Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाज15 साल की दलित नाबालिग को उठा ले गए अनीस, सद्दाम, मोहिद्दीन, अलीम और...

15 साल की दलित नाबालिग को उठा ले गए अनीस, सद्दाम, मोहिद्दीन, अलीम और बउरा: 3 दिनों तक किया गैंगरेप, फिर इस्लाम में धर्मांतरण और जबरन निकाह

आरोपित नाबालिग को अपने साथ फिर ले जाने लगे। उन्होंने परिवार को धमकी दी कि अगर नाबालिग को उसके साथ नहीं भेजेंगे तो वे उसकी और परिवार की हत्या कर देंगे। इतना ही नहीं, आरोपितों ने दुस्साहस करते हुए 10 अप्रैल 2024 को किशोरी के मामा पर भी हमला कर दिया।

उत्तर प्रदेश के बहराइच में मुस्लिम समुदाय के कुछ युवकों ने एक हिंदू नाबालिग लड़की का अपहरण करके उसे बंधक बना लिया और तीन दिनों तक उसके गैंगरेप किया। इतना ही नहीं, इन युवकों ने इस लड़का का जबरन इस्लाम में धर्मांतरण कराकर एक मुस्लिम से निकाह करा दिया। किसी तरह उनके कब्जे से छूटकर भागी युवती ने पुलिस में शिकायत कराई, उसके बाद से परिवार को धमकी दी जा रही है।

घटना लगकर दो माह पुरानी है। मामला सामने आने के बाद बहराइच की एसपी वृंदा शुक्ला ने पीड़ित परिवार के घर जाकर पूरे परिवार से मुलाकात की है। इसके साथ ही सभी आरोपितों- अनीस, सद्दाम, मोहिद्दीन, अलीम और बउरा के खिलाफ पॉक्सो सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इसके साथ ही आरोपितों को पकड़ने के लिए कई टीमों का गठन किया गया है।

मामला बहराइच के हरदी थाना क्षेत्र के एक गाँव का है। बताया जा रहा है कि दलित समुदाय से आने वाली पीड़िता की माँ बोल नहीं सकती है और वह मायके में अपनी 15 साल की नाबालिग बेटी के साथ रहती है। पीड़िता ननिहाल में अपनी माँ और नानी की देखभाल करती है। रिपोर्ट के मुताबिक, 3 फरवरी को पीड़िता अपने खेत में काम करके घर लौट रही थी।

इसी दौरान उसके घर के पास रहने वाले अनीस, सद्दाम, मोहिद्दीन, अलीम और बउरा उसे उठाकर अपने साथ ले गए। किसी अज्ञात गाँव में रखकर उसके साथ तीन दिनों तक सामूहिक बलात्कार किया। इसके बाद आरोपितों ने एक मौलवी बुलाकर उसका जबरन धर्मांतरण कराकर निकाह करा दिया। इधर परिवार के लोग नाबालिग को खोजते रहे, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला।

इसी बीच आरोपितों ने शिकायत नहीं करने की शर्त पर पीड़ित को बेहोशी की हालत में उसके घर के बाहर छोड़ गए। घर पहुँचकर पीड़िता ने अपने साथ हुई घटना के बारे में परिजनों को बताया, लेकिन लोक-लाज और इन दबंगों के डर से वे सभी चुप रहे। दो महीने बाद आरोपित पीड़िता को अपने साथ जबरन भेजने का दबाव बनाने लगे। इस दौरान नाबालिग को अपने साथ ले जाने की कोशिश भी की।

आरोपितों ने परिवार को धमकी दी कि अगर नाबालिग को उसके साथ नहीं भेजेंगे तो वे उसकी और परिवार की हत्या कर देंगे। इतना ही नहीं, आरोपितों ने दुस्साहस करते हुए 10 अप्रैल 2024 को किशोरी के मामा पर भी हमला कर दिया। इस घटना के बारे में जब पीड़िता की मौसी को पता चला तो उसने ऑनलाइन एसपी को शिकायत भेजी। इसके बाद एसपी के निर्देश पर थाना हरदी में मुकदमा दर्ज किया गया।

शिकायत मिलने के बाद एसपी वृंदा शुक्ला पीड़ित परिवार के घर गईं। उन्होंने बताया कि शिकायत मिलते ही पाँचों आरोपियों के खिलाफ अपहरण, गैंगरेप, पॉक्सो, एससी-एसटी एक्ट, धर्म परिवर्तन समेत कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। नाबालिग का मेडिकल भी कराया गया है। उन्होंने कहा कि दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। बाकियों को भी पकड़ लिया जाएगा।

फरार आरोपियों की तलाश में सर्विलांस, एसओजी, थाना पुलिस सहित कई टीमें लगा दी गई हैं। पुलिस और अन्य अधिकारियों ने पीड़िता और उसके परिजनों के साथ ही गाँव वालों से भी इस संबंध में पूछताछ की। आरोपितों के कुछ परिजनों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने कहा है कि वह साक्ष्य जुटा रही है और इस मामले में जल्दी ही और खुलासा किया जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -