगार पर है। दरअसल, यूनिवर्सिटी ने जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष एन साई बालाजी के साथ बीस छात्रों को निलंबित कर दिया है। निलंबित किए गए छात्रों में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष का नाम भी शामिल है। छात्रसंघ अध्यक्ष एन साई बालाजी ने विवि प्रबंधन पर अकादमिक गतिविधियों से निलंबित करने का आरोप लगाया है। इस बारे में जेएनयू की फ्रीलांस प्रोटेस्टर शेहला रशीद ने ट्वीट कर के जानकारी दी है।

इन सभी लोगों पर प्रवेश परीक्षा में गड़बड़ी करने का आरोप है। पूर्व में एमफिल की डिग्री रोकने के बाद विवि कुलपति ने अध्यक्ष एन साई बालाजी समेत अन्य छात्र नेताओं को अकादमिक गतिविधियों से निलंबित कर दिया है।यह मुद्दा शुक्रवार (जून 05, 2019) को तब सामने आया जब जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष एन साई बालाजी ने यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स पोर्टल पर अपडेट चेक करने के लिए लॉग इन किया। लॉग इन करते हुए ही उन्हें निलंबन की सूचना दिखाई दी। जिसके बाद यूनिवर्सिटी के दूसरे छात्रों ने भी इस बात की शिकायत की है।

ऑनलाइन पंजीकरण के दौरान दिखाई जा रही जानकारी के अनुसार उन्हें चीफ प्रॉक्टर की तरफ से निलंबित किया गया है। हालाँकि, जेएनयू प्रशासन ने छात्रसंघ अध्यक्ष के आरोपों पर कोई जवाब नहीं दिया है। निलंबित छात्रों का कहना है कि इस मामले में वे यूनिवर्सिटी के आधिकारिक नोटिस आने का इंतजार करेंगे फिर कोई फैसला लेंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गणेश मंदिर तोड़ने पर भारत सख्त, सालभर में 7 मंदिर बन चुके हैं इस्लामी कट्टरपंथियों का निशाना

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में मंदिर तोड़े जाने के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया है।

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,145FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe