Tuesday, August 16, 2022
Homeदेश-समाजBJYM नेता की हत्या के बाद 'जनोत्सव' रद्द, कमांडो टास्क फोर्स बनेगाः जानिए NIA...

BJYM नेता की हत्या के बाद ‘जनोत्सव’ रद्द, कमांडो टास्क फोर्स बनेगाः जानिए NIA जाँच पर क्या बोले कर्नाटक के CM

प्रवीण नेट्टारू पर 26 जुलाई 2022 की रात दक्षिण कन्नड़ जिले की बेल्लारे में कुल्हाड़ी से हमला हुआ था। हत्या के पीछे PFI और SDPI का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है।

भाजयुमो (BJYM) नेता प्रवीण नेट्टारू की निर्मम हत्या के बाद ‘जनोत्सव’ कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार (27 जुलाई 2022) देर रात इसकी घोषणा की। उनकी सरकार के एक साल पूरे होने पर यह कार्यक्रम होना था। साथ ही मुख्यमंत्री ने ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए कमांडो टास्क फोर्स का गठन करने की बात भी कही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुख्यमंत्री ने कहा, “अपनी सरकार के एक साल पूरे होने पर हम 28 जुलाई को ‘जनोत्सव’ नाम से डोड्डाबल्लापुरा में कार्यक्रम आयोजित करने वाले थे। लेकिन अब हमने इसे रद्द कर दिया है।” मुख्यमंत्री ने प्रवीण की हत्या को अमानवीय बताते हुए कहा, “घटना की जानकारी मिलने के बाद मैंने तत्काल कार्रवाई के आदेश दिए थे। मेरा मन शांत नहीं था। बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या के कुछ समय बाद ही यह घटना हुई है। किसी भी आरोपित को छोड़ा नहीं जाएगा।”

उन्होंने कहा, “यह हत्या केरल सीमा पर हुई है। उनके सम्पर्क में कर्नाटक पुलिस है।” हत्या की जाँच NIA को सौंपे जाने के सवाल पर CM बोम्मई ने कहा, “पुलिस जरूरी सूचनाएँ जुटा रही है। NIA को केस सौंपने के लिए कुछ औपचारिकताएँ होती हैं, जिसे हम बाद में तय करेंगे।”

गौरतलब है कि प्रवीण नेट्टारू पर 26 जुलाई 2022 की रात दक्षिण कन्नड़ जिले की बेल्लारे में कुल्हाड़ी से हमला हुआ था, जिसमें उनकी मौत हो गई थी। हत्या के पीछे PFI और SDPI का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है। अब तक 8 लोगों को हिरासत में लिए जाने की सूचना है। ऐसा बताया जा रहा है कि उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या के विरोध में प्रवीण ने फेसबुक पर किया पोस्ट था, जिसके कारण उन्हें निशाना बनाया गया। हालाँकि हत्या की वजह आधिकारिक तौर पर अभी सामने नहीं आई है।

बता दें कि इस घटना के खिलाफ बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बुधवार 27 जुलाई को कुछ हिस्सों में बंद का आह्वान किया था लेकिन पुत्तूर प्रशासन ने उन इलाकों में 28 जुलाई की मध्यरात्रि तक कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं जब नेत्तारू का शव उनके गाँव लाया गया, तो इलाके में तनाव बढ़ गया है। इस बीच बेल्लारी में प्रदर्शन कर रहे बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया और उन्हें खदेड़ दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पता नहीं 9 सितंबर को क्या होगा’: ‘लाल सिंह चड्ढा’ का हाल देख कर सहमे करण जौहर, ‘ब्रह्मास्त्र’ के डायरेक्टर को अभी से दे...

क्या करण जौहर को रिलीज से पहले ही 'ब्रह्मास्त्र' के फ्लॉप होने का डर सता रहा है? निर्देशक अयान मुखर्जी के नाम उनके सन्देश से तो यही झलकता है।

‘उत्तराखंड में एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा, 1064 नंबर पर करें शिकायत’: CM धामी ने पर्चा लीक का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को...

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने UKSSSC पेपर लीक मामले का खुलासा करने वाली उत्तराखंड STF की टीम को स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
214,085FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe