Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजलालू के प्यार में कश्मीर से भागकर बिहार आ गई सुमैरा, सिंदूर लगाकर बन...

लालू के प्यार में कश्मीर से भागकर बिहार आ गई सुमैरा, सिंदूर लगाकर बन गई अंजलि: गुलमर्ग की लव स्टोरी बेगूसराय में पूरी

सुमैरा हनीफ गुलमर्ग की रहने वाली है। उसका भाई राशन की दुकान चलाता है। लालू यहाँ अक्सर राशन लेने के लिए आता था। इस दौरान दोनों में दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे ये दोस्ती प्यार में बदल गई।

कश्मीर के गुलमर्ग की रहने वाली सुमैरा हनीफ। बिहार के बेगूसराय का रहने वाला लालू/लल्लू सिंह। कश्मीर में मिले। प्यार हुआ। सुमैरा हिंदू बन गई। नाम रखा अंजलि। शादी हुई। लेकिन जब बेगूसराय पहुँची तो ससुराल वालों ने कबूल करने से इनकार कर दिया। लेकिन सुमैरा की आत्महत्या की कोशिश के बाद लालू के परिजनों ने भी उसे स्वीकार कर लिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, लालू सिंह बेगूसराय के शंभू सिंह का बेटा है। वह कश्मीर में नौकरी करने गया था। यहीं उसकी मुलाकात सुमैरा हनीफ से हुई। वह गुलमर्ग की रहने वाली है। उसका भाई राशन की दुकान चलाता है। लालू यहाँ अक्सर राशन लेने के लिए आता था। इस दौरान दोनों में दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे ये दोस्ती प्यार में बदल गई। सुमैरा अपेंडिक्स से परेशान थी। लालू ने उसका इलाज कराया, जिससे उसे नई जिंदगी मिल गई। इसके बाद से वह लालू से और प्यार करने लगी और उसे कभी नहीं छोड़ने की कसम खाई। वह धर्म परिवर्तन करने के लिए भी तैयार हो गई। अपने परिवार ​की परवाह किए बिना सुमैरा 3 बार कश्मीर से भागकर बिहार भी आई।

बताया जा रहा है कि दोनों कोर्ट मैरिज के बाद 7 महीने तक साथ रहे, लेकिन इसके बाद लालू ने अंजलि से दूरी बनाना शुरू कर दिया। कश्मीर से बेगूसराय पहुँची अंजलि को उसके ससुराल वालों ने साथ रखने से इनकार कर दिया। इससे परेशान होकर अंजलि ने नींद की गोलियाँ खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। गाँव वालों ने आनन-फानन में उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती करवाया। हालत में सुधार होने के बाद सोमवार (30 जनवरी 2023) को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

सुमैरा ने बताया कि उसने 19 मई 2022 को बीरपुर के सहुरी गाँव निवासी लालू से शादी की थी। इसके बाद से वह पति के साथ रह रही थी। फिर नवंबर में उसे वापस भेज दिया गया और सरस्वती पूजा में लाने की बात कही गई। लेकिन उसके बाद लालू ने उसका फोन उठाना बंद कर दिया था। वहीं, लालू के मुताबिक किसी गलतफहमी के कारण अंजलि घर से चली गई थी। उसे कुछ लोगों ने बरगला दिया था, जिसकी वजह से उसने नींद की गोलियाँ खा ली थी। अब हमारे बीच सब कुछ ठीक है। हम साथ-साथ रहेंगे और घर वाले भी खुश हैं।

बता दें कि पुलिस सुमैरा की आत्महत्या की कोशिश के बाद 30 जनवरी की रात करीब 4 घंटे की मशक्कत के बाद दोनों पक्षों के बीच पुलिस की मौजूदगी में समझौता हुआ। इसके बाद सुमैरा लालू के साथ अपने ससुराल चली गई। डीएसपी निशीत प्रिया ने बताया कि पीड़िता और ससुराल वालों के बीच समझौता हो गया है। अब वह उन्ही के साथ रहेगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -