Tuesday, August 3, 2021
Homeदेश-समाजलखनऊ: अमीनाबाद की मरकजी मस्जिद में मिले 6 किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के मुस्लिम, सभी...

लखनऊ: अमीनाबाद की मरकजी मस्जिद में मिले 6 किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के मुस्लिम, सभी को भेजा गया आइसोलेशन में

खुफिया और एलआईयू की सूचना के बाद पुलिस प्रशासन की टीमों ने मस्जिद में छापा मारा। इस दौरान डीएम के साथ पुलिस कमिश्नर भी थे। पुलिस अधिकारियों ने इन विदेशी नागरिकों के मिलने के बाद इन्हें हिरासत में ले लिया है। इनसे पूछताछ की गई है और अब इनकी मेडिकल जाँच कराई जा रही है। तब तक इन्हें आइसोलेशन में रखा गया है।

देश के अलग-अलग राज्यों में स्थित मस्जिदों में विदेशी नागरिकों के मिलने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। बीते दिनों पटना, राँची, दिल्ली और महाराष्ट्र के मस्जिद से मौलवियों के मिलने की खबर आई। अब इस सूची में लखनऊ का नाम भी जुड़ गया। खबर है कि यूपी की राजधानी के अमीनाबाद इलाके में डीएम के छापे के बाद इस खबर का खुलासा हुआ कि वहाँ के मरकजी मस्जिद में 6 विदेशी लोग रह रहे थे। जो किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के नागरिक हैं और भारत में एक धार्मिक जलसे में भाग लेने आए थे। सभी के पास वैध वीजा है।

जानकारी के अनुसार, खुफिया और एलआईयू की सूचना के बाद पुलिस प्रशासन की टीमों ने मस्जिद में छापा मारा। इस दौरान डीएम के साथ पुलिस कमिश्नर भी थे। पुलिस अधिकारियों ने इन विदेशी नागरिकों के मिलने के बाद इन्हें हिरासत में ले लिया है। इनसे पूछताछ की गई है और अब इनकी मेडिकल जाँच कराई जा रही है। तब तक इन्हें आइसोलेशन में रखा गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मड़ियाँव और काकोरी इलाके की मस्जिदों में भी कई विदेशी नागरिकों के रुके होने की खबर है। बताया जा रहा है मड़ियाँव में 17 बांग्लादेशी नागरिकों के रुके होने की सूचना है। जो टूरिस्ट वीजा पर यहाँ आए हैं।

गौरतलब है कि यूपी सरकार इस समय कोरोना को रोकने के लिए सख्ती से काम कर रही है। इसी दिशा में उन्होंने अफसरों को सख्त संदेश देते हुए कहा कि लॉकडाउन में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। दिल्ली की तबलिगी जमात में शामिल होकर उत्तर प्रदेश आए लोगों की तेजी से तलाश कर उन्हें क्वारंटीन किया जाए। जिससे संक्रमण का खतरा न फैले।

बता दें, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में विदेशी नागरिकों के शामिल होने का मामला सामने आने के बाद विभिन्न राज्यों की पुलिस सतर्क हो गई है। क्योंकि जमात में शामिल होने आए वे लोग लॉकडाउन के ऐलान के बाद अलग-अलग राज्यों की ओर चले पड़े थे। इसी कड़ी में यूपी पुलिस प्रशासन दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आयोजन में शामिल हुए लोगों की तलाश कर रहा हैं चूँकि उन्हें सूचना मिली थी कि तबलीगी जमात में लखनऊ के 20 लोग शामिल हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार पता चला है कि ये 20 लोग अभी तक लखनऊ नहीं लौटे हैं, ये अभी नई दिल्ली में ही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

4 साल में 4.5 करोड़ को मरवाया, हिटलर-स्टालिन से भी बड़ा तानाशाह: ओलंपिक में चीन के खिलाड़ियों ने पहना उसका बैज

जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक खेलों में चीन के दो खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक जीतने के बाद माओ का बैज पहने हुए देखा गया। विरोध शुरू।

12 गोलियों के निशान, सिर-छाती को भारी वाहन से कुचल लाश को घसीटा: दानिश सिद्दीकी के साथ तालिबानी बर्बरता की नई डिटेल

दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में तालिबान ने हत्या कर दी थी। मेडिकल रिपोर्ट और X-Ray से पता चला है कि उनके सिर एवं छाती को भारी वाहन से कुचला गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,708FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe