Thursday, May 23, 2024
Homeदेश-समाजरील बनाने का नशा, पार्टी का शौक और प्रेमी के लिए खरीदी गाड़ी: कर्ज...

रील बनाने का नशा, पार्टी का शौक और प्रेमी के लिए खरीदी गाड़ी: कर्ज में डूबी किरायेदार लड़की ने मकान मालकिन का घोंट दिया गला, लूट ली सोने की चेन

घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुँची और मोनिका से भी पूछताछ की। हालाँकि, उसने कई कहानियाँ सुनाकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। शंका होने के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गई और आखिरकार अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में 24 साल डेटा एंट्री ऑपरेटर और रील बनाने की व्यसन से ग्रस्त मोनिका एचएम नाम की एक लड़की को केंगेरी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मोनिका ने 10 मई 2024 को 36 वर्षीय अपनी मकान मालकिन दिव्या की संपत्ति चुराने के लिए उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी थी। घटना के वक्त मृतका दिव्या और उसका 2 साल का बच्चा ही घर पर थे। मोनिका चिक्कबल्लापुरा जिले के चिंतामणि की की रहने वाली है।

रिपोर्ट के अनुसार, मोनिका ने लक्जरी वस्तुओं और पार्टियों पर खूब खर्च किया। इसके कारण उस पर 8 लाख रुपए का कर्ज हो गया। वह अपने प्रेमी को एक सामान ढोने वाला वाहन खरीदकर दी थी। उसने अपने मकान मालकिन दिव्या के गले में सोने का चेन देखा था और उसे हड़पना चाहती थी। इसके लिए दिव्या की हत्या की साजिश रची और फिर सोने की चेन ले ली।

मोनिका पिछले दो से तीन महीने से कोनसांद्रा स्थित दिव्या के घर के एक हिस्से में किराए पर रह रही थी। वह एक निजी कंपनी में काम करती थी। कुछ समय पहले ही उसने यह नौकरी छोड़ दी थी। वहीं, उसका प्रेमी एक पेशेवर ड्राइवर है। वह अक्सर मोनिका के पास आता-जाता रहता है। उसने अपने प्रेमी को मकान मालिक से अपना पति बता रखा था।

मृतका की 39 वर्षीय पति गुरुमूर्ति केंगेरी के शिवनपाल्या में एक सैलून चलाते हैं। जिस वक्त दिव्या की हत्या हुई, उस समय वे काम पर गए हुए थे। दिव्या और उसका दो साल का बच्चा घर पर थे। हत्या के बाद मोनिका दिव्या की छत्तीस ग्राम सोने की चेन लेकर चली गई और इलाके के एक साहूकार के पास उसे गिरवी रख दिया। इस घर को गुरुमूर्ति ने चार महीने ही पहले बनवाया था।

घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुँची और मोनिका से भी पूछताछ की। हालाँकि, उसने कई कहानियाँ सुनाकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। शंका होने के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गई और आखिरकार अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

पुलिस के अनुसार, मोनिका सोशल मीडिया पर सक्रिय थी और खूब रील बनाती थी। वह हर समय घूमती रहती थी और पार्टी करती रहती थी। उसने अपने बॉयफ्रेंड के लिए एक गाड़ी भी खरीदी थी। गुरुमूर्ति अपने परिवार के साथ मकान में पहले तले पर रहते थे। वहीं, मोनिका ग्राउंड फ्लोर पर रहती थी। जिस समय दिव्या की हत्या की गई, उस समय वह किचन में खाना बना रही थी। उसी दौरान मोनिका पीछे से आकर कपड़े में इस्तेमाल होने वाले नाड़े को गले में डाल कर कस दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मी लॉर्ड! भीड़ का चेहरा भी होता है, मजहब भी होता है… यदि यह सच नहीं तो ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारों के साथ ‘काफिरों’ पर...

राजस्थान हाईकोर्ट के जज फरजंद अली 18 मुस्लिमों को जमानत दे देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि चारभुजा नाथ की यात्रा पर इस्लामी मजहबी स्थल के सामने हमला करने वालों का कोई मजहब नहीं था।

‘प्यार से माँगते तो जान दे देती, अब किसी कीमत पर नहीं दूँगी इस्तीफा’: स्वाति मालीवाल ने राज्यसभा सीट छोड़ने से किया इनकार

आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने अब किसी भी हाल में राज्यसभा से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -