Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीति'सरकार हमारी रक्षा में विफल': BJYM नेता की हत्या के बाद कर्नाटक भाजपा कार्यकर्ता...

‘सरकार हमारी रक्षा में विफल’: BJYM नेता की हत्या के बाद कर्नाटक भाजपा कार्यकर्ता दे रहे सामूहिक इस्तीफा, BJP प्रदेश अध्यक्ष की कार को घेरा

बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आए दिन होने वाले हमले के विरोध में कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है।

कर्नाटक के मंगलूरु में भाजपा युवा मोर्चा के जिला सचिव प्रवीण नेट्टारू की कुल्हाड़ी से हत्या के बाद अब सरकार के विरोध में BJYM कार्यकर्ता भी आ गए हैं। भाजपा कार्यकर्ता प्रवीण नेट्टारू की हत्या के बाद भाजपा युवा मोर्चा के सदस्यों ने कर्नाटक के कई हिस्सों में इस्तीफा देने का अभियान शुरू कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आए दिन होने वाले हमले के विरोध में कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत चिक्कमंगलुरु में युवा मोर्चा के सदस्य सामूहिक रूप से अपना इस्तीफा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपने कार्यकर्ताओं के जीवन की रक्षा करने में विफल रही है जिसने उन्हें इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया है।

इस पूरे मामले को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं में जबरदस्त आक्रोश है। जिसका परिणाम है कि सुलिया तालुक के बेल्लारे में हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कतील की कार को घेर लिया। जिसके बाद उन्हें भी बहुत देर तक वहाँ फँसे रहना पड़ा। कार्यकर्ता पार्टी से सुरक्षा की माँग कर रहे हैं।

शुरूआती जाँच के आधार पर यह मामला भी नूपुर शर्मा के समर्थन से जुड़ रहा है। जिस तरह से राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या की गई, ठीक उसी तरह से दक्षिण कन्नड़ जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा के नेता प्रवीण नेत्तारू की हत्या की गई है। कुल्हाड़ी और तलवार से काटकर हत्या की गई। इस घटना के बाद से कर्नाटक में भारी बवाल मचा हुआ है। अब इस मामले में दावा किया जा रहा है कि प्रवीण नेट्टारू की हत्या केवल इसलिए की गई, क्योंकि कथित तौर पर उन्होंने नूपुर शर्मा का समर्थन किया था।

बता दें कि राज्य के दक्षिण कन्नड़ जिले की बेल्लारे इलाके में मंगलवार (26 जुलाई 2022) की रात करीब 9 बजे बीजेपी नेता के ऊपर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। जिससे उनकी मौत हो गई। इस घटना के बाद से ही शहर में तनाव बढ़ गया है और विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने हत्या के विरोध में दक्षिण कन्नड़ जिले के बेल्लारे, पुत्तूर, सुल्या, कड़ाबा में बंद बुलाया गया है। वहीं घटना के बाद से ही भाजपा ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

वहीं कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में प्रवीण नेट्टारू की हत्या के मामले में आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है। साथ ही प्रदर्शन के दौरान पथराव और इलाके में बढ़ते तनाव को देखते हुए पुलिस ने पुत्तूर, सुल्या, कदबा और बेलथांगडी में धारा 144 लागू कर दी है।

गौरतलब है कि प्रवीण की हत्या के मामले में PFI और SDPI पर संदेह जताया गया है। वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि पुलिस को संदेह है कि हत्या बेल्लारी के मुस्लिम युवक मसूद की हत्या के बदले में की गई होगी। क्योंकि कुछ दिनों पहले एक युवक की हत्या हुई थी। कर्नाटक पुलिस ने भी मामले की जाँच के लिए 5 स्पेशल टीम का गठन किया है। इनमें से तीन टीमें केरल, मदिकेरी और हसन गईं हैं। बेल्लारे में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

वहीं इस मामले में केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रह्लाद जोशी ने कहा, “प्रारंभिक रिपोर्ट और कुछ मीडिया रिपोर्ट एसडीपीआई और पीएफआई लिंक की तरफ इशारा करती हैं। उन्हें केरल में बढ़ावा दिया जा रहा है। कर्नाटक में कॉन्ग्रेस उन्हें प्रोत्साहित कर रही है। कर्नाटक में हमारी सरकार कार्रवाई करेगी और दोषियों को सजा देगी।”

घटना के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने भाजपा नेता के परिवार के सदस्यों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। उन्होंने अपने एक ट्ववीट में लिखा, “दक्षिण कन्नड़ जिले से हमारी पार्टी के कार्यकर्ता प्रवीण नेट्टारू की बर्बर हत्या निंदनीय है। इस तरह के जघन्य कृत्य के अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा और कानून के तहत दंडित किया जाएगा। प्रवीण की आत्मा को शांति मिले।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -