Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान के कोटा में घर से 200 मीटर की दूरी पर BJP नेता की...

राजस्थान के कोटा में घर से 200 मीटर की दूरी पर BJP नेता की हत्या: 2 बेटियों का कौन रखेगा ख्याल, चिंता में दोस्त-परिवार

विकी आर्य अपने घर से करीब 200 मीटर की दूरी पर ही रहे होंगे जब आरोपितों ने उन्हें पकड़ लिया और घेर कर ताबड़तोड़ हमले किए। उन्हें अधमरा करने के बाद आरोपित वहाँ से फरार हो गए। अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

राजस्थान के कोटा जिले से भाजपा के कार्यकर्ता की उनके घर से मात्र 200 मीटर की दूरी पर बदमाशों ने बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या कर दी। मृतक विकी आर्य बीजेपी का कार्यकर्ता होने के साथ-साथ युवा मोर्चा से भी जुड़े हुए थे। वो काफी मिलनसार और दूसरों का ख्याल रखने वाले था, लेकिन उनकी हत्या के बाद अब उनकी दो बेटियों का ही ख्याल रखने वाला कोई नहीं रहा।

रिपोर्ट के मुताबिक, यह वारदात कैथोनीपूल इलाके के साबरमती कॉलनी में घटी। बताया जाता है कि मृतक विकी आर्य की आरोपितों से पुरानी रंजिश थी। इसके चलते शुक्रवार (25 फरवरी 2022) की रात को 6 बदमाशों ने उनकी हत्या कर दी। मृतक विकी आर्य भाजपा के शहर महामंत्री थे।

डीएसपी अमर सिंह का कहना है कि विकी आर्य घटना वाले दिन अपनी बाइक लेकर घर से निकले थे। वो जगत मंदिर के पीछे वाली गली से निकल ही रहे थे कि वहाँ पर पहले से ही कुछ हमलावर घात लगाए बैठे थे और उनके वहाँ पहुँचते ही वो सामने आ गए। हाथों में सरिया और लोहे के पाइप लिए हमलावरों को देख विकी ने डर कर अपनी गाड़ी वहीं खड़ी कर दी और पैदल ही अपने घर की ओर भागे।

भागने के दौरान वो अपने घर से करीब 200 मीटर की दूरी पर ही रहे होंगे जब आरोपितों ने उन्हें पकड़ लिया और घेर कर ताबड़तोड़ हमले किए। उन्हें अधमरा करने के बाद आरोपित वहाँ से फरार हो गए। इस बीच हमले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुँचे उनके घरवाले उन्हें एमबीएस अस्पताल ले गए, जहाँ उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने ही मारा

पुलिस का कहना है कि विकी आर्य की हत्या उनके ही रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने की है। दरअसल, उनका आरोपितों के साथ पिछले साल दिसंबर 2021 में झगड़ा हुआ था। इसके बाद से ही आरोपित बदला लेने की ताक में थे। उस झगड़े में हालाँकि डायरेक्टली विकी का हाथ नहीं था।

एएसपी प्रवीण जैन के मुताबिक, मामले में दो आरोपित राज और निखिल को नामजद कर गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों ने हत्या की बात कबूल कर ली है। दो अन्य नामजद आरोपित बनवारी और अर्जुन की तलाश की जा रही है।

विक्की के दोस्तों का कहना है कि वो बहुत ही मिलनसार और सभी का ध्यान रखने वाले व्यक्ति थे। उनकी दो बेटियाँ हैं। उनकी मौत के बाद परिवार उजड़ गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -