Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजपड़ोसी सरफराज (पोपट) ने नाबालिग से किया रेप का प्रयास, आए दिन घर पर...

पड़ोसी सरफराज (पोपट) ने नाबालिग से किया रेप का प्रयास, आए दिन घर पर आता था: शोर मचने पर पकड़ा गया

लड़की के पिता एक दुकानदार हैं जो रिजवी रोड पर पान मसाले की दुकान लगाते हैं। वहीं सरफराज उनका पड़ोसी है जो आए दिन उनके घर पर पहुँचा रहता था।

उत्तर प्रदेश के कानपुर के बेकनगंज से दुष्कर्म के प्रयास का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक सही समय पर हल्ला मचने से आरोपित को पकड़कर उसे पुलिस में दे दिया गया। अब आगे नाबालिग लड़की की शिकायत पर कार्रवाई की जा रही है। साथ ही लड़की को मेडिकल के लिए डफरीन अस्पताल में भेजा गया है।

मामले में यूपी के बेकनगंज थाना के इंस्पेक्टर नवाब अहमद ने बताया कि उनके पास नाबालिग लड़की के परिजनों ने शिकायत दी है। इसी के आधार पर रिपोर्ट लिखकर आगे की कार्रवाई हो रही है। आरोपित की पहचान सरफराज उर्फ पोपट के तौर पर हुई है। उसको गिरफ्तार कर लिया गया है और नाबालिग लड़की को मेडिकल के लिए भी भेजा जा चुका है।

हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार, सरफराज ने नाबालिग को बहला फुसला कर उसके साथ दुष्कर्म करने की योजना बनाई थी। लेकिन लड़की के शोर मचाने के कारण वह पकड़ा गया। बताया जा रहा है लड़की के पिता एक दुकानदार हैं जो रिजवी रोड पर पान मसाले की दुकान लगाते हैं। वहीं सरफराज उनका पड़ोसी है जो आए दिन उनके घर पर पहुँचा रहता था।

अपने इसी आने-जाने का फायदा उठाकर रविवार के दिन सरफराज ने दुकानदार की नाबालिग बेटी को बहलाया और पड़ोस के मकान में गलत नियत से ले गया। कमरे में ले जाने के बाद सरफराज ने उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की। लेकिन, अपने साथ होते इस रवैया को देखकर नाबालिग लड़की ने तेजी से शोर मचाना शुरू कर दिया। नाबालिग बच्चे की आवाज सुनकर परिजन और मोहल्ले के लोग वहाँ पहुँच गए। उसके बाद लोगों ने पोपट को जमकर पीटा। इसी बीच मौके पर पहुँची पुलिस को सरफराज को सौंप दिया गया।

उल्लेखनीय है कि अभी कुछ दिन पहले यूपी के बहराइच से दुष्कर्म का एक मामला सामने आया था। वहाँ एक युवक ने बच्ची को उसके घर से देर रात सोते में उठाया और बाद में उसे स्कूल के शौचालय में खून से लथपथ अवस्था में छोड़कर भाग गया। जब ग्रामीणों ने बच्ची की खोजबीन शुरू की तो स्कूल के बाहर आरोपित को पकड़ा गया। पुलिस से बचने के लिए उसने भागने की कोशिश की लेकिन मुठभेड़ के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीं बच्ची को खून से लथपथ देख उसे फौरन नानपारा के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया। बाद में हालत गंभीर देख उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहाँ बच्ची ने दम तोड़ दिया। इस दौरान ग्रामीणों ने आरोपित को पुलिस हवाले किया लेकिन वहाँ उसने भागने की कोशिश की और पुलिस की मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हो गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -